वाराणसी में बंग दर्शन ने किया बांग्ला नववर्ष का अभिनंदन

वाराणसी : मिनी बंगाल कहे जाने वाले बनारस में बांग्ला नव वर्ष की अगवानी में आयोजित एक कार्यक्रम में सांस्कृतिक मूल्य बोध के बीच सामाजिक सरोकारों से जुड़े मसलों की झलक दिखी। गीत-संगीत, कविता, नृत्य सब के केन्द्र में संवेदनशील सामाजिक मुद्दे और जमीन पर खटकर भी दो जून की रोटी न पाने की कशिश परिदृश्य में रही। 

बनारस में बांग्ला नव वर्ष की अगवानी में आयोजित कार्यक्रम की एक झलक