प्रेस काउंसिल चेयरमैन ने संपादकों और मीडिया मालिकों के नामांकन खारिज किया

IJU और NUJ के अध्यक्ष तथा 16 अन्य पत्रकारों का भी निरस्त…. चेयरमैन न्यायमूर्ति का ऐतिहासिक निर्णय

नई दिल्ली: एक बड़े ऐतिहासिक निर्णय में भारतीय प्रेस कांउसिल के चेयरमैन न्यायमूर्ति सी. के. प्रसाद ने (15 फरवरी 2018) संपादकों के तीनों मान्य संगठन द्धारा 13वीं कांउसिल हेतु नामित सभी व्यक्तियों को खारिज कर दिया। इनमें प्रकाश दुबें (नागपुर), उत्तमचन्द्र शर्मा (मुजफ्फरनगर) तथा रमेश गुप्त (नई दिल्ली) शामिल है। इसी भांति समाचार पत्र स्वामियों के तीनों संस्थाओं के मनोनयन को भी निरस्त कर दिया है। इनमे एच. एन. कामा तथा कुन्दनलाल व्यास हैं।

संपादकों ने घरेलू सेवक को प्रेस काउंसिल के लिये चुना, अध्यक्ष न्यायमूर्ति प्रसाद ने जांच बैठाई

नई दिल्ली: नामी गिरामी संपादकों ने एक निजी परिचारक को अपना प्रतिनिधि बनाकर तेरहवीं प्रेस काउंसिल हेतु नामित किया है। मीडिया जगत मे इस अजूबे को प्रेस काउंसिल के अध्यक्ष न्यायमूर्ति सी. के. प्रसाद ने जांच हेतु रोक लिया है। इन गरिष्ठ एवं वरिष्ठ प्रधान संपादकों में दि ट्रिब्यून के समूह संपादक तथा इण्डिया टुडे के पूर्व संपादक राज चेंगप्पा जो एडिटर्स गिल्ड के अध्यक्ष तथा उनके महासचिव एवं भास्कर (नागपुर) के संपादक प्रकाश दुबे भी हैं। इसमें आल इण्डिया न्यूजपेपर्स (AINEC) कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष रमेश गुप्ता तथा हिन्दी समाचार पत्र सम्मेलन के शीतला सिहं (फैजाबाद) भी हैं।