प्रसून शुक्ला के व्यक्तित्व के बारे में क्या कहा वैदिक, यशवंत, रुबी, विकास आदि ने, आप भी सुनिए…

पिछले दिनों न्यूज एक्सप्रेस चैनल के सीईओ और एडिटर इन चीफ प्रसून शुक्ला का सम्मान उनके गृह जनपद बस्ती में एक संगठन ‘बस्ती विकास मंच’ द्वारा किया गया. इस मौके पर दिल्ली से गए कई पत्रकारों ने प्रसून शुक्ला के जीवन, करियर और सोच को लेकर अपने अपने विचार व्यक्त किए. डा. वेद प्रताप वैदिक, योगेश मिश्र, यशवंत सिंह, रुबी अरुण, सुधीर सुधाकर, विकास झा, बृजमोहन सिंह आदि ने प्रसून की पर्सनाल्टी के विविध पक्षों को उकेरा.

इस पूरे आयोजन और सबके भाषण को आप इस वीडियो लिंक पर क्लिक करके देख सुन सकते हैं…

https://www.youtube.com/watch?v=IK7_UhVVRME

इस आयोजन के बारे में बस्ती के स्थानीय अखबारों में जो कुछ छपा है, उसकी कतरन उपर नीचे प्रकाशित है जिसे पढ़कर पूरे आयोजन के बारे में विस्तार से जाना जा सकता है….

इसे भी पढ़ सकते हैं…

तो, मैं अब चला अपने गांव, सबको राम राम राम….

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

रुबी अरुण के बाद अलका सक्सेना भी न्यूज एक्सप्रेस से जुड़ीं, मैनेजिंग एडिटर बनाई गईं

न्यूज एक्सप्रेस चैनल में दो बड़े पदों पर महिला पत्रकारों की तैनाती हो गई है. रुबी अरुण के बाद अलका सक्सेना भी चैनल का हिस्सा बन गई हैं. वरिष्ठ पत्रकार अलका सक्सेना को न्यूज एक्सप्रेस में मैनेजिंग एडिटर बनाया गया है. अलका एक नवंबर से आफिस ज्वाइन कर चुकी हैं. वे एडीटर इन चीफ प्रसून शुक्ला को रिपोर्ट करेंगी. अलका सक्सेना कई दशकों से प्रिंट और टेलीविजन पत्रकारिता में सक्रिय हैं. उन्होंने अपने करियर का काफी बड़ा हिस्सा जी न्यूज के साथ प्रमुख एंकर के रूप में गुजारा है.

वे एसपी सिंह की उस शुरुआती टेलीविजन टीम का हिस्सा रह चुकी हैं जिसने भारतीय टीवी पत्रकारिता को नई शैली प्रदान किया. अलका सक्सेना की नियुक्ति की पुष्टि चैनल के सीईओ प्रसून शुक्ला ने की. न्यूज एक्सप्रेस चैनल से विनोद कापड़ी के विदा होने के बाद कायाकल्प का दौर जारी है. पहले प्रसून शुक्ला को एडीटर इन चीफ और सीईओ नियुक्त किया गया. अब प्रसून ने अलका सक्सेना को चैनल का मैनेजिंग एडिटर नियुक्त किया है. वरिष्ठ पदों पर कई लोगों की नियुक्तियां हो चुकी है. अलका से पहले रूबी अरूण इनपुट एडिटर के रूप में चैनल का हिस्सा बन चुकी हैं. इस तरह न्यूज एक्सप्रेस में वरिष्ठ पदों पर दो महिला पत्रकारों की नियुक्ति एक सकारात्मक और प्रगतिशील कदम है.

एक अन्य सूचना भी है कि टीआरपी लाने में विफल रहने के बाद विदा हुए विनोद कापड़ी की जगह प्रसून शुक्ला के आते ही चैनल की टीआरपी में सुधार होने लगा है. कापड़ी के वक्त 1.6 टीआरपी हुआ करती थी. अब न्यूज एक्सप्रेस चैनल की टीआरपी सुधरकर 2.3 हो गई है. माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में चैनल फिर से अपनी पुरानी साख पा सकेगा.

अलका सक्सेना के बारे में ज्यादा जानकारी भड़ास में छपे उनके एक पुराने इंटरव्यू को पढ़ कर पा सकते हैं…

पोलिटिकली करेक्ट होने की परवाह नहीं करती

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: