हत्यारा ही नहीं, देशद्रोही भी है पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन

पटना के वरिष्ठ पत्रकार विनायक विजेता

Vinayak Vijeta : शहाबुद्दीन का सच… हत्यारा ही नहीं, देशद्रोही भी है पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन… 2001 में रची थी तहलका के तत्कालीन संपादक और रिपोर्टर की हत्या की साजिश… वर्ष 2002 में पटना से प्रकाशित एक हिन्दी मासिक के संपादक कुणाल एवं वर्ष 2016 में सिवान के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या सहित 45 संगीन मामलों में आरोपित पूर्व बाहुबली सांसद के सिर पर सिर्फ हत्याओं का ही ठीकरा नहीं बल्कि वो देशद्रोही भी है।