अजराड़ा घराने के उस्ताद को संतूर शिरोमणि भजन सोपोरी ने यूं दी श्रद्धांजलि (देखें वीडियोज)

Yashwant Singh : क्या ग़ज़ब बजाते हैं भजन सोपोरी. इस संतूर उस्ताद को पहली बार लाइव देखा सुना. मेरठ के आरजी कालेज आडिटोरियम में आयोजित एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शिरकत करने आए पंडित भजन सोपोरी को देखकर लग नहीं रहा था कि यह शख्स सन 1948 की पैदाइश है. वही चेहरा मोहरा और अंदाज जो उन्हें हम लोग तस्वीरों-वीडियोज में देखते-सुनते आए हैं. इस आयोजन में मैं अपने सीनियर रहे आदरणीय Shrikant Asthana सर के साथ पहुंचा था.

जिस जाने-माने तबला वादक उस्ताद हशमत अली खान साहब (अजराड़ा घराना) के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शिरकत करने पंडित भजन सोपोरी मेरठ आए थे, उनके यशस्वी बेटे उस्ताद अकरम खान एक तरफ तबला संभाले थे तो दूसरी तरफ पखावज पर सोपोरी की टीम के ही ऋषि उपाध्याय थे. संतूर साधक ने दोनों को उड़ने का मौका दिया, दोनों के साथ एक-एक कर तो कभी साथ-साथ संगीत की साधना को दिल निकाल कर दिखाया. पिता स्वर्गीय हशमत अली खान को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मशहूर ताबलिक उस्ताद अकरम खान ने राग किरमानी के साथ तबला प्रस्तुति दी. राग किरमानी के मध्यम ताल पर तबला, संतूर और पखावज की जुगलबंदी हुई.

अजराड़ा घराने के अंतरराष्ट्रीय तबला वादक स्वर्गीय उस्ताद हशमत अली खान की स्मृति में आयोजित संगीत संध्या का शुभारंभ तबला एकेडमी आफ अजराड़ा घराने के सप्तक शर्मा, आशुतोष, हफीज खान, रामान खान व अकरम खान ने किया. मंच से दूर बैठे होने के कारण रिकार्डिंग ज्यादा साफ भले न हो लेकिन आवाज चौचक है. आनंद लीजिए, धैर्य के साथ…. वीडियो लिंक ये हैं :

भजन सोपोरी के संतूर पर खूब भिड़े तबला और पखावज https://youtu.be/mUb20T1ViMw

संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी Live Show https://youtu.be/p1Kos5ndB6E

भड़ास के एडिटर यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

नापतोल.कॉम के फर्जी मैनेजर ने वरिष्ठ पत्रकार श्रीकांत अस्थाना की पत्नी को ठगने की कोशिश की

Shrikant Asthana : वेब खरीददारी भी आपको ठगों के जाल में फंसा सकती है। विभिन्न साइटों पर खरीदारी करने में दिया गया फोन नंबर ठगी के रैकेटों के हाथ पड़ जाते हैं और वे आपको फोन करके बताते हैं कि आपका यह इनाम निकला है। इसे हासिल करने के लिए आप अमुक खाते में इतनी रकम जमा करायें तो ईनाम आपको भेजा जाए। ऐसे ही एक ठग ने आज सुबह श्रीमती सुष्मिता को नापतोल.कॉम का मैनेजर बताते हुए किया।

अपना नाम उमेश वर्मा बताने वाले इस व्यक्ति ने 07631994793 से काल करते हुए इनकी एक खरीदारी का जिक्र करते हुए लकी ड्रा में 12,80,000 मूल्य की कार निकलने और उसे पाने के लिए रजिस्ट्रेशन फीस के 6500 रुपये स्टेट बैंक के खाते में जमा कराने की बात कही।

श्रीमती सुष्मिता ने इस फोन के बाद नापतोल.कॉम पर बात की तो पता चला न ऐसा कोई व्यक्ति वहां है न ही कोई ऐसा ड्रा हुआ है। बाद में ठग को फोन कर और जानकारी चाही गई और सवाल किए गये तो वह गाली-गलौज पर उतर आया। इस घटना की जानकारी मेरठ पुलिस के साइबर सेल को दे दी गई है। ठगी के ऐसे प्रयास पर पुलिस कार्रवाई का अब इंतजार है।

मेरठ में रहने वाले और कई अखबारों में संपादक के तौर पर कार्य कर चुके वरिष्ठ पत्रकार श्रीकांत अस्थाना की एफबी वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: