अजीत डोभाल जैसों को ‘डी कंपनी’ कहने वालों की मानसिकता समझें : सुशील बहुगुणा

Sushil Bahuguna : राइट-लेफ़्ट के झगड़े में फैक्ट की मौत और पत्रकारिता में सियासत का घालमेल… इस सियासी अंधाधुंध में गर्दो गुबार इतना फैल गया है कि सत्य और तथ्य उसमें खोते जा रहे हैं. आरोप लगाने की जल्दबाज़ी और हिसाब चुकता करने की बेसब्री में कोई भी इन तथ्यों की पड़ताल करने की ज़हमत …