एबीपी न्यूज नंबर चार पर लुढ़का, न्यूज नेशन समेत कई चैनलों की टीआरपी बढ़ी

18वें हफ्ते के टीआरपी आंकड़ों में एबीपी न्यूज नंबर चार पर लुढ़का दिख रहा है. जी न्यूज तीसरे नंबर पर है. इस हफ्ते न्यूज18 इंडिया, न्यूज नेशन, इंडिया न्यूज की टीआरपी में वृद्धि हुई है. एनडीटवी दसवें पायदान पर धड़ाम हुआ पड़ा है. वहीं आजतक की टीआरपी में न बढ़ी है न घटी है लेकिन वह नंबर वन पर मौजूद है. देखें आंकड़ें…

‘इंडिया न्यूज’ से प्रतिबंध हटा, नंबर पांच पर पहुंचा, ‘एबीपी न्यूज’ ने ‘इंडिया टीवी’ को धक्का दिया

अपनी गलत हरकतों के कारण कई हफ्तों से टीआरपी प्रतिबंध झेल रहा इंडिया न्यूज इस हफ्ते जब तय अवधि के बाद प्रतिबंध मुक्त हुआ तो सीधे नंबर पांच पर पहुंचा. इस कारण बाकी सभी चैनलों की टीआरपी में भारी गिरावट आई है. सबसे ज्यादा आजतक की टीआरपी गिरी है, पूरे दो अंक. एबीपी न्यूज डेढ़ अंक और इंडिया टीवी 1.8 अंक नीचे गिरा. एबीपी न्यूज ने अपनी बहुप्रतीक्षित नंबर दो की कुर्सी हासिल कर ली है, इंडिया टीवी को धक्के मार कर नंबर तीन पर कर दिया है. देखें बार्क के 49वें हफ्ते के आंकड़े…

42वें हफ्ते की टीआरपी : 22+ कैटगरी में इंडिया टीवी नंबर वन, इंडिया न्यूज चौथे नंबर पर

टीआरपी के दो आंकड़े आमतौर पर जारी किए जाते हैं. पहला जो 15+ कैटगरी का होता है उसे ही आमतौर पर टीआरपी का आंकड़ा कहा जाता है. दूसरा 22+ का होता है. इनके अलावा भी ढेर सारे कैटगरी होते हैं जिसमें टाइम, उम्र आदि के हिसाब से आए टीआरपी आंकड़े को चैनल वाले अपने अपने सुविधा के हिसाब से उद्धृत कर खुद को नबर वन बताते रहते हैं. 42वें हफ्ते की बात करें तो बार्क के सामान्य यानि 15+ के आंकड़ों में पहले के मुकाबले ज्यादा बदलाव नहीं है. आजतक नंबर वन पर है. इंडिया टीवी नंबर दो पर है. इंडिया न्यूज नंबर तीन पर है. जी न्यूज नंबर चार पर है. एबीपी न्यूज नंबर पांच पर है.

टीआरपी वालों ने एनडीटीवी को टॉप 10 से बाहर कर दिया!

41वें हफ्ते की टीआरपी में एनडीटीवी टॉप टेन हिंदी न्यूज चैनल्स की लिस्ट से बाहर हो गया है. उससे ज्यादा टीआरपी डीडी न्यूज और तेज नामक चैनलों की दर्शाई गई है. बार्क के टीआरपी आंकड़े बताते हैं कि एनडीटीवी किसी लायक चैनल नहीं है. लेकिन इसके उलट हकीकत में एनडीटीवी देश के बहुत बड़े तबके का पसंदीदा न्यूज चैनल है. हालांकि ये भी सच है कि एनडीटीवी के लोग टीआरपी के लिए कार्यक्रम नहीं बनाते. वह अपने कार्यक्रम संपादकीय समझ और जन सरोकार को ध्यान में रखकर दिखाते हैं. जबकि दूसरे न्यूज चैनल्स की प्रियारिटी किसी तरह टीआरपी रेस में आने की होती है जिसके लिए वह किसी भी किस्म का न्यूज / नान न्यूज परोसने के लिए तत्पर रहते हैं.

इंडिया टीवी, इंडिया न्यूज, न्यूज24 और आईबीएन7 फायदे में, सर्वाधिक नुकसान आजतक को

40वें हफ्ते की टीआरपी में सबसे ज्यादा नुकसान आजतक को दिख रहा है. बावजूद इसके, यह चैनल अब भी नंबर वन पर है. सबसे ज्यादा फायदा इंडिया टीवी और इंडिया न्यूज को हुआ है. इस हफ्ते न्यूज24 और आईबीएन7 ने भी बढ़त ली है. इंडिया न्यूज काफी हद तक इंडिया टीवी के करीब पहुंच गया है. जी न्यूज नंबर चार पर है लेकिन थोड़े ही फासले से एबीपी न्यूज नंबर चार पर है. न्यूज24 अब न्यूज नेशन से आगे निकल गया है. आने वाले हफ्तों में कई चैनलों की रैंकिंग में बदलाव दिख सकता है. देखिए आंकड़े..

इंडिया न्यूज के बाद न्यूज नेशन से भी मात खा गया एबीपी न्यूज!

28वें हफ्ते की बार्क की टीआरपी के आंकड़े (TG: CSAB Male 22+) बताते हैं कि एबीपी न्यूज तो इंडिया न्यूज के बाद न्यूज नेशन से भी मात खा गया है. हालांकि TG:CS15+ के आंकड़े में एबीपी न्यूज अभी न्यूज नेशन से पिटने से बचा है लेकिन एबीपी न्यूज के पतन की जो रफ्तार है उससे यही संकेत मिल रहा है कि यह चर्चित व प्रतिष्ठित चैनल कहीं TG:CS15+ आंकड़े में भी न्यूज नेशन से पिट न जाए.

26वें हफ्ते की टीआरपी : मामूली अंतर से इंडिया टीवी अब भी बना हुआ है नंबर वन

इस साल के 26वें हफ्ते की टीआरपी में भी इंडिया टीवी मामूली अंतर से नंबर वन बना हुआ है. वह पिछले हफ्ते भी थोड़ से अंतर से नंबर वन था. हमेशा नंबर वन रहने वाले आजतक को नंबर दो की पोजीशन पर ही संतोष करना पड़ रहा है. बाकी चैनलों में भी कोई खास उठापटक नहीं है. ज्यादातर की टीआरपी पिछले हफ्ते वाली ही है. देखिए सारे आंकड़े….

यूपी उत्तराखंड में लगातार तीन हफ्ते से ईटीवी बना हुआ है नंबर वन

रीजनल न्यूज चैनलों में ईटीवी का जलवा कायम है. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड समेत कई प्रदेशों में यह चैनल नंबर वन रीजनल न्यूज चैनल बना हुआ है. बार्क द्वारा जारी 26वें हफ्ते की टीआरपी रेटिंग से पता चलता है कि यूपी यूके में ईटीवी नंबर एक की पोजीशन पर बना हुआ है और इस तरह लगातार तीन हफ्तों से यह चैनल नंबर वन है. ईटीवी चैनल के ग्रुप हेड जगदीश चंद्रा हैं. ईटीवी यूपी के संपादक ब्रजेश मिश्र हैं जबकि उत्तराखंड के संपादक पवन लालचंद हैं.

मामूली अंतर से इंडिया टीवी फिर बना नंबर वन, जी न्यूज को सर्वाधिक फायदा

25वें हफ्ते की बार्क की रेटिंग में भारी उलटफेर…. अगर सबसे ज्यादा टीआरपी वाइज किसी को फायदा हुआ है तो वो है ‘जी न्यूज’ चैनल. टीआरपी में पूरे 1.2 अंक की उछाल है बावजूद इसके यह चैनल अब भी छठें नंबर पर विराजमान है. इंडिया टीवी की टीआरपी गिरी है लेकिन वह फिर भी नंबर वन इसलिए हो गया क्योंकि उसके मुकाबले आजतक की टीआरपी बहुत ज्यादा गिरी है. कुल 1.6 का नुकसान झेलकर आजतक धड़ाम से नंबर दो पर गिरा और टीआरपी में मामूली घटाव के बावजूद इंडिया टीवी नंबर वन बन गया.

न्यूज24 के बाद आईबीएन7 से भी पिट गया जी न्यूज, पहुंचा आठवें स्थान पर

जी न्यूज का पतन ऐतिहासिक है. नंबर तीन से नंबर आठ पर पहुंचने की यह यात्रा मीडिया के विद्यार्थियों के लिए शोध का विषय है. बार्क की 22वें हफ्ते की टीआरपी के मुताबिक जी न्यूज अब आईबीएन7 से भी पिट गया है. आईबीएन7 अब वाकई 7वें स्थान पर पहुंच गया है तो जी न्यूज घिसट कर आठवें स्थान पर आ गया है. नंबर एक पर आजतक का जलवा कायम है. इंडिया टीवी नंबर दो पर है. एबीपी न्यूज नंबर तीन. चौथे पोजीशन पर कई हफ्ते से इंडिया न्यूज है. न्यूज नेशन पांचवें नंबर पर है. न्यूज24 ने छठें नंबर पर छलांग लगा दी है. टीआरपी के सारे आंकड़े नीचे दिए जा रहे हैं…

लग रहा है इंडिया टीवी तो परमानेंट नंबर वन हो गया, आजतक गहरे संकट में

मोदी राज में कुछ हुआ हो या न हुआ हो, इंडिया टीवी के परमानेंट अच्छे दिन जरूर आ गए हैं. टीआरपी में यह चैनल न सिर्फ लगातार नंबर वन पर है बल्कि आजतक से फासला भी बढ़ाता जा रहा है. आजतक टीआरपी की इस मार से परेशान होकर अपने अंदरखाने कई किस्म के बदलाव भी कर रहा है. सुप्रिय प्रसाद और राहुल कंवल की जिम्मेदारियां बढ़ाई गई हैं. संजीव पालीवाल को लाया गया है. एसआईटी टीम में कई बड़े नामों को जोड़ कर इसे मजबूत बनाया गया है.

इंडिया न्यूज और न्यूज नेशन ने जी न्यूज को पानी पिला रखा है

: 13वें हफ्ते की टीआरपी : कई हफ्तों से तीसरे नंबर से भी खिसके हुए एबीपी न्यूज चैनल ने अब फिर से अपनी तीन नंबर की कुर्सी हासिल कर ली है. इंडिया न्यूज का पतन शुरू हो गया है और वह अब तीन से चार नंबर पर चला आया है. उधर, जी न्यूज के बुरे दिन जारी हैं. कभी यह दो नंबर का चैनल था. फिर तीन नंबर पर पहुंचा. फिर चौथे पोजीशन पर संतोष करना पड़ा. अब तो यह छठवें नंबर का चैनल हो गया है.

‘इंडिया न्यूज’ की लंबी छलांग, ‘जी न्यूज’ और ‘न्यूज नेशन’ को पछाड़ते हुए खुद को ‘एबीपी न्यूज’ के बराबर खड़ा किया

इस साल के दसवें हफ्ते की हिंदी न्यूज चैनलों की टीआरपी में बड़ा उलटफेर इंडिया न्यूज ने किया है. इसने जी न्यूज और न्यूज नेशन को पछाड़ते हुए खुद को एबीपी न्यूज के बराबर कर लिया है और इस प्रकार तीसरे स्थान पर कब्जा किया है. एबीपी न्यूज भी तीसरे स्थान पर है क्योंकि उसकी भी टीआरपी इंडिया न्यूज के बराबर है. आजतक नंबर वन पर है लेकिन पूरे एक अंक का नुकसान टीआरपी में उठाना पड़ा है. आईबीएन7 की टीआरपी दसवें हफ्ते बढ़ी है लेकिन यह अब भी न्यूज24 के काफी नीचे है. टीआरपी के आंकड़े इस प्रकार है….

जी न्यूज और इंडिया न्यूज लुढ़का, इंडिया टीवी को सर्वाधिक फायदा

इस साल के नौवें हफ्ते की टीआरपी से पता चलता है कि जी न्यूज और इंडिया न्यूज लुढ़क गए हैं. सबसे ज्यादा नुकसान जी न्यूज का हुआ है जिसने 1.6 अंक खोकर चौथे स्थान पर आ गया है. इंडिया न्यूज को छठें स्थान पर गिरकर संतोष करना पड़ा है. न्यूज नेशन ने पांचवें पोजीशन पर कब्जा जमा लिया है.

Television ratings of BARC

Broadcast Audience Research Council India

Welcome to BARC India

Promoted by three industry associations, to develop a reliable television audience measurement system for India. Broadcast Audience Research is a puzzle that has vexed broadcasters, advertisers, and advertising and media agencies in India for decades. A country with an estimated television audience of 153 million homes and growing, need to have credible information about television viewing habits.

साल के दूसरे हफ्ते में न्यूज24 और इंडिया न्यूज को सर्वाधिक फायदा, सबसे बुरा हाल जी न्यूज का

इस साल के दूसरे हफ्ते के दौरान टीआरपी के मामले में सबसे ज्यादा फायदे में न्यूज24 रहा. इसके बाद इंडिया न्यूज ने अच्छी छलांग लगाई है. सबसे बुरे हाल में अगर कोई चैनल है तो वो है जी न्यूज. यह छठवें स्थान पर लुढ़कर कर आ चुका है. इंडिया न्यूज ने 1.4 का फायदा लेकर अपनी टीआरपी को जी न्यूज और न्यूज नेशन से आगे निकाल लिया है. इस कारण इंडिया न्यूज अब चौथे पोजीशन पर पहुंच गया है. न्यूज नेशन लुढ़क कर पांचवें और जी न्यूज छठें स्थान पर है.

बड़ा उलटफेर : न्यूज नेशन ने एबीपी न्यूज को पछाड़कर नंबर तीन की पोजीशन पर कब्जा किया

बीते साल के आखिरी हफ्ते की टीआरपी में बड़ा उलटफेर हुआ है. न्यूज नेशन पहली बार नंबर तीन की पोजीशन पर जा पहुंचा है. इस कारण एबीपी न्यूज को नंबर चार पर खिसक कर संतोष करना पड़ा है. जानकारों का कहना है कि न्यूज नेशन ने डिस्ट्रीब्यूशन के लगभग सभी माध्यमों पर खुद को प्रमुखता से प्रोजेक्ट किया हुआ है और इस काम में काफी पैसा बहाया है जिससे उसकी टीआरपी हमेशा ठीकठाक आती है.

आजतक और न्यूज24 को फायदा, इंडिया न्यूज व जी न्यूज को तगड़ा झटका

साल के 51वें हफ्ते की टीआरपी से पता चलता है कि दो न्यूज चैनलों ने जबरदस्त फायदा पाया है. ये हैं आजतक और न्यूज24. दोनों को टीआरपी में 1.1 की उछाल मिली है. वहीं नुकसान की बात करें तो इंडिया न्यूज और जी न्यूज सबसे ज्यादा घाटे में रहे. टीआरपी में इंडिया न्यूज को कुल 1.8 और जी न्यूज को 1.3 का पतन झेलना पड़ा. इस गिरावट के कारण इंडिया न्यूज फिर से न्यूज नेशन से पिछड़ कर पांचवें पोजीशन से छठें पोजीशन पर आ गिरा है.

इंडिया न्यूज, जी न्यूज और इंडिया टीवी की लंबी छलांग, न्यूज नेशन और न्यूज24 का तगड़ा नुकसान

देखें इस साल के पचासवें हफ्ते की टीआरपी… इसमें सबसे ज्यादा फायदा इंडिया न्यूज को हुआ है. इसने न्यूज नेशन को पछाड़ कर पांचवां पोजीशन हासिल कर लिया है. इंडिया टीवी नंबर दो पर और जी न्यूज नंबर चार पर आ गया है. एबीपी न्यूज नंबर तीन पर है. आंकड़े इस प्रकार हैं…

आईबीएन7 को सबसे ज्यादा फायदा, इंडिया टीवी को सर्वाधिक नुकसान

49वें हफ्ते की टीआरपी के मुताबिक सबसे ज्यादा नुकसान इंडिया टीवी को हुआ है. पूरे डेढ़ अंक नीचे गिरे हैं. बावजूद इसके चैनल नंबर दो पर बना हुआ है. फायदे की बात करें तो आईबीएन7 को सबसे ज्यादा उछाल मिला है, पूरे 1.1 का. इस तरह चैनल की टीआरपी अब सात हो चुकी है. तब …

आजतक नंबर एक, जी न्यूज ने लगाई छलांग, एबीपी न्यूज और न्यूज24 को सर्वाधिक नुकसान

46वें हफ्ते की बार्क की टीआरपी में सबसे ज्यादा नुकसान एबीपी न्यूज और न्यूज24 को हुआ है. इनकी टीआरपी बहुत ज्यादा गिरी है. एबीपी न्यूज ने 2.6 अंक टीआरपी के खोए हैं. वहीं न्यूज24 ने 1.3 का नुकसान सहा है. एबीपी न्यूज नंबर चार पर लुढ़क गया है. आजतक और इंडिया टीवी की टीआरपी बढ़ी है. आजतक अपनी पहले वाली नंबर एक की पोजीशन पर पहुंच चुका है और इंडिया टीवी नंबर दो पर है. जी न्यूज ने सबसे ज्यादा फायदा कमाया है और नंबर तीन पर पहुंच गया है. देखें 46वें हफ्ते की टीआरपी….

चुनाव नतीजों के दिन एबीपी न्यूज़ बना नंबर वन न्यूज़ चैनल

नई दिल्ली : बिहार चुनाव नतीजों के दिन यानी 8 नवंबर को एबीपी न्यूज़ व्यूअरशिप के मामले में देश का नंबर वन न्यूज़ चैनल रहा. BARC के मुताबिक एबीपी न्यूज़ का मार्केट शेयर 19 फीसदी रहा और इस मुकाम को कोई भी हिंदी न्यूज़ चैनल छू नहीं सका. 17 फीसदी मार्केट शेयर के साध आजतक दूसरे स्थान पर रहा तो 12 फीसदी मार्केट शेयर के साथ इंडिया टीवी तीसरे पायदान पर रहा.

44वें हफ्ते में भी इंडिया टीवी नंबर वन पोजीशन पर

इस साल के 44वें हफ्ते में भी इंडिया टीवी नंबर वन की पोजीशन पर मौजूद है. इस चैनल ने आजतक से अपना फासला पूरे एक अंक का बढ़ाया है. नंबर तीन पर एबीपी न्यूज है. चार पर न्यूज नेशन विराजमान है. न्यूज नेशन 1.3 अंक के नुकसान के बावजूद नंबर चार की कुर्सी बचाए हुए है. पांच पर जी न्यूज है. छठें पोजीशन पर न्यूज24 है. इंडिया न्यूज सातवें पोजीशन पर लटक गया है. देखें टीआरपी के आंकड़े…

इंडिया टीवी फिर बना नंबर वन, न्यूज नेशन और न्यूज24 भी उछले

42वें हफ्ते की नेशनल हिंदी न्यूज चैनलों की टीआरपी देखने से पता चलता है कि इंडिया टीवी फिर से नंबर एक पर पहुंच गया है. आजतक को दो नंबर पर संतोष करना पड़ रहा है. एबीपी न्यूज नंबर तीन पर है. चौथे नंबर से खिसक कर जी न्यूज पांचवें पर चला गया है और चौथे नंबर पर आ गया है न्यूज नेशन. उछाल की बात करें तो न्यूज नेशन की तरह न्यूज24 ने भी छलांग लगाई है. इसने इंडिया न्यूज को पछाड़ कर छठें नंबर पर कब्जा किया है. इंडिया न्यूज को सातवें नंबर पर जाकर संतोष करना पड़ रहा है.

टाइम स्पेंट के लिहाज से दूरदर्शन है सबसे ज्यादा देखे जाने वाला हिंदी चैनल!

सार्वजनिक प्रसारक दूरदर्शन का दावा है कि अगर हर चैनल पर दर्शकों के खर्च किए गए समय का आकलन किया जाए तो वह सबसे ज्यादा देखे जाने वाले हिंदी चैनल है। दूरदर्शन ने बयान जारी करते हुए कहा है कि ब्रॉडकास्ट ऑडियेंस रिसर्च काउंसिल (बीएआरसी) ने पहली बार दीर्घप्रतीक्षित अखिल भारतीय दर्शक डाटा जारी किया है जिसमें यह ‘ऐतिहासिक विकास’ हुआ है। जारी किए गए वक्तव्य के मुताबिक ‘बीएआरसी रेटिंग क अनुसार सप्ताह 41 में नेटवर्क के मुख्य चैनल डीडी नेशनल ने 51 मिनट का प्रति दर्शक व्यतीत औसत समय दर्ज कराया है जो हिंदी जीईसी में सर्वाधिक हे।’

टीआरपी : 41वां सप्ताह : आजतक फिर नंबर वन, एनडीटीवी ठिकाने लगा, न्यूज नेशन ने जी न्यूज को पीटा

41वें सप्ताह की टीआरपी में कई उलटफेर देखने को मिल रहे हैं. आजतक लगातार पिट रहा था लेकिन अबकी वह फिर नंबर एक पर आ गया है, लेकिन बहुत थोड़े ही फासले से. नंबर एक आजतक और नंबर दो इंडिया टीवी के बीच बस 0.4 का फासला है. जी न्यूज नंबर दो पर हुआ करता था लेकिन यह ऐसा नीचे गिरा कि सीधे पांचवें पोजीशन पर जाकर रुका.

इंडिया टीवी और जी न्यूज के अच्छे दिन आ गए, टीआरपी में एक हुआ नंबर वन, दूसरा दो नंबर पर

नरेंद्र मोदी की सरकार आते ही अच्छे दिन भले किसी के आए हों या न आए हों, इंडिया टीवी और जी न्यूज के तो आ ही गए. दिन रात मोदी भक्ति में लीन इन न्यूज चैनलों की टीआरपी ने इन्हें क्रमश: नंबर एक और नंबर दो का पायदान दिला ही दिया. पिछले कई हफ्तों से ये दोनों चैनल नंबर एक या दो पर हैं. आजतक जो हमेशा नंबर वन होने का दावा करता रहता है, इन दिनों नंबर तीन पर सांसें ले रहा है. आजतक के लिए ये बहुत बड़ा झटका है.

जी न्यूज और आजतक दोनों बने नंबर वन, आईबीएन7 ने इंडिया न्यूज और न्यूज24 दोनों को पछाड़ा

39वें हफ्ते की टीआरपी में कई बड़े उतार चढ़ाव देखने को मिल रहे हैं. जी न्यूज ने नंबर वन की पदवी हासिल की है. हालांकि आजतक भी जी न्यूज के ही बराबर है पर दोनों का नंबर वन पद पर संयुक्त दावा बड़ा संकेत है. आजतक की गिरती टीआरपी के कारण कोई भी चैनल उसका नंबर वन का स्थान हासिल कर ले रहा है. उधर, एक बड़ा कमाल आईबीएन7 ने किया है. इस चैनल ने न्यूज24 और इंडिया न्यूज, दोनों को पछाड़ते हुए आश्चर्यजनक रूप से लंबी छलांग लगाई है. चैनलों की टीआरपी लिस्ट इस प्रकार है…

इंडिया टीवी नंबर वन की गद्दी पर कायम, आजतक का लुढ़कना जारी, जी न्यूज अब भी एबीपी न्यूज से है आगे

हिंदी न्यूज चैनलों की टीआरपी रेटिंग में उथलपुथल कायम है. इंडिया टीवी लगातार नंबर वन न सिर्फ बना हुआ है बल्कि उसने नंबर दो आजतक से फासला काफी बढ़ा लिया है. इसी तरह जी न्यूज ने नंबर तीन की गद्दी से एबीपी न्यूज को खदेड़ रखा है. उधर, न्यूज नेशन ने इंडिया न्यूज को पछाड़कर नंबर पांच की कुर्सी हथिया ली है. न्यूज24 की टीआरपी गिरी है लेकिन यह आईबीएन7 से अब भी आगे है. देखें 38वें हफ्ते का टीआरपी चार्ट…

37वें हफ्ते की टीआरपी : आंकड़ों में उलटफेर जारी, आजतक नंबर तीन पर गिरा

37वें हफ्ते की टीआरपी में अलग अलग कैटगरी में अलग अलग आंकड़ें हैं. किसी में आजतक नंबर वन पर है तो किसी में नंबर तीन पर. कहीं जी न्यूज नंबर दो पर है तो कहीं चार पर. नीचे के सारे आंकड़े देखिए और खुद एनालाइज करिए. पर जो 15+ के आंकड़े हैं, जिसे ही आधार मानकर टीआरपी एनालाइज किया जाता है, उसमें इंडिया टीवी नंबर वन पर है. जी न्यूज नंबर दो पर. आजतक को तीसरे नंबर पर संतोष करना पड़ा है. इसके पहले वाले हफ्ते जी न्यूज नंबर एक पर था. वहीं एबीपी न्यूज खिसक कर नंबर चार पर पहुंच गया है. इंडिया न्यूज की टीआरपी गिरी है लेकिन वह न्यूज नेशन से अब भी आगे है.