यूपी, उत्तराखंड, राजस्थान, बिहार और झारखंड में ईटीवी लगातार बना हुआ है नंबर वन

24वें हफ्ते की बार्क की टीआरपी में रीजनल न्यूज चैनलों की बात करें तो ईटीवी का जलवा लगातार कायम है. चाहें राजस्थान हो या यूपी या फिर उत्तराखंड, बिहार हो या झारखंड, हर जगह ईटीवी नंबर वन पर है. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की बात करें तो ईटीवी नंबर वन पर है जबकि न्यूज स्टेट नंबर दो पर है.

Television ratings of BARC

Broadcast Audience Research Council India

Welcome to BARC India

Promoted by three industry associations, to develop a reliable television audience measurement system for India. Broadcast Audience Research is a puzzle that has vexed broadcasters, advertisers, and advertising and media agencies in India for decades. A country with an estimated television audience of 153 million homes and growing, need to have credible information about television viewing habits.

‘ज़ी संगम’ के नए नाम से नेशनल होने से यूपी-यूके रीजनल चैनलों की टीआरपी लिस्ट में उलटफेर, ईटीवी नंबर एक और न्यूज़ स्टेट दूसरे पायदान पर

44वें हफ्ते की यूपी उत्तराखंड के रीजनल हिंदी न्यूज चैनलों की टीआरपी में कई उठापटक देखने को मिल रहा है. लंबे समय से नंबर एक या दो की पोज़ीशन पर डटे हुए ‘ज़ी संगम’ चैनल ने खुद को नेशनल बना लिया है, अपना नाम बदल कर ‘इंडिया 24X7’ करके. इस तरह वो क्षेत्रीय चैनलों की TRP लिस्ट से बाहर हो गया है. इस से ‘ज़ी संगम’ के प्रतिद्वन्दी चैनलों ने राहत की साँस ली है.

यूपी-उत्तराखंड में ईटीवी बना नंबर वन, जी संगम नंबर दो पर पहुंचा

इस साल के 42वें हफ्ते की टीआरपी के अनुसार यूपी और उत्तराखंड में ईटीवी नंबर वन हो गया है. इस चैनल का पूरे मार्केट पर 33 प्रतिशत कब्जा है. वहीं पिछली दफे नंबर वन पर रहने वाले जी संगम को नंबर दो पर खिसक कर संतोष करना पड़ रहा है. जी संगम का मार्केट शेयर 29 प्रतिशत है. समाचार प्लस तीसरे, न्यूज स्टेट चौथे और इंडिया न्यूज पांचवें स्थान पर हैं.

यूपी उत्तराखंड : जी संगम नंबर 1, ईटीवी नंबर 2, न्यूज स्टेट नंबर 3 पर, समाचार प्लस गया गर्त में

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के रीजनल न्यूज चैनलों की बात करें तो 40वें हफ्ते की टीआरपी के हिसाब से जी संगम नंबर एक पर है. कुल 37 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ यह चैनल ईटीवी से आगे निकल गया है. बताया जाता है कि ईटीवी डीडी डायरेक्ट डीटीएच पर नहीं है, जी संगम इस बड़े प्लेटफार्म पर मौजूद है जिसके कारण जी संगम को काफी फायदा मिला और वह टीआरपी में नंबर वन बन गया है.

रजनीगंधा गुटखा वालों का चैनल ‘समाचार प्लस’ डूबते हुए चार पर अटका, जी संगम नंबर एक और ईटीवी नंबर दो पर

ताजा टीआरपी आ गई है। टैम के 30वें सप्ताह के आंकड़ों में यूपी उत्तराखंड के रीजनल चैनलों में जी संगम फिर से नंबर वन रहा है। उसे पिछले सप्ताह के मुकाबले 356 अंकों का फायदा हुआ है। पिछले कई दिनों से लगातार अपनी पोजिशन सुधार रहे ईटीवी न्यूज18 ने एक स्थान की छलांग लगाई है और वो दूसरे नंबर पर आ गया है। सबसे बुरा प्रदर्शन NN न्यूज स्टेट चैनल का रहा है जिसने पिछले सप्ताह के मुकाबले 363 प्वाइंट्स का नुकसान झेला है।

रीजनल न्यूज चैनलों की टीआरपी : यूपी में ‘जी संगम’ और राजस्थान में ‘ईटीवी’ नंबर वन

उत्तर प्रदेश और राजस्थान में रीजनल न्यूज चैनलों की टीआरपी के जो ताजा आंकड़े आए हैं उससे पता चलता है कि नंबर वन पोजीशन पर उत्तर प्रदेश में जी संगम है. नंबर दो पर न्यूज नेशन यूपी चैनल है. नंबर तीन पर ईटीवी है. उधर, राजस्थान में नंबर एक पर ईटीवी है और नंबर दो पर इंडिया न्यूज राजस्थान चैनल है. आंकड़ों का ग्राफ इस प्रकार है:

मीडिया की टीआरपी भूख ने ”निर्लज्जाओं” को ”मर्दानी” में तब्दील कर दिया…

Atul Kumar Agarwal : हरियाणा के लोगो से निवेदन है की इन लड़कियों से सावधान रहें… ये मर्दानी नहीं बल्कि निर्लज्जा हैं… किसी भी लड़के से भीड़ में बहस करना और फिर उस पर हाथ उठाना इनका पेशा है। जिन तीन सेना के लड़कों पर इन्होंने हाथ उठाया, उनमें से एक ही काफी था इन दोनों निर्लज्ज लड़कियो के लिए… लेकिन फिर भी उन तीनों ने इन अबला लड़कियों पर हाथ न उठाकर इनका सम्मान किया और इन्होंने उनके ऊपर झूठे आरोप लगाये जबकि उसी बस की एक बुजुर्ग महिला ने बयान दिया की इन लड़कियों ने ही झगड़ा शुरू किया था, कोई छेड़छाड़ नहीं हुयी… इन लड़कियो ने पहले भी एक लड़के पर हमला किया था और उसकी वीडियो बनायी थी… मतलब ये लड़कियां हमेशा कैमरा साथ लेकर चलती हैं… और वीडियो बनाकर लोगों को ब्लैकमेल करती हैं… कुलदीप, दीपक और मोहित का चयन भारतीय सेना में हुआ था. कुलदीप 5 बहनों का इकलौता भाई है… दीपक के माँ बाप अक्सर बीमार रहते हैं…और मोहित बहुत ही गरीब माँ बाप का बेटा है… इन लड़कों का सेना में चयन इनके माँ बाप के लिए किसी वरदान से कम न था. लेकिन इन दो निर्लज्ज लड़कियों ने अपनी कुटिल चाल से सबकी ज़िन्दगी तबाह कर दी…. आज जरूरत है ऐसी तथाकथित मर्दानियों को सबक सिखाने की… जब लोमड़ी शेर को बार बार ललकारे तो शेर को भी एकदहाड़ मार ही देनी चाहिए… जागिये…कहीं अगला शिकार आप न हों … इनसे बचकर रहें… सीता को सम्मान दें और सूर्पनखा की नाक काट दें…

टैम वाले टामियों का टीआरपी बेचने का धंधा, एक ही हफ्ते में दो चैनलों को बना डाला नंबर वन!

एक बड़ी खबर टीआरपी आंकने वाली कंपनी TAM के यहां से आ रही है. पता चला है कि इस कंपनी ने, यानि टैम ने अपने कर्ताधर्ताओं यानि टामियों के इशारे पर एक ही हफ्ते में दो न्यूज चैनलों को नंबर वन बना डाला है. जी हां. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के रीजनल न्यूज चैनलों की कैटगरी में टैम वालों ने इस साल के 34वें हफ्ते की टीआरपी में दो न्यूज चैनलों को नंबर वन बना दिया है. टामियों की कोशिश रही कि चुपचाप दोनों को अलग-अलग नंबर वन बना डालो और किसी को खबर भी न लगे. यही कारण है कि 34वें हफ्ते में ईटीवी वाले भी नंबर वन हैं और न्यूज नेशन वाले भी खुद को यूपी-यूके में नंबर वन बता रहे हैं. मजेदार है कि ईटीवी यूपी यूके की नंबर वन वाली टीआरपी में न्यूज नेशन यूपी यूके नहीं है और न्यूज नेशन यूपी यूके की टीआरपी में ईटीवी नहीं है.

यूपी-यूके में ईटीवी नंबर वन, समाचार प्लस नंबर टू पर (34वें हफ्ते की टीआरपी)

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के रीजनल हिंदी न्यूज चैनलों के 34वें हफ्ते के टीआरपी चार्ट के मुताबिक ईटीवी नंबर वन की पोजीशन पर है.

समाचार प्लस राजस्थान के एक वर्ष पूरे, तोड़े टीआरपी के रिकॉर्ड

जयपुर। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में लोकप्रियता के शिखर पर स्थापित होने के बाद, समाचार प्लस चैनल ने विस्तार करते हुए दूसरा चैनल समाचार प्लस-राजस्थान लॉन्च किया जिसको शनिवार को एक वर्ष पूरे हुए। मातृ संस्थान बेस्ट न्यूज कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के स्वामित्व वाले समाचार प्लस न्यूज नेटवर्क का ये दूसरा चैनल है। पहला चैनल उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के लिए 15 जून 2012 को लॉन्च हुआ था, जो खासा पसंद किया जा रहा है।

यूपी में ‘जी संगम’ तीसरे नंबर पर गिरा, ईटीवी फिर हुआ नंबर वन (देखें टीआरपी)

उत्तर प्रदेश के नंबर वन न्यूज चैनल की कुर्सी पर ‘ईटीवी यूपी’ फिर आसीन हो गया है. नंबर वन बना जी संगम इस 31वें हफ्ते नंबर तीन पर धड़ाम हो गया है. समाचार प्लस नंबर टू पर है. अगर रीच के हिसाब से देखा जाए तो 31वें हफ्ते भी जी संगम नंबर वन है. नीचे टैम की तरफ से जारी 31वें और 30वें हफ्ते का पूरा चार्ट है. किन-किन कैटगरी में कौन नंबर वन है, कौन नंबर टू है और कौन नंबर तीन है, आप खुद एनालाइज कर सकते हैं. पहले 31वें हफ्ते का टीआरपी चार्ट देखें….

31वें हफ्ते की टीआरपी : एबीपी न्यूज और न्यूज नेशन की लंबी छलांग, इंडिया टीवी थर्ड हो गया, जी न्यूज चार पर चला गया

साल 2014 के 31वें हफ्ते में बड़ा उलटफेर हुआ है. अब तो दो नंबर पर रहने वाले इंडिया टीवी का पतन हो गया है और वह तीन नंबर पर चला गया है. एबीपी न्यूज ने दो नंबर पर कब्जा कर लिया है. वहीं आमतौर पर चार नंबर का चैनल माने जाना वाला जी न्यूज इस हफ्ते गिरकर पांच नंबर पर पहुंच गया है. कमाल किया है न्यूज नेशन ने. इसने नंबर चार की कुर्सी हथिया ली है. छठें नंबर पर है इंडिया न्यूज. सातवें पर न्यूज24 और आठवें पर आईबीएन7 चैनल है. एनडीटीवी के इतने बुरे दिन आ गए कि वह आजतक वालों के ‘तेज’ चैनल से भी पिछड़ गया. तेज चैनल नौ पर है तो एनडीटीवी दस नंबरी हो गया है.