महाभ्रष्ट और उगाहीबाज न्यूज चैनल ‘टीवी24’ ने ठगी की शिकायत करने वाले अपने पत्रकार को नौकरी से निकाल दिया

दिनांक: 05.11.2014

सेवा में,

श्रीमान् डायरेक्टर
टीवी24 न्यूज चैनल
चंडीगढ़, पंजाब

विषय: आकाश सिंह चन्देल, ब्यूरो प्रमुख, इलाहाबाद के द्वारा ठगी की शिकायत दिनांक: 20.10.2014 को भेजे जाने के सम्बन्ध में।

महोदय,

विनम्र निवेदन यह है कि मैंने तो आपको सारी सच्चाई बता दी थी.. मामला तीस हजार रुपये का है और जिसकी शिकायत मैंने आपके पास की है… इसका नतीजा ये हुआ है कि चैनल ने मेरी खबरें चलाना बन्द कर दिया है… मैंने शिकायत की थी आकाश सिंह चन्देल की लेकिन उल्टा चैनल के फोन नंबर 09803003113 से मेरे पास फोन आया कि मैं बीस हजार रुपये चैनल को जमा कर दूं नहीं तो मेरे ऊपर धाराण 419 और 420 के तहत एफआईआर दर्ज करवाकर कार्यवाही करायी जायेगी.

महोदय मैं यह जानना चाहता हूं कि ये देश का कौन सा कानून है कि जिसने ठगी की शिकायत की, उसे ही आरोपी बनाकर दंडित किया जा रहा है. मेरे साथ तो न्याया होना चाहिए था लेकिन मुझे पीड़ित की जगह आरोपी की तरह ट्रीट किया जा रहा है और जो आरोपी है वह मजे में ऐश करते घूम रहा है. मैंने शिकायती पत्र दिया तब मेरी ही खबरें चलनी बन्द हो गई. मुझसे कहा गया कि आपको यहां से निकाल दिया गया है. मुझे चैनल से अभी तक कोई भी टर्मिनेशन लेटर भी प्राप्त नहीं हुआ है.

चैनल से जुड़ते समय हमसे पचास हजार रुपये जमा कराये गये थे जिसकी बैंक रसीद संलग्न है. तब कहा गया कि ये पैसा आपका ही है और यहां पर जमा रहेगा, जब भी आप चैनल से हटेंगे, आपको वापस हो जायेगा. तब यह भी बताया गया था कि एक खबर पर एक हजार रुपये मिलेंगे. आज तक तीन सालों मे एक भी पैसा नहीं मिला है. तीन सालों मे कार्ड भी रिन्यूवल नहीं किया गया. जब भी चैनल के नम्बरों पर कार्ड रिन्यूवल कराने की बात कहता हूं तो बात को टाल दिया जाता है. अब एक ये नया कारनामा कि मैं शिकायतकर्ता हूं और मुझसे ही पैसे मांगे जा रहे हैं… किसलिये?

महोदय एक बात और. बिना वेतन के हमारी जिदंगी कैसे चले. महोदय बड़ा दुःख हो रहा है. आप बतायें कि मेरे साथ क्या न्याय हो रहा है. ऐसा कौन सा कानून है जहां शिकायतकर्ता को ही निशाना बना लिया जाये. आप बतायें कि तीन सालों से लगातार सेवा कर रहा हूं और मेरा ही पैसा कंपनी ने फंसा रखा है. तीन सालों में तन्ख्वाह के नाम पर एक भी पैसा नहीं मिला. मुझे घर के लोगों की बातें भी सुननी पड़ रही है कि घर का भी पैसा फंसा दिया है. किसी तरह खेती के पैसे से उल्टा सीधा करके पैसा का इन्तजाम करके खबर बनाता हूं. किसी दिन खबर की जानकारी मिलने पर ये सोचना पड़ता है कि गाड़ी में तेल है कि नहीं.  खबरें बनाते-बनाते इतने दुश्मन  भी हो गये हैं कि क्या बतायें. लेकिन तब भी किसी तरह काम कर रहा था कि कि चैनल पर समाज का आईना तो दिखा सकता हूं. लेकिन उस अधिकार को भी छीना जा रहा है. कैसे मैं पत्नी बच्चों मां बाप को तसल्ली दूं कि तीन सालों से पत्रकारिता करने का ये नतीजा है कि आज मैं दाने-दाने को मोहताज हो रहा हूं.

महोदय, आपसे अनुरोध है कि प्रार्थी का जो भी पैसा आकाश सिह चंदेल के पास है, उसे वापस कराये जाये. चैनल से आशा करता हूं कि मेरी तनख्वाह के लिये भी कुछ करें नहीं तो ये पत्रकार मौत की कगार पर खड़ा है.

प्रार्थी
कृष्णभान सिंह
पुत्र श्री राम बहादुर सिह
जिला संवाददाता, प्रतापगढ़ टी.वी24
पता – ग्राम व पोस्ट सिलोधी थाना                
फतनपुर जिला प्रतापगढ़।
मो0 – 9628536386, 8953931415

प्रतिलिपि:
श्री प्रकाश जावड़ेकर, सूचना एवं प्रसारण मंत्री, भारत सरकार, नई दिल्ली को इस आशय के साथ कि उपरोक्त चैनल द्वारा गरीब पत्रकारों से धोखाधड़ी कर उनसे अवैध रूप से धन उगाही करने और उनको ही फर्जी मुकदमों मे फंसाने की धमकी देने की जांच कराकर उचित वैधानिक कार्यवाही कराएं और प्रार्थी को न्याय दिलाएं।

टीवी24 चैनल के सभी पत्रकारों को इस आशय से कि उपरोक्त चैनल के कृत्यों से आप सब भी त्रस्त हैं और सच्चाई जानते हुए भी चुप हैं. आप सभी से निवेदन है कि चैनल के खिलाफ कार्यवाही करने-कराने में मेरा साथ दें नही तो इस चैनल द्वारा हम जैसे न जाने कितने ही पत्रकार भाइयों को और शिकार बनाया जायेगा.

मूल खबर….

टीवी24 में एक और फ्राड : विज्ञापन चलाने के नाम पर तीस हजार रुपये आकाश सिंह चंदेल ने हड़प लिया!

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

टीवी24 में एक और फ्राड : विज्ञापन चलाने के नाम पर तीस हजार रुपये आकाश सिंह चंदेल ने हड़प लिया!

सेवा में, 

श्रीमान डायरेक्टर
टीवी24 न्यूज चैनल
चंडीगढ पंजाब,

विषय-आकाश सिंह चंदेन्ल मंडल प्रमुख इलाहाबाद द्वारा चैनल पर विज्ञापन चलाने के नाम पर तीस हजार रुपयों की ठगी करने के संम्बन्ध में… 

महोदय, श्रीमानजी को अवगत कराना है की प्रार्थी कृष्णभान सिह आपके चैनल में विगत तीन वर्षों से प्रतापगढ से संवाददाता के रूप में अपनी सेवाएं चैनल को प्रदान कर रहा है. प्रार्थी ने 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान चैनल पर विज्ञापन चलाने के नाम पर राजेश सर्वश्रेष्ठ दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश सर्वश्रेष्ठ से पचास हजार रुपये लिए.

जब मैंने विज्ञापन चलवाने के लिये चैनल से सम्पर्क किया तो पेमेन्ट विवाद को लेकर विज्ञापन नहीं चल पाया. उसके एक हफ्ते बाद कौशांबी से आकाश सिह चंदेल नामक व्यक्ति का मेरे पास फोन आया. उसने खुद को टीवी24 का इलाहाबाद मण्डल ब्यूरो प्रमुख बताया और कहा कि आपका जो विज्ञापन पचास हजार का है उसे मैं तीस हजार रुपये में ही चैनल पर चलवा दूंगा. लगभग दस दिनों तक मुझसे आकाश सिंह चंदेल ऐसी ही बातें करता रहा. इलाहाबाद मण्डल के अलग-अलग जिलों से अपने नाम से चैनल पर खबरें चलवाकर प्रार्थी को फोन करके कहता था कि देखो, हर जिले की खबर मेरे नाम से चल रही है. इससे प्रार्थी को विश्वास हो गया कि ये टीवी24 का इलाहाबाद का मण्डल प्रमुख है.

उसके बाद आकाश सिह चंदेल ने पार्थी को इलाहाबाद बुलाया. उसके द्वारा बताए गए लोकेशन अलोपी बाग स्थित जूस की दुकान पर पहुंच गया. मेरे साथ गांव का एक लड़का भी था. चंदेल ने कहा कि एक हफ्ते पहले जो विज्ञापन की बात हुई थी उसका पेमेंट करा दो, हमारी डाइरेक्टर साहिबा से बात हो गयी है. उन्होंने मुझे चंण्डीगढ बुलाया है. पार्थी को विश्वास नहीं हुआ तो उसने कहा कि अच्छा पहले आधा पेमेण्ट दे दो, आधा पेमेण्ट ऐड चलने के बाद दे देना. पार्थी ने उस पर विश्वास करके जूस की दुकान के पास जो एटीएम था उससे पंन्द्रह हजार रुपये नगद निकाल कर आकाश सिंह चंदेल को दे दिया. इसका गवाह मेरे साथ गया लड़का भी है.

उसके बाद मैं प्रतापगढ लौट आया. आकाश प्रार्थी से लगातार पन्द्रह से बीस दिनों तक बात करता रहा कि आज जा रहा हूं, कल चंण्डीगढ जा रहा हूं, मैम से बात हो गयी है, आज एैड चलेगा, कल चलेगा. अप्रैल नवरात्र के बीच आकाश का मेरे पास फोन आया कि मै चंण्डीगढ में डाइरेक्टर साहिबा के साथ हूं. उनका कहना है कि आप ऐड का पूरा पेमेण्ट करा दें, तभी मैं एैड चलाउंगी, वो मेरे बिहाफ पर पचास हजार का एैड तीस हजार में चलाने के लिये तैयार हैं, इसलिए अभी के अभी मेरे पर्सनल खाते मे पैसा डाल दो.

आकाश ने अपना भारतीय स्टेट बैंक कौसांबी का एक खाता नम्बर मैसेज कर दिया. प्रार्थी ने जब डाइरेक्टर साहिबा से बात करने की इच्छा जताई तो आकाश सिंह चन्देल ने बड़े अभद्र पूर्ण ढंग से बात करते हुये कहा कि डाइरेक्टर साहिबा तुम जैसे छोटे-छोटे रिपोर्टरों से बात नहीं करती हैं. जब विश्वास नहीं था तो मेरा समय क्यों बर्बाद करा दिया. मैं केवल तुम्हारे लिये चंण्डीगढ आया हूं और अब चलवा लेना अपना एैड. ये कह कर फोन काट दिया. प्रार्थी ने घबरा कर आनन फानन में आकाश के बताये हुये एकाउन्ट नम्बर में पन्द्रह हजार रुपये लगा दिये.

उसके बाद आकास का फोन आया कि पैसे मिल गये हैं, मैंने चैनल पर जमा करा दिये हैं. कल से तुम्हारा एैड चलने लगेगा. दो तीन महीने गुजर गये. जब विज्ञापन नहीं चला तो प्रार्थी ने आकाश से बात की तो आकाश ने कहा कि एैड किसी कारण से नहीं चल पाया और मैम आजकल व्यस्त चल रही हैं, मैं जल्द ही तुम्हारा पैसा चैनल से लेकर तुमको दे दूंगा. यदि चैनल ने पैसा नहीं दिया तो मैं तुमको पैसा अपनी जेब से दे दूंगा लेकिन आकाश सिंह चंदेल ने पार्थी को न तो आज तक पैसा वापस किया और न ही एैड चलवाया. बात करने पर ठीक से बात नहीं करता है ओर कहता है कि चैनल पैसा वापस नही कर रहा है तो मैं क्या करुं. 

श्रीमान जी मैं कृष्णभान सिह, संवाददाता टीवी24,  बहुत दुखी हो गया हूं. आकाश चंदेल ने जो हरकत मेरे साथ की है, उससे मुझे बहुत पीड़ा हो रही है. इतनी बड़ी रकम फंस जाने पर क्या होता है एक पत्रकार के लिये, मैं बखूबी जानता हूं. ये दर्द मुझसे सहा नहीं जा रहा है. हमरे पास एक सम्मान को छोड़ कर कुछ भी नहीं बचा है. अब वो भी जा रहा है. साथ ही चैनल की छवि पर भी असर पड़ रहा है.  मैं चाहता हूं कि जो पैसा आकाश सिंह चंदेल ने एैड के लिये लिया है. उसे या तो वे वापस कर दें या तीस हजार रुपये का पार्टी का विज्ञापन चैनल पर चलवा दें कि जिससे मेरी और चैनल दोनों की छवि बनी रहे.

पार्थी
कृष्णभान सिंह
प्रतापगढ
यूपी
जिला संवाददाता टीवी 24
09628536386

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: