पत्रकारों पर हमले के विरोध में उरई कलेक्ट्रेट में धरना, मंगलवार को कैंडल मार्च

उत्तर प्रदेश में पिछले तीन सप्ताह में शाहजहाँपुर में पत्रकार जगेंद्र सिंह को जिन्दा जलाने, जालौन में दो पत्रकारों, कानपुर के पत्रकार दीपक मिश्रा तथा लखनऊ के पत्रकार अमित सिंह पर हमलों के विरोध में जिला पत्रकार संघर्ष समिति उरई कलेक्ट्रेट परिसर में धरना दिया। पत्रकारों ने आरोपी राज्य मंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा तथा पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार करने और घटना की निष्पक्ष जांच सीबीआई से कराने की मांग की। 

पत्रकार को जबरन पकड़ कर पुलिस लाइन ले जाने पर रेंढ़र एसओ निलंबित

उरई: दो किशोरियों की हत्या के बाद पुलिस के खिलाफ हुए प्रदर्शन और पत्थरबाजी में कई की गाड़ियां टूट गए और कई पत्रकार जख्मी हो गए।  घटना को कवर कर रहे पत्रकारों पर खुन्नस निकालते हुए रेंढ़र एसओ ने एक पत्रकार को जबरन पकड़ कर गाड़ी में डाला और पुलिस लाइन पहुंचा दिया। बाद में पत्रकार एकजुट हो गए। इसके बाद पुलिस अधीक्षक ने पूरे मामले में खेद जताते हुए रेढ़र थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया।