रेप पीड़िता के समर्थकों पर एम्स कर्मियों और छात्रों का लाठियों और ब्लेड से हमला, महिलाओं के कपड़े फाड़े, एसपी ने भी गालियां दीं

दिल्ली : आईसीएमआर की बलात्कार पीड़ित छात्रा अपने समर्थकों के साथ गत दिवस जब एम्स के डायरेक्टर डॉ.ऍम.सी मिश्र से मिलने पहुंचीं तो ऑफिस के कर्मचारियों ने उनसे पहले बदतमीज़ी की। मना करने पर हमलावर हो गए। कर्मचारियों और एम्स के चार-पांच छात्रों ने उनसे गाली-गलौज के बाद साने वाली बिल्डिंग से दो-ढाई सौ छात्रों को और लेकर उन पर हमला कर दिया। महिला प्रदर्शनकारियों को भी नहीं बख्शा। सबकी मार पिटाई की। दो महिला प्रदर्शनकारियों के कपड़े फाड़ दिए। कुछ के हाथ में सर्जरिकल ब्लेड मार दिए तो कुछ को लाठियों से पीटा।

‘न्यूज इंडिया’ के मालिक ने मुझे इंटीमेट लेडी कॉन्फीडेंशियल लेडी बनने के लिए कहा… (देखें पीड़िता का इंटरव्यू)

‘न्यूज इंडिया’ चैनल के मालिक और निम्स विवि के चेयरमैन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली लड़की का विशेष इंटरव्यू खोजी पत्रकार संजीव चौहान के यूट्यूब चैनल Crimes Warrior पर उपलब्ध है जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है. इस इंटरव्यू की कुछ खास बात यहां पढ़ सकते हैं:

रेप-उत्पीड़न की शिकार मेडिकल छात्रा का केस सुप्रीम कोर्ट के वकील उमेश शर्मा लड़ेंगे, पीड़िता ने जारी की रेपिस्ट की तस्वीरें

(पीड़ित मेडिकल छात्रा द्वारा न्याय के लिए बनाए गए फेसबुक पेज के लैटेस्ट स्टेटस का स्क्रीनशाट जिसमें उसने रेपिस्ट की तस्वीरें जारी की हैं.)


भड़ास पर प्रकाशित दिल्ली की एक मेडिकल छात्रा के रेप-उत्पीड़न की खबर पढ़कर सुप्रीम कोर्ट के वकील उमेश शर्मा ने अपनी तरफ से पहल करते हुए पूरे मामले की कानूनी लड़ाई को अपने हाथ में ले लिया है. इस सार्थक पहल से न्याय के लिए दर-दर भटक रही छात्रा के मन में उत्साह का संचार हुआ है और अब उसे यकीन है कि रेपिस्ट और चीटर मनोज कुमार को दंड मिलेगा.

दिल्ली में रेप की शिकार और सिस्टम से उत्पीड़ित इस मेडिकल छात्रा को कैसे मिले न्याय?

(रेपिस्ट, धोखेबाज और चीटर मनोज कुमार की तस्वीर दिखाती पीड़ित मेडिकल छात्रा)


वे दोनों नेटवर्किंग साइट्स के जरिए मिले. फ्रेंड बने. लड़का ध्यान, योग, मोक्ष के नाम पर चलाए जा रहे एक एलीट किस्म की आध्यात्मिक संस्था से जुड़ा था. वह लड़की को भी इस संस्था के बैनर तले जोड़कर उसके करीब आने लगा. लड़की बड़े पवित्र भाव से इस संस्था से जुड़ी. धीरे धीरे दोनों की दोस्ती प्रगाढ़ होने लगी. लड़का और लड़की दोनों मेडिकल बैकग्राउंड के हैं. शायद इसलिए दोस्ती जल्दी हुई. दोनों में आध्यात्मिक बातें होती रहीं. लड़का और लड़की दोनों अलग-अलग प्रदेशों से हैं. दोनों दिल्ली में मेडिकल फील्ड में पढ़ाई और ट्रेनिंग कर रहे हैं. लड़के का नाम है मनोज कुमार जो बिहार का रहने वाला है. लड़की ने दोस्ती को दोस्ती समझा लेकिन मनोज कुमार के मन में कुछ दूसरा पक रहा था.

मथुरा के पत्रकार और ब्रज प्रेस क्लब अध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज

मथुरा। जनपद के एक पत्रकार द्वारा एमबीए की छात्रा के यौन उत्पीड़न के मामले में पीड़िता छात्रा की आत्मदाह की चेतावनी के बाद हाईवे थाना पुलिस ने आरोपी पत्रकार के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद जनपद की मीडिया में हड़कम्प मच गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गत 3 दिसम्बर को एमबीए में अध्ययनरत छात्रा ने मथुरा जनपद के प्रमुख पत्रकार एवं ब्रज प्रेस क्लब के अध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु के खिलाफ यौन उत्पीड़न तथा भाई एवं  पिता को हत्या की धमकी देने की शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मथुरा से मुलाकात कर की और तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। इस मामले में एसएसपी मथुरा द्वारा जांच के आदेश  दिये गये।

डा. सुब्रमण्यम स्वामी पर आंख मूंद कर भरोसा न करें, ये झूठ भी बोलते हैं, देखिए दो तस्वीरें

Sanjay Tiwari : पहला चित्र देखिए जिसमें एक यजीदी लड़की रोते हुए कह रही है कि कैसे आइसिस के मुस्लिम हत्यारों ने उसके साथ लगातार तीस बार बलात्कार किया और उसे खाना खाने तक की फुर्सत नहीं दी गई. अपने फेसबुक वॉल पर यह ‘शंखनाद’ करनेवाले कोई और नहीं बल्कि देश के ”महान हिन्दू राष्ट्रवादी नेता” डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी है. स्वामी जी के झूठ को सच मानने से पहले अब जरा दूसरी तस्वीर देख लीजिए.