नवभारत टाइम्स मुंबई के लिए दशहरा मतलब अच्छाई पर बुराई की जीत

अपने आप को बहुत ज्ञानी समझने वाले नवभारत टाइम्स मुंबई ने इस बार अच्छाई पर बुराई की विजय करवा दी। वह दिन दूर नहीं जब ये लोग राम के दहन का जश्न मनाएंगे। वैसे भी एनबीटी वाले हिंदी भाषा को अपनी दासी समझते है इसलिए कभी भी उसके साथ खिलवाड़ कर लेते हैं। हिंदी के बीच अंग्रेजी लिख देते हैं। एक ऐसा अखबार जहां के लोग खुद को बड़ा पंडित समझते हैं। एक दूसरे को पंडित जी कह कर जय जय करते है। ये लोग दशहरे के लिए तैयार हो रहे रावण के मुखौटे छापते हैं और लिखते है कि विजया दशमी के दिन उसे फूंक कर अच्छाई पर बुराई की जीत की रीत बखूबी निभाई जा सके। लगता है एनबीटी मुंबई वालों को रावण ही अच्छाई का प्रतिक लगता है।

39457

30 सितंबर, 2014 को प्रकाशित फोटो