फिल्म ‘संजू’ : मीडिया इस दौर का सबसे बड़ा, सबसे संगठित और सबसे खतरनाक माफिया है!

Yashwant Singh मीडिया में एक से बढ़ कर एक नमूने हैं. अभी संजू फिल्म आई है जिसमें मीडिया भी एक मुद्दा है. एक बालक ने मुझे इस फिल्म को इंटरनेट से डाउनलोड करके दे दिया तो मुफ्त में ही पूरा देखने का मौका मिल गया. आखिरी सीन पर आइए. जेल से निकल रहे हैं संजय …

सांप की मति मारी गयी कि और कोई नहीं मिला, भड़ास को डंस लिया

वरिष्ठ पत्रकार पलाश विश्वास अपने फेसबुक वॉल पर लिखते हैं:   सांप की मति मारी गयी कि और कोई नहीं मिला, भड़ास को डंस लिया!उम्मीद है कि सारे सांपों के जहर के दांत उखाड़ने की उसकी मुहिम से डरकर सांपों से डर डर कर जीने वाली हमारी मीडिया बिरादरी कम से कम इस सर्पदंश के बाद डरना छोड़ देगी। यशवंत, भड़ास के ताजा फेसबुक स्टेटस से परेशान हूं। मीडिया के महाबदमाशों से निपटने के लिए यह अपना बदमाश सांप से अपना बचाव नहीं कर सका और डंसवा कर यूपी के पत्रकार जलाओ राज में अस्पताल में है। वैसे सांपों से हमारा वास्ता हर वक्त है। मीडिया में सांप ही सांप भरे पड़े हैं। यशवंत को भी डंसवाने की आदत होगी। उम्मीद है कि इस काटे का असर न होगा।

सांप के डंस लेने से गाजीपुर के अस्पताल में पड़े यशवंत सिंह