तेजी से उभरते मीडिया प्लेटफार्म ‘पेबल’ को कई स्टेट हेड और ढेरों मीडियाकर्मियों की जरूरत

नई दिल्ली : खबरों के क्षेत्र में तेजी से उभरते देश के इकलौते मीडिया मार्केट प्लेस ‘पेबल’ (thepebble.in) को अपनी विस्तार नीति के तहत कई राज्यों में स्टेट हेड की जरूरत है। पेबल को पंजाब, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, हरियाणा और झारखंड में नेटवर्क के विस्तार के लिए स्टेट हेड चाहिए। इस भूमिका के लिए पत्रकारिता में कम से कम 15 साल का अनुभव और किसी अखबार, पत्रिका या किसी न्यूज चैनल में ब्यूरो हेड जैसे जिम्मेदारी का अनुभव होना जरूरी है।

स्टेट हेड का दायित्व होगा अपने राज्य में स्ट्रिंगर का नेटवर्क खड़ा करना। ये ऐसे स्ट्रिंगर होंगे जो अपने वर्तमान संस्थान में काम करने के साथ या स्वतंत्र तौर पर पेबल के साथ जुड़कर खबरें लिख सकें। फिलहाल पेबल के साथ एडिटोरियल हेड के तौर पर अमर उजाला के पूर्व संपादक शंभूनाथ शुक्ल, यूपी में वरिष्ठ पत्रकार कमलेश श्रीवास्तव, राजस्थान प्रभारी के रूप में वरिष्ठ पत्रकार दिनेश रामावत, मध्यप्रदेश प्रभारी के तौर पर पूर्व संपादक पंकज मुकाती और उत्तराखंड प्रभारी के रूप में वरिष्ठ पत्रकार योगेश भट्ट जुड़े हैं। इसके अलावा जल्द ही कई और बड़े नाम भी पेबल के साथ जुड़ने वाले हैं।

क्या है पेबल

पेबल के प्लेटफार्म पर रिपोर्टर्स की लिखी गई खबरों को पब्लिशर्स अपनी पसंद के हिसाब से खरीद सकेंगे। खरीदी गई कीमत आनलाइन सीधे रिपोर्टर के खाते में पहुंचेगी। खास बात ये है कि यहां रिपोर्टर को खबर लिखने की पूरी आजादी होगी साथ ही अपनी खबर की कीमत भी वह खुद ही तय करेगा। किसी भी भाषा और किसी भी क्षेत्र की खबर लिखने वाला रिपोर्टर पेबल के प्लेटफार्म पर अपनी खबर भेज सकता है। वह चाहे जिस विषय, जिस क्षेत्र या जिस मुददे पर लिखना चाहता है लिखे, उसे यहां पूरी छूट है, बस उसकी खबर में इतना दम होना चाहिए कि वह पब्लिशर्स को अपनी ओर खींच सके। हां खबर ओरिजनल हो, ताकि उसकी प्रमाणिकता पर कोई उंगली न उठे। इस मंच पर फ्रीलांसर और स्ट्रिंगर के लिए भी पूरा स्पेश है। अगर आप फोटोग्राफर हैं या वीडियो बनाते हैं तो उनके लिए भी यहां पूरा मौका है। सोशल मीडिया पर लिखने वाले लोग भी यहां लिखकर कमाई कर सकते हैं।

भारत के साथ ही विदेशों में भी दस्तक

पेबल का प्रयास देश के हर हिस्से तक अपनी पहुंच बनाने का है जिससे देश के कोने-कोने से रिपोर्टर्स और पब्लिशर्स को एक मंच पर लाया जा सके। पेबल अपने साथ जुड़ने वाले तमाम रिपोर्टर्स और लेखकों को अंतरराष्ट्रीय मंच भी प्रदान कर रहा है। भारत के साथ ही अफ्रीकन देश कीनिया में भी इसकी शुरुआत हो चुकी है। जल्द ही अन्य देशों में भी इसकी दस्तक होने वाली है। जानकारों का मानना है कि पेबल के प्रयोग से रात दिन खबरों के लिए पसीना बहाने वाले रिपोर्टर्स को उनकी खबरों के सीधे खुले बाजार में पहुंचने से अपने लिखे की जायज कीमत भी मिल सकेगी। वहीं देश के हर हिस्से तक इसकी पहुंच होने से पब्लिशर्स के पास भी खबरों के विशाल भंडार में से अपनी पसंद की खबर चुनने की आजादी रहेगी। पेबल से जुड़ने के लिए सीधे इन नंबर और ईमेल पर संपर्क किया जा सकता है।

वीरेन्द्र 9560810011

हरेन्द्र 8791437447

Mail: info@pebble.in

साइट का पता: thepebble.in

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “तेजी से उभरते मीडिया प्लेटफार्म ‘पेबल’ को कई स्टेट हेड और ढेरों मीडियाकर्मियों की जरूरत

  • बहुत अच्छी पहल। इससे जुड़ने के लिए क्या कुछ औपचारिकता पूरी करनी होगी। अपना काम पिछले 34 साल से पढ़ना और लिखना ही रहा। शब्दों से खेले बगैर चैन नहीं।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *