टाइम्स नाऊ ने झूठी खबर चलाने-फैलाने पर माफी मांगी

Gurdeep Singh Sappal : ‪हामिद अंसारी को AMU छात्रसंघ ने सम्मानित करने के लिए बुलाया। उनका ‘Inclusive India’ पर लेक्चर भी था।‬ लेकिन उसी वक़्त जिन्ना की तस्वीर को ले कर उपद्रवियों ने हंगामा किया। वो उनके पास तक पहुँच गए। सुरक्षा में ज़बरदस्त चूक हुई, जिसे प्रशासन में माना और अब जाँच हो रही है।

‪हामिद अंसारी ने छात्रसंघ को सम्मान के लिए धन्यवाद देने के लिए चिट्ठी लिखी। हंगामे, व्यवधान और सुरक्षा में चूक पर चिंता जताई। हंगामे के ख़िलाफ़ छात्रों के शांतिपूर्ण विरोध की तारीफ़ की। घटना की न्यायिक जाँच का समर्थन किया।‬ बस इसी बात पर फ़िर हंगामा बरपा! ख़ूब झूठ फैलाया गया!!

RepublicTV ने झूठ फैलाया कि हामिद अंसारी ने जिन्ना का समर्थन किया। TimesNow ने कहा कि मोहन भागवत ने अंसारी की सभी सुविधाएँ वापिस लेने की माँग की। ट्रोल उन पर पिल पड़े। कुछ घंटों बाद TimesNow ने झूठी ख़बर पर माफ़ी माँग ली। लेकिन तब तक काम को बख़ूबी अंजाम दे दिया था। इस तरह नफ़रत फैलाने का एक और झूठ से भरा अभियान सफल हुआ।

Republic TV lies that Hamid Ansari supports AMU students on Jinnah controversy. Times Nows runs that Mohan Bhagwat demands withdrawal of facilities to Hamid Ansari. Trolls pounce upon him. Now, Times Now regrets running a false story. But job done. Hate campaign well executed.

देखें टाइम्स नाऊ के माफीनामे का ट्वीट….

TIMES NOW @TimesNow : We regret an inadvertent error wherein a quote from a local right wing student leader was attributed to RSS Chief Mohan Bhagwat in the AMU story. The error is sincerely regretted. @RSSorg

राज्यसभा टीवी के पूर्व सीईओ और एडिटर इन चीफ गुरदीप सिंह सप्पल की एफबी वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *