A+ A A-

  • Published in टीवी

Rana Yashwant : इस देश में एक कौम पैदा की जा रही है जो पूरी तरह से नंगा है और आप पर अपनी सारी सड़ांध, लिजलिजापन और गंध लिए कभी भी हमला बोल देती है. ये सोशल मीडिया पर होता है और फोन के जरिए भी. मुझे अभी एक कॉल आया एक नंबर से. (ये नंबर जरूरत पड़ी तो मैं आप लोगों से साझा करुंगा) निहायत घटिया जुबान और हर बात के आखिर में- ''तुम...देशद्रोही''. ये देशभक्ति का ठेका लेकर चलनेवाली जमात सनकी, दिमागी तौर पर अपाहिज और लफंगों-लुहेड़ों की है.

उसको पता ही नहीं कि हम किस मिट्टी के बने लोग हैं. डर और आतंक की औकात ही नहीं कि रत्ती भर भी हिला पाए. इस बार का 'अर्धसत्य' कार्यक्रम किसानों पर था और लाजिमी है कि सत्ता-व्यवस्था से आप सवाल करेंगे ही. हमारा काम ही सवाल करना है. सवाल हमारा फर्ज है, विरोध नहीं. जबतक जिंदा रहेंगे, इस सवाल से किसी को भी फारिग नहीं होने देंगे. किसी भी हाल में नहीं. अगर ऐसे दो कौड़ी के लोगों के चलते कलम औऱ जुबान बदलने लगे तो इससे बेहतर मरना होगा.

प्रधानमंत्री जी, गृह मंत्री जी, उम्मीद कर रहा हूं कि उस नंबर के बारे में मुझसे पूछा जाएगा. अभी जब मैं ये पोस्ट खत्म कर ही रहा था कि मेरे बेटे का फोन आया कि पापा फलां नंबर से फोन आया और काफी गाली गलौज कर रहा था, धमकी दे रहा था मारने की. ये स्थिति खतरनाक है.

इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत की एफबी वॉल से.

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 100 > Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000

Tagged under rana yashwant,

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas