A+ A A-

  • Published in टीवी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को पूरी तरह कृषि क्षेत्र को समर्पित दूरदर्शन का किसान चैनल लॉन्च किया। उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा - हमारे यहां कहावत थी उत्तम खेती, मध्यम बान, निषिध चाकरी भीख निदान। इस कहावत को एक बार फिर सच कर दिखाने की जरूरत है। 24 घंटे चलने वाला यह चैनल किसानों के हितों को ध्यान में रखकर बनाया गया है।

विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा कि, जैसे खेल के चैनलों से खेलों में रुचि बढ़ी, उसी प्रकार किसान चैनल से किसानों को फायदा होगा। किसान चैनल पर कृषि संबंधी जानकारी के साथ साथ मंडियों के भावों , वायदा बाजार और मौसम से जुड़ी जानकारी प्रसारित की जायेगी। चैनल पर विशेषज्ञों की मदद से किसानों को फसलों के वैकल्पिक पैटर्न तथा पशु पालन के बारे में भी बताया जायेगा। सरकार की बेटी बचाओं– बेटी पढ़ाओ– और स्वच्छ भारत जैसी योजनाओं के बारे में भी चैनल पर कार्यक्रम प्रसारित किये जायेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस चैनल के लांचिंग पर कई लोगों को लग रहा होगा कि इतने चैनल तो हैं ही फिर इस चैनल का क्या फायदा, लेकिन सच्चाई यह है कि चैनल का फायदा है। आज हमारे देश में कई स्पोर्ट्स चैनल हैं, जिसके कारण युवाओं की रुचि विभिन्न खेलों में बढ़ रही है. वे अब खेल को कैरियर के रूप में अपनाने लगे हैं. स्पोर्ट्स चैनल का बड़ा फायदा मिला है, क्योंकि यह एक बड़ी अर्थव्यवस्था को जन्म दे चुका है। अगर देश को आगे ले जाना है, तो गांवों को आगे लाना होगा और अगर गांव को आगे ले जाना है , तो किसानों को आगे लाना होगा। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने किसानों का स्वाभिमान जगाया था और जय जवान और जय किसान का नारा दिया था। 

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas