A+ A A-

  • Published in टीवी

न्यूज नेशन चैनल के HR डिपार्टमेंट ने अपने कर्मचारियों को ऑफीशियल मेल करके चैनल के डिजिटल प्लेटफॉर्म की मार्केटिंग करने की जिम्मेदारी दी है। यहां तक की ऑफिस के हर कंप्यूटर पर अब फेसबुक भी खुलने लगा है, जो कि पहले ब्लॉक रहता था। मेल में यह भी लिखा है कि इस मार्केटिंग से हर कर्मचारी के आने वाले अप्रेजल पर भी सकारात्मक असर पड़ेगा।

अब दफ्तर हो या घर हर कर्मचारी अप्रेजल में नंबर बढ़ाने के लालच में सोशल साइटों पर चैनल को प्रोमोट करने की कोशिश में लगा है। साल भर की मेहनत देखने के बदले इन सब चीजों से कर्मचारियों के अप्रेजल को आंकना कहां तक तर्कसंगत है। 9 घंटे की शिफ्ट क्या कम थी जो अब अप्रेजल का डर दिखा कर कर्मचारियों को और एक जिम्मेदारी दे दी गयी है, यह कर्मचारियों का शोषण नहीं तो क्या है? कर्मचारी बेचारा करें तो आखिर क्या और कहां जाएं? संदर्भ के लिए यह रहा न्यूज नेशन के HR का मेल:

Dear Colleagues,

News Nation has achieved an enviable fete in just three years of its launch. While we appreciate and value the efforts of each one of you, it also gives us a reason and motivation to not stop and touch another milestone.

In this fast digitising world ; it’s important that we keep pace to stay ahead of the competition, always! With a view to engage team News Nation in all digital initiatives primarily, the participation of the team members is being made compulsory.  

Now onwards it will be as much an official duty and responsibility of every team member to participate and promote News Nation on all social media platforms. This will not only increase the popularity of the company, but will also enhance and enrich knowledge base of every individual employee.  This participation will be a key factor for the annual appraisals of all the employees.  A detailed guideline with respect to the participation in the digital initiative of News Nation is being issued separately.

Regards,

Rekha Nandal 

HR Department

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 100 > Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas