उपेंद्र राय और उनके परिचितों की प्रताड़ना के खिलाफ पत्रकारों ने खोला मोर्चा, देखें तस्वीरें

वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय के परिजनों, परिचितों और वकीलों को बेवजह प्रताड़ित करने व आतंकित किए जाने के खिलाफ कई जिलों के पत्रकारों ने मोर्चा खोल दिया है. कुशीनगर से लेकर सीतापुर, गोरखपुर तक के पत्रकारों ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन अपने जिलों के अधिकारियों को सौंपा. नीचे देखें ज्ञापन देते पत्रकारों की तस्वीरें और उनके ज्ञापन की प्रतियां…

ज्ञापन का जो कंटेंट है, वह इस प्रकार है…..

महामहिम
श्रीमान राष्ट्रपति महोदय
भारत सरकार
दिल्ली

द्वारा : जिलाधिकारी ……..

महोदय,

कुछ भ्रष्ट नेताओं-अफसरों के खिलाफ लगातार लिखने वाले वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय को साजिशन गिरफ्तार करने के बाद अब उनके परिजनों, परिचितों और वकीलों को प्रताड़ित किया जा रहा है. प्रवर्तन निदेशालय के एक भ्रष्ट अफसर के खिलाफ उपेंद्र राय ने लंबे समय से मोर्चा खोल रखा था.

राजनीतिक शह की वजह से यह अफसर लंबे समय से प्रवर्तन निदेशालय में तैनात है और अपने भ्रष्टाचार-लाबिंग के कारण कुख्यात है. इसी अफसर ने कुछ नेताओं और लाबिस्टों को इकट्ठा कर अपने रसूख के दम पर उपेंद्र राय के खिलाफ नौकरशाही की मदद से अभियान चलाया. इसी क्रम में उन्हें गिरफ्तार करने के बाद विभिन्न जांच एजेंसियों की मदद से उनके परिजनों को परेशान किया गया. यहां तक कि उपेंद्र राय के दो वकीलों को इतना डराया धमकाया गया कि उन्होंने उपेंद्र राय का केस लड़ने से इनकार कर दिया.

आपसे अनुरोध है कि केंद्रीय सरकार और गृह मंत्रालय को तत्काल सीबीआई व ईडी के अफसरों की मनमानी पर लगाम लगाने के वास्ते निर्देश जारी करें ताकि एक वरिष्ठ पत्रकार के साथ-साथ उनके परिजनों-वकीलों को प्रताड़ना से बचाया जा सके.

भवदीय

 

 

इसे भी पढ़ सकते हैं…

उपेंद्र राय भड़ास वाले यशवंत और पत्नी रचना समेत कइयों की फोन कॉल रिकार्डिंग सुना करते थे!

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *