A+ A A-

बॉलीवुड की सबसे बड़ी न्यूज़ एजेंसी "न्यूज़ हेल्पलाइन" ने कंटेंट और प्रोग्रामिंग की दुनिया में ऐसा प्लान लांच किया है जहाँ आप टाई-अप कर के बॉलीवुड के सभी कंटेंट फ्री ऑफ़ कॉस्ट ले सकते है। जी हाँ, आज तक जिस कंटेंट के लिए कहा जाता था कि "कंटेंट इज किंग एंड इट्स कम्स विथ अ प्राइस", आज वही कंटेंट आप पूरी तरह से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।

मुंबई के अंधेरी वेस्ट स्थित न्यूज हेल्पलाइन के कार्यालय में इस एजेंसी के फाउंडर संजय तिवारी ने भड़ास4मीडिया से बातचीत में जानकारी दी कि उनकी टीम के सर्वे और रिसर्च के मुताबिक पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड केंद्रित कई बड़ी वेबसाइट्स-पोर्टल स्टार्ट हुये पर जितनी तेजी के साथ ये वेबसाइट स्टार्ट हुये, उतनी ही तेजी के साथ बंद भी हो गये। इन सभी वेबसाइट के बंद होने का एक कारण बॉलीवुड कंटेंट में लगने वाली लागत भी है। शुरुआत में पूरी तरह से जानकारी ना होने के कारण ये स्टार्टअप बहुत ही महंगे रेट पर फोटो कहीं से, वीडियो कहीं से तो टेक्स्ट न्यूज़ कहीं से सब्सक्राइब कर लेते हैं। जब तक सब समझ आता है तब तक सभी पैसे साफ़ हो चुके होते हैं। सो हमारा यह प्लान ऐसे लोगों के लिये ही है जो अपने वेबसाइट को मिनिमम खर्चे पर चला कर अपने स्टार्टअप को सेट करने की इच्छा रखते हैं।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुये संजय कहते है- "न्यूज़ हेल्पलाइन एक मात्र ऐसी एजेंसी है जो न्यूज़ के तीनों फॉर्मेट (फोटो, वीडियो और टेक्स्ट न्यूज़) में काम करती है। हमारा हमेशा से यह मानना रहा है कि न्यूज़ के फील्ड में टाइमिंग बहुत महत्वपूर्ण है। बात अगर बॉलीवुड की है तो टाइमिंग और भी महत्वपूर्ण हो जाती है। यहाँ अगर वक़्त पर सही न्यूज़ पब्लिश ना की जाये तो वह खबर ना सिर्फ अपने मायने खो देती है बल्कि अफवाहों का दौर इतनी तेजी से फैलता है कि देखते ही देखते कई बार सोशल मीडिया पर गलत न्यूज़ ही वायरल हो जाती है। हाल ही में आमिर खान का इनटोलरेन्स पर दिये बयान पर उठा विवाद हो या सोनू निगम का अजान को लेकर दिए गए बयान पर उठा विवाद का मामला हो, आर्टिस्ट कहना कुछ और चाहता है और वायरल कुछ और हो जाता है। अतः न्यूज़ हेल्पलाइन पर हमारी कोशिश यही होती है कि इवेंट के 1-2 घंटे में हम सही न्यूज़ अपडेट कर सकें। यही कारण है की आज देश की सभी बड़ी वेबसाइट और न्यूज़ पेपर्स हमारे क्लाइंट लिस्ट में शामिल हैं।"

अगर आप भी इस लिस्ट में शामिल होना चाहते हैं, अपनी कंटेंट से जुडी लागत को कम कर वेबसाइट को सही दिशा में ले जाना चाहते हैं, अच्छी रैंकिंग पा कर विज्ञापनों से पैसे कमाना चाहते हैं तो आप भी 'न्यूज़ हेल्पलाइन' (वेब एड्रेस : www.newshelpline.com खोलें) पर अपने आप को सब्सक्राइबर के तौर पर रजिस्टर कर हमारे प्लान "बॉलीवुड कंटेंट - फ्री ऑफ़ कॉस्ट" का हिस्सा बन सकते हैं।

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - नरेन्द्र

    उत्तर प्रदेश सरकार और कोर्ट के आदेशों और शासनादेशों की झांसी प्रशासन और वि०प्रा० खुलेआम धज्जियां उड़ा रहा हैं। शिकायतकर्ता कि कृषि भूमि जो झांसी झांसी महायोजना के अन्तर्गत नगर पार्क में आरक्षित हैं में भू-माफियाओं लगातार झांसी विकास प्राधिकरण और प्रशासन के अधिकारियों कि मिलीभगत से ताकत के बल पर धड़ल्ले से अवैध निर्माण कर रहें हें। अवैध निर्माण कि शिकायत करने पर अवैध निर्माणकर्ता और अधिकारी शिकायतकर्ता को जानसे मारने की धंमकी दे रहें।
    शिकायतकर्ता अवैध निर्माण कि शिकायत 3 वर्षो से लगातार अधिकारियों से लेकर तहसील दीवस / जनसुनवाई पोर्टल और प्रशासन से लेकर शासन तक कर चुका हैं। अधिकारियों कि भू-माफियाओं से साठगाठ होने के कारण मनगढत और गुमराह करने वाली रिपोर्ट तैयार करके निस्तारण कर रहें हैं।
    भू-माफिया / अवैध निर्माणकर्ता और विकास प्राधिकरण के अधिकारी शिकायतकर्ता को धंमकी दे रहें हैं कि शिकायत करना बन्द कर दो वरना तुम्हे और तुम्हारे परिवार को फर्जी कैस लगाकर जेल में बन्द करा देगें और जानसे मरवा देगें। उच्च अधिकारियों से शिकायत करने पर अधिकारी कह रहें है
    कि तुम्हारी जमीन में हैं तुम देखों हमसे क्या मतलब अपना खुद देखों कोर्ट में दिखवाओं।
    प्रार्थी की भूमि जो मोजा पिछोर के खसरा संख्या 753 से 755 तक 818 से 821 तक 826 से 843 तक नारायण बाग की बाउण्ड्री बाल से लगी हुई हैं जो झांसी महायोजना 2021 के अंतर्गत सबसे बड़े नगर पार्क में आरक्षित हैं। प्रश्नगत भूमि मै बिना किसी अधिकार के बिना मानचित्र स्वीकृत कराये जबरन अवैध निर्माण कर रहे हैं। जिसके सम्बन्ध में प्रार्थी द्वारा 3 वर्षो से लगातार संबन्धित अधिकारियों के समक्ष प्रसुत होकर व विकास प्राधिकरण झांसी के उच्च अधिकारियों को लिखित में कई बार पूर्व में शिकायत की जा चुकी है एवं तहसील दिवस, जनसुनवाई पोर्टल पर भी कई बार शिकायत दर्ज की गई । लेकिन विकास प्राधिकरण की और से अभी तक अवैध निर्माण के खिलाप कोई ठोस कानूनी कार्यवाही नही की गई।विकास प्राधिकरण के कुछ अधिकारियों और अवैध निर्माणकर्ताओं की साठगाठ होने के कारण होसले बुलन्ध हैं।
    आज दिनांक 11/11/2017 को सुबह लगभग 8 बजें, अर्जुन पुत्र भगवानदास जितेन्‍द्र, विवेक पुत्र कुंज बिहारी लाल श्रीवास्‍तव, राजीव कुमार पुत्र विश्‍व बिहारी लाल श्रीवास्‍तव, राम नरेश शर्मा, आदि प्रार्थी के घर पर आये और गन्दी-गन्दी गालिया देकर कहने लगें कि अवैध निर्माण कि शिकायत करना बन्द करदो बरना तुम सब लोंगोँ को पुलिस से मिलकर फर्जी कैस में फसाकर जेल में बन्द करा देगें जिससे तुम्हे जमानत भी नही मिलेगीं और तुम हम लोगों का शिकायत करके कुछ नहीं कर पाओगें हमारी उपर बड़े-बड़े अधिकारियों से बात हो गयी हैं। हमारी कई नेताओं से अच्छे संबन्ध है
    प्रश्नगत भूमि में कई दवंग व्यक्ति जबरन अवैध निर्माण करने व पूर्व कई बार उक्त लोगों द्वारा गाली गलोच व मारपीट और जानसे मारने के धंमकी के सम्बन्ध में, प्रार्थी द्वारा की गई सभी शिकायतें अधिकारियों द्वारा सभी शिकायतें पर फर्जी रिपोर्ट जो बगैर स्थलीय निरीक्षण किये भू-माफिया एवं अवैध निर्माणकर्ताओं (1- के.आर.टोकसे पुत्र स्व० श्री राधाकिशन नि होटल हाईवे झांसी , 2- मु० यासीन पुत्र वसीर एवं अकरम पुत्र मु० यासीन नि० 748/1 शिवाजी नगर, झांसी, 3- अब्दुल करीम ऊर्फ सूके पुत्र हाजीखुदा बक्स एवं जफर राईन पुत्र अब्दुल करीम ऊर्फ सूके नि० 141 उन्नाव गेट झॉसी, 4- काशीराम, अर्जुन, हरीदास, पुत्रगण भगवान दास कुशवाहा महाराणा प्रताप नगर पिछोर झॉसी, 5- अरविन्द कुशवाहा पुत्र स्व० श्री धनीराम ( नजारत चपरासी झॉसी तहसील ) नि० वाहर दतिया गेट शहर झांसी, 6- ग्‍यादीन गौतम पुत्र सुल्ली जागीदार ( लेखपाल नगर निगम झॉसी ) महाराणा प्रताप नगर पिछोर झॉसी,) एवं कई अतिक्रमणकर्ता एवं अवैध निर्माणकर्ताओ से सांठगांठ करके तैयार कर प्रेषित की गई एवं सरकार को गुमराह किया जा रहा हैं।
    श्रीमानजी यहॉ यह उल्लेखनीय है कि मोके पर काफी संख्या में अवैध निर्माण कार्य हो रहा हैं। अगर अवैध निर्माण व अवैध निर्माणकर्ताओ के खिलाप कानूनी कार्यवाही नही की गई तो निश्चित है की सरकार की उद्दैशयपूर्ण योजनाऐ विफल हो जायगीं तथा अवैध निर्माण करने वालो के होसले बडते जायगें। व पुलिस से मिलकर प्रार्थी व प्रार्थी के परिवार को फर्जी केस बनाकर जेल में बन्द कर देगें।
    श्रीमानजी यहॉ यह उल्लेखनीय है कि अबैध निर्माणकर्ताओं / अतिक्रमणकर्ताओं/ अधिकारियों एवं आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों द्वारा फर्जी मुकदमों में फ़ंसाने एवं जान से मरने की धमकी मिलती आ रही है।
    अतः श्रीमानजी से निवेदन हैं कि अवैध निर्माण व निर्माणकर्ताओ एवं उक्त व्यक्तियों के खिलाप सख्त कानूनी कार्यवाही का आदेश दे साथ ही प्रार्थी की सम्पत्ति व जान माल की रक्षा की जावें। प्रार्थी व प्रार्थी के परिवार को परेशान करने से रोका जायें श्रीमानजी की अति कृपा होगी।

    दिनांक 21 -11-2017

    प्रार्थी - मुन्ना पुत्र स्व० श्री भगवानदास जरिये नरेन्द्र पुत्र मुन्ना कुशवाहा नि० पिछोर थाना नबावाद झांसी, संपर्क सूत्र संख्या 9793235108

    from Jhansi, Uttar Pradesh, India

Latest Bhadas