एक भक्त का पत्र रामदेव के नाम : बाबा जी काले धन को भूल गए तो छोड़िए, व्यवस्था परिवर्तन को तो ना भूलें

श्री योग गुरु बाबा रामदेव जी
हरिद्वार, उत्तराखंड।

विषय : बाबा जी काले धन को भूल गए तो छोड़िए, व्यवस्था परिवर्तन को तो ना भूलें

पूज्य गुरु जी,

कांग्रेस के भ्रष्ट यानी यूपीए-2 के दौरान देश की हालत काफी खराब हो गई थी, लोगों को लग रहा था कि कांग्रेस यू ही लूटती रहेगी, लेकिन उस दौरान आप व श्री अन्ना हजारे जी ने सोए हुए भारतीयों को जगाया। भारत के युवा एकजुट हुए। इस कारण देश में सत्ता परिवर्तन हुआ। इसमें आपका व अन्ना जी का अहम योगदान रहा। बाबा जी उस दौरान आप ने कांग्रेस के कथित नीतियों को उजागर ही नही किया, बल्कि व्यवस्था परिवर्तन का नारा भी दिया था। उस दौरान भारत को फिर से विश्व गुरु बनाने के लिए आपने कई सुझाव दिए व योजना बनाई। उन सभी योजनाओं को देखकर लगा की ये योजना वास्तव में सही है। इन योजनाओं के अमल करते हुए भारत का विकास होगा।

इस कारण पूज्य बाबा जी आपके अनुरोध पर लोगों ने भारी संख्या में भाजपा को वोट दिया। इस कारण पहली बार कांग्रेस के खिलाफ पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। हमारी संस्था के सदस्य के अधिकांश सदस्य उस दौरान आपके साथ थे। हमें लगता था कि आपके दिखाए सुझावों पर देश आगे बढ़ेगा और देश विकसीत राष्ट्र बनेगा। परंतु बाबा जी केन्द्र में आपके सहयोग व समर्थन में बनी सरकार को दो साल होने जा रहे है। इन दो सालों में इस सरकार ने एक भी ऐसा कदम नहीं उठाया जिससे लगे कि आपके सुझाए व आपकी योजनाओं को सरकार अमल ला रही है। बाबा की काले धन के मुद्दे का छोड़ भी दिया जाए तो अनेक मुद्दे थे जो आपने आंदोलन के दौरान उठाए थे। वे मुद्दे हमारी छोटी सी एक संस्था जन कल्याण समिति फतेहबाद के सदस्य आपको फिर से याद दिलवाना चाहते है। उनमें से कुछ इस प्रकार से है :-

1. देश में समान कानून व्यवस्था होनी चाहिए। एक देश, दो संविधान नहीं चलेगा। लेकिन अभी तक इस बारे में सरकार ने प्रयास नहीं किया।
2. जन संख्या नियंत्रण के लिए कारगर कानून बनाने की मांग उठाई थी, लेकिन अब ऐसा कोई प्रयास नहीं हुआ।
3. अधिक से अधिक टैक्स एकत्रित हो, इसके लिए आप ने आंदोलन के दौरान प्रत्यक्ष टैक्स लगाने की वकालत की थी। बकायदा कुछ देशों के उदाहरण भी दिए गए थे। लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा।
4. उस दौरान आप ने कहा था कि भ्रष्टाचार करने वालों को कड़ी सजा मिलेगी। इसके लिए कठोर कानून बनाया जाएगे। पिछले एक दशक में हुए भ्रष्टाचार की जांच होगी, लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ है। यहां तक की भाजपा सरकार में लोगों द्वारा शिकायत देने पर भी भ्रष्टाचार करने वालों को सजा नहीं होती।
5. बाबा जी आपने कहा था कि खाद्य पद्रार्थों में मिलावट करने वालों को राजद्रोह व आंतकवाद फैलाने वालों को की तरह सजा मिलनी चाहिए। वहीं जमाखोरों पर भी लगाम लगाई जाएगी, लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं है।
6. आंदोलन के दौरान आपने एक मुद्दा पर काफी अधिक बोल थे, वो था चुनाव व्यवस्था में सुधार। आप कहते थे कि भारत में चुनाव सुधार होने चाहिए। उस दौरान आप प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के प्रत्यक्ष चुनाव की मांग करते थे, लोगों को बताते थे कि प्रत्यक्ष चुनाव होने से योग्य मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री चुन कर आएगे, लेकिन अभी तक आप ऐसा कुछ नहीं किया।
7. आपने सख्त जनलोकपाल की मांग की थी। उस दौरान आप ने कहा था कि उत्तराखंड़ के भाजपा के मुख्यमंत्री भुवन चंद खुंडूरी द्वारा बहुत बढ़िया लोकपाल बनाया गया है, उस जैसे कानून को पूरे देश में लागू होना चाहिए, लेकिन अभी ऐसा नहीं हुआ है।
8. आपने वोटिंग अनिवार्य करने के लिए भी कहा था।
9. 500 व एक हजार रुपये के नोट बंद करने का वादा किया था, लेकिन अभी ऐसा नहीं हुआ।
10. हिंदी भाषा के प्रयोग को बढ़ावा देना। हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट में भी हिंदी भाषा के साथ स्थानीय भाषा का प्रयोग अनिवार्य के लिए आपने उस दौरान वादा किया था।
11. आपने फतेहाबाद जिले के गांव गोरखपुर में बनने वाले परमाणु संयंत्र का विरोध किया था। परमाणु संयंत्र के खिलाफ दिए जा रहे धरने पर आपने पहुंच कर लोगों को अपना समर्थन दिया था। वहां आश्वासन दिया था कि परमाणु संयंत्र आबादी में लगाना गलत है। अब आपके समर्थन से सरकार बनी हुई है। उसके बाद भी परमाणु संयंत्र बनाने के लिए कार्य चल रहा है।

बाबा जी आपसे नम्र निवेदन है कि आपने भ्रष्टाचार, व्यवस्था परिवर्तन व काले धन जैसे मुद्दे उठाए थे। उसे लगा कि भारत में सही से बदलाव होने वाला है, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। बाबा जी आप अपने सुझावों पर अमल कीजिए, अन्याथा देश के बेबश जनता का विश्वास उठ जाएगा, फिर वो किस के साथ सहयोग नहीं करेगी। इसलिए आप फिर से अपने उग्र रुप में आ जाए, ताकि समय रहते देश में कुछ सुधार हो सके। अन्यथा स्वर्गीय श्री राजीव दिक्षित के सपनों का भारत नहीं बन पाएगा। भाजपा सरकार के मंत्री सत्ता के नशे में चूर है। बदलाव करने का अब सही समय है। जनता फिर से मौका नहीं देगी। हम उम्मीद करते है कि आप देशहित में कार्य करते हुए आपने सुझाव को अमल में लाने के लिए हर प्रयास करेंगे।

बहुत बहुत धन्यवाद
               
प्रार्थी
जन कल्याण सेवा समिति
फतेहाबाद ,125050
आजाद खान 9813334786,
धर्मवीर 8053100003
राजेश कुमार