माकपा: पीएम को नहीं है, देश की वित्तीय व्यवस्था की जानकारी

नई दिल्ली: माकपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान के लिए ताना मारा है, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह देश की अर्थव्यवस्था को 80 खरब डॉलर से 200 खरब डॉलर का बनाना चाहते हैं। पार्टी ने कहा कि देश की वित्तीय व्यवस्था को लेकर उनकी जानकारी का अभाव एक ‘राष्ट्रीय शर्म’ है।

 पार्टी महासचिव सीताराम येचुरी ने ट्विटर पर कहा, ‘नरेंद्र मोदी कहते हैं वह भारतीय अर्थव्यवस्था को 80 खरब डॉलर से 200 खरब डॉलर पर ले जाना चाहते हैं। यह राष्ट्रीय शर्म है।’ उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री भारतीय अर्थव्यवस्था का आकार भी नहीं जानते हैं जिसने 2014 में मात्र 20 खरब डॉलर का आंकड़ा पार किया।‘
अमेरिका में फेसबुक मुख्यालय में 27 सितंबर को प्रश्नोत्तर सत्र के दौरान भारत को निवेशकों के लिए स्वर्ग के तौर पर पेश करते हुए मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार विनियमन पर काम कर रही है और व्यापार को आसान बनाना सुनिश्चित कर रही है क्योंकि उनका लक्ष्य देश की अर्थव्यवस्था को 200 खरब डॉलर का बनाना है।