नेशनल अवार्ड के नियमों में फेरफार, नाराज हुए सितारे, करेंगे बायकॉट

65वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह का आयोजन आज शाम विज्ञान भवन में होना है. समारोह के शुरू होने से पहले ही अधिकांश पुरस्कार विजेताओं ने इसे अटेंड न करने की धमकी दी है. उसकी वजह यह बताई जा रही है कि  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद केवल 11 लोगों को पुरस्कार प्रदान करेंगे जबकि बाकि लोगों को चना प्रसारण मंत्री स्‍मृति ईरानी, सूचना प्रसारण (राज्‍य मंत्री) राज्‍यवर्धन सिंह राठौर और सूचना प्रसारण सेक्रेटरी नरेंद्र कुमार सिन्‍हा यह अवार्ड देंगे, हालांकि इससे पहले साल 1954 से लेकर अब तक देश के राष्ट्रपति ही विजेताओं को सम्मानित करते आ रहे हैं.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ सभी विजेता दिल्ली पहुंच चुके हैं. इन विजेताओं ने बुधवार को विज्ञान भवन में इवेंट की रिहर्सल प्रोग्राम में हिस्सा भी लिया. इसके बाद यह सामने आने कि उन्हें राष्ट्रपति के हाथों सम्मानित नहीं किया जाएगा, विजेता नाराज हो गए. विजेताओं की नाराजगी के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने विजेताओं से मुलाकात की और बताया कि राष्ट्रपति ने इवेंट के लिए उन्हें मात्र एक घंटे का वक्त दिया है. ऐसे में वक्त की पाबंदी के चलते वो सभी को अवॉर्ड नहीं दे सकते हैं. इसीलिए अवार्ड वितरण के लिए अन्य मंत्रियों की मदद ली जा रही है.

आइए एक नजर ड़ालते हैं उन 11 नामों पर जिन्हें सम्मानित करेंगे राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद
दादासाहेब फाल्‍के पुरस्‍कार : विनोद खन्ना
बेस्‍ट फीचर फिल्‍म: विलेज रॉकस्‍टार
बेस्‍ट एक्‍ट्रेस : श्रीदेवी (मॉम)
बेस्‍ट एक्‍टर: रिद्ध‍ि सेन (नगरकीर्तन)
बेस्‍ट डायरेक्‍टर: नागराज मंजुले
राष्‍ट्रीय एकता पर बनी फीचर फिल्‍म को नर्गिस दत्त अवॉर्ड : धप्‍पा
सिनेमा पर बेस्‍ट बुक: मातामगी मनीपुर
बेस्‍ट जसारी फिल्‍म: सिंजर
बेस्‍ट मेल प्‍लेबैक सिंगर: के जे यसुदास
बेस्‍ट म्‍यूजिक डायरेक्‍शन: ए आर रहमान
बेस्‍ट डायरेक्‍शन: जयराज