लगता है संघ महिला पुरुष समानता के विचार से सहमत नहीं!

Ambrish Kumar : अपनी सहयोगी रहीं पत्रकार शुभी चंचल ने संघ के बारे में टिपण्णी की है कि शाखा के समय पार्क में उनकी उपस्थिति संघ के बुजुर्ग प्रचारकों को नागवार गुजरी और उन्हें दूर जाने को कहा. ऐसा लगता है कि संघ महिला पुरुष समानता के विचार से सहमत नहीं है. ऐसा क्यों है कि सेना में महिलाएं जा सकती हैं पर संघ में नहीं. संघ के कार्यकर्त्ता राजीव भृगु ने पिछली पोस्ट पर पूछा था कि कितने शब्दों में वे टिपण्णी लिखें. वे पूरा लेख लिख सकते हैं जिसे हम प्रकाशित भी करेंगे.

वरिष्ठ पत्रकार और शुक्रवार मैग्जीन के संपादक अंबरीश कुमार के फेसबुक वॉल से.