Connect with us

Hi, what are you looking for?

प्रदेश

लोगों की रक्षा करने वाला खुद हो गया शिकार, सिपाही के खाते से उड़ गए लाखों रुपए

लोगों की संपत्ति की रक्षा करने वाला खुद हो गया शिकार। गोरखपुर में हो गया बड़ा कारनामा, सिपाही के खाते से साइबर अपराधियों ने निकाल लिए 3.80 लाख रुपए।

जानिए पूरा मामला

देवेंद्र कुमार गोरखपुर जिला कारागार में हेड वार्डर के पद पर कार्यरत हैं।सिपाही देवेंद्र कुमार ने शाहपुर पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि, पिछले शनिवार को क्रेडिट कार्ड बंद करने के लिए गूगल पर सर्च करके एक बैंक का कस्टमर केयर नंबर खोज रहा था। नंबर खोजने के दौरान एक अनजान नंबर से फोन आया और उधर से कहा कि आपकी क्या समस्या है।

जानिए सिपाही ने क्या बताया

पीड़ित सिपाही ने बताया कि, मुझे अपना क्रेडिट कार्ड बंद कराना है। साइबर अपराधी ने उनसे बैंक डिटेल ले ली और सिपाही से कहकर एनीडेस्क एप डाउनलोड करा लिया।क्रेडिट कार्ड और बैंक एकाउंट की डिटेल भरा लिया और कहा कि क्रेडिट कार्ड थोड़ी देर में बंद हो जायेगा।बस कुछ ही देर बीते थे कि, सिपाही के पास बैंक खाते से रुपये कटने का मैसेज आने पर पीड़ित सिपाही को अपने साथ ठगी होने की जानकारी प्राप्त हुई, जिसके बाद पुलिस को तहरीर दी। कल की शाम शाहपुर पुलिस ने धोखाधड़ी की केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

You May Also Like

सोशल मीडिया

यहां लड़की पैदा होने पर बजती है थाली. गर्भ में मारे जाते हैं लड़के. राजस्थान के पश्चिमी सीमावर्ती क्षेत्र में बाड़मेर के समदड़ी क्षेत्र...

ये दुनिया

रामकृष्ण परमहंस को मरने के पहले गले का कैंसर हो गया। तो बड़ा कष्ट था। और बड़ा कष्ट था भोजन करने में, पानी भी...

ये दुनिया

बुद्ध ने कहा है, कि न कोई परमात्मा है, न कोई आकाश में बैठा हुआ नियंता है। तो साधक क्या करें? तो बुद्ध ने...

Uncategorized

‘व्यक्ति का केवल इतिहास पुरुष बन जाना तथा/ प्रिया का मात्र प्रतिमा बन जाना/ व्यक्तिगत जीवन की/ सब से बड़ी दुर्घटनाएं होती हैं राम!’...

Advertisement