बलात्कारी पुलिस अधिकारी को राष्ट्रपति पुरस्कार से नवाजने की घोषणा

Himanshu Kumar : छत्तीसगढ़ के एक और बलात्कारी पुलिस अधिकारी को राष्ट्रपति पुरस्कार से नवाजने की घोषणा करी गई है. इस बलात्कारी पुलिस अधिकारी का नाम है एसआरपी कल्लूरी. लेधा नामक एक आदिवासी महिला के साथ कल्लूरी और उसके सिपाहियों ने एक माह तक बलात्कार किया था. कल्लूरी साहब ने लेधा के गुप्तांगों में मिर्चें भर दी थीं. लेधा ने जिला जज के सामने अपने बयान में यह सब दर्ज करवाया था. लेकिन कल्लूरी ने पीड़ित महिला लेधा और उसके परिवार पर दबाव बनाना शुरू किया तो मानवाधिकार कार्यकर्ता उस बलात्कार के मामले को छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में ले गये.

उस झूठे और करप्ट आईजी की फर्जी प्रेस रिलीज को किसी पत्रकार ने नहीं छापा

Himanshu Kumar : जब हम दंतेवाड़ा में काम करते थे तब एक बार वहाँ एक आई जी साहब की नियुक्ति हुई. एक बार उन्होंने पत्रकारों को अपने आफिस में बुलाया. अपने एक पत्रकार मित्र के साथ मैं भी वहाँ चला गया. आईजी साहब के कार्यालय में एक आदिवासी लड़का जिसकी उम्र करीब सोलह साल की होगी और साथ में एक आदिवासी लड़की जिसकी उम्र करीब पन्द्रह की रही होगी, सहमे हुए बैठे थे. दोनों ने नक्सलियों वाली एकदम नई हरी वर्दी पहनी हुई थी. मुझे शक हुआ कि जंगल से आने वाले नक्सली के पास एकदम नए साफ़ कपडे कहाँ से आये?

यूपी पुलिस का हाल – अपहरण किया, खूब पीटा, जुर्म साबित न हुआ तो घर के बाहर पटक गए

यूपी पुलिस किस तरह अपना काम करती है, इसे बताने की जरूरत नहीं. अक्सर इनकी क्रूर, बर्बर, असभ्य और अमानवीय तस्वीर सामने आती रहती है. ताजा मामला आगरा का है. कुछ ऐसी तस्वीरें दिखाते हैं जिससे आगरा पुलिस की बर्बरता साफ नजर आती है….पुलिस ने एक युवक को इतनी बर्बरता से पीटा जिसे देख आपकी रूह कांप जाये… पुलिस इस युवक को चोरी के मामले में पकड़ लायी थी …

डीआईजी ने रजिस्‍टर पर लिखा यूपी शासन में सब कुछ अवैध

लखनऊ :  उत्तर प्रदेश के डीआईजी (फायर सर्विसेज) देवेंद्र दत्त मिश्र ने शुक्रवार को सनसनी फैला दी। उन्होंने विभाग के कंट्रोल रूम के रजिस्टर पर लिख दिया, शासन एवं सभी कुछ अवैध है। इससे बड़ा घोटाला संभव नहीं है। इसके बाद उन्होंने दैनिक जागरण कार्यालय फोन कर कहा कि वह अपना दर्द बयां करना चाहते हैं। उन्होंने अपने कार्यालय में दैनिक जागरण के साथ बातचीत की। बाद में उन्हें जबरन अस्पताल ले जाया गया। देवेंद्र दत्त मिश्र ने कहा कि शासन में सब भ्रष्ट हैं।