राखी बख्शी ने इस्तीफा नहीं दिया बल्कि उन्हें टर्मिनेट किया गया, ये है प्रमाण

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार की मीडिया एडवाइजर राखी बख्शी ने मीडिया एडवाइजर पद से खुद इस्तीफा दिया या उन्हें टर्मिनेटड किया गया, इसको लेकर कायम भ्रम की स्थिति अब खत्म हो गई है. भड़ास4मीडिया के पास वो टर्मिनेशन लेटर है जिसमें कहा गया है कि राखी बख्शी को मीडिया एडवाइजर पद से लोकसभा अध्यक्ष 31 दिसंबर 2012 की शाम से टर्मिनेट मानती हैं.

लोकसभा सचिवालय के डिप्टी सेक्रेट्री यूसी भारद्वाज के हस्ताक्षर से जारी टर्मिनेशन लेटर में राखी बख्शी को ये भी कहा गया है कि वे सभी सरकारी – कार्यालयी संपत्ति को तुरंत हैंडओवर करें और सचिवालय से नो डिमांड सर्टिफिकेट लें. इससे पहले राखी बख्शी की तरफ से खुद ये दावा किया गया था कि उन्होंने अपनी तरफ से इस्तीफा दिया और वे नए प्रोजेक्ट पर काम करने जा रही हैं.

उन्होंने ये बात तब कही जब भड़ास पर उनसे संबंधित खबर छपी थी कि वे लोकसभा अध्यक्ष के मीडिया एडवाइजर पद से हटा दी गई हैं और ऐसा कदम उनके खिलाफ कई तरह की शिकायतें मिलने के कारण लोकसभा अध्यक्ष ने उठाया. भड़ास लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार के साथ राखी बख्शी (फाइल फोटो)पर प्रकाशित इस खबर पर राखी बख्शी को आपत्ति थी और उन्होंने अपनी स्थिति स्पष्ट करते हुए बताया कि उन्होंने खुद इस्तीफा दिया है और उन पर कोई आरोप नहीं था.

राखी के स्पष्टीकरण पर भरोसा करते हुए उनकी कही गई बातों के आधार पर भड़ास पर छपी खबर को मोडीफाई कर दिया गया और उसे वैसा बना दिया गया जैसा राखी बख्शी ने बताया क्योंकि कोई प्रमाण न होने के कारण उन्हीं की बात पर भरोसा करना पड़ेगा जिनके बारे में खबर है.

लेकिन अब सच्चाई सामने आ गई है और राखी बख्शी का झूठ भी सामने आ चुका है. सूत्रों का कहना है कि राखी बख्शी पर कई तरह के आरोप हैं और कई आरोपों की निजी जांच खुद लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने कराया, उसके बाद ही उन्होंने राखी बख्शी को टर्मिनेट करने का फैसला लिया. टर्मिनेशन लेटर नीचे दिया जा रहा है…

सूत्रों का कहना है कि राखी बख्शी के मसले को लेकर कई लोग सक्रिय हैं और उनके कारनामों की सूची बनाई जा रही है और प्रमाण इकट्ठे किए जा रहे हैं. राखी बख्शी भी अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए अपनी स्थिति फिर से मजबूत बनाने में लगी हुई हैं और कई प्रभावशाली लोगों के संपर्क में हैं.  देखना है कि इस प्रकरण में आगे क्या मोड़ आता है.

चर्चा है कि अगर जल्द ही राखी बख्शी ने कार्यलयी सामान व सरकारी संपत्ति को हैंडओवर नहीं किया तो उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा सकता है. इस बाबत लोकसभा अध्यक्ष के कार्यालय से मौखिक आदेश संबंधित अधिकारियों को दिया जा चुका है. राखी बख्शी के टर्मिनेशन की सूचना को सार्वजनिक करने की तैयारी की गई है जिसके तहत आदेश की प्रति को लोकसभा की वेबसाइट पर जल्द ही डाला जा सकता है.


 

http://bhadas4media.com/video/viewvideo/660/media-world/rakhi-bakshi-with-lok-sabha-speaker-meira-kumar.html


मीरा कुमार के साथ राखी बख्शी का वीडियो देखने के लिए उपरोक्त तस्वीर पर क्लिक कर दें.

Tag- rakhi bakshi, rakhee bakshee, rakhi bakshi with lok sabha speaker meira kumar

अपडेटेड… लोकसभा अध्‍यक्ष की मीडिया सलाहकार राखी बख्‍शी का इस्तीफा

लोकसभा अध्‍यक्ष मीरा कुमार की मीडिया एडवाइजर राखी बख्‍शी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. राखी काफी समय से लोकसभा अध्‍यक्ष की मीडिया एडवाइजर के रूप में काम कर रही थीं. उनकी जगह अभी तक किसी को मीडिया एडवाइजर नियुक्‍त नहीं किया गया है.

राखी के इस्तीफे को लेकर बताया गया है कि वे कुछ नए प्रोजेक्ट्स पर काम करने के लिए मीडिया एडवाइजर के पद से कार्यमुक्त हुई हैं. राखी ने जी न्यूज और दूरदर्शन के साथ लंबे समय तक काम किया है. चर्चा है कि राखी राज्यसभा टीवी पर एक टाक शो होस्ट करने जा रही हैं. साथ ही कुछ नए प्रोजेक्ट्स पर काम करेंगी.