हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला : पुलिस ने कालेजों को नोटिस भेजकर प्रकाशित विज्ञापन का ब्‍यौरा मांगा

मुंगेर। पटना उच्च न्यायालय के आदेश के आलोक में विश्वस्तरीय 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाले में अनुसंधान (जांच) पूरी करने की निर्धारित तिथि ज्यों-ज्यों नजदीक आ रही है, पुलिस अनुसंधान की गति ‘राकेट‘ की रफ्तार में दौड़ रही है और अनुसंधान में नए-नए दस्तावेजी साक्ष्य पुलिस के समक्ष सामने आ रहे हैं। साक्ष्य चौंकाने वाले हैं, सरकारी सूत्रों ने इस संवाददाता को बताया है।

जांच से बौखलाए हिंदुस्‍तान तथा जागरण ने नीतीश कुमार की खबरों को पहले पेज से उतारा

मुंगेर। पटना उच्च न्यायालय की न्यायमूर्ति माननीय अंजना प्रकाश के 17 दिसंबर, 2013 के ऐतिहासिक अदेश के आलोक में विश्वस्तरीय 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला में बिहार की मुंगेर पुलिस की कार्रवाई तेज होने के बाद आर्थिक अपराध में लिप्त दैनिक हिन्दुस्तान का प्रबंधन और संपादकीय टीम ने बिहार राज्य में विकास के नारा को अमलीजामा पहनाने वाले ईमानदार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आंख तरेरना शुरू कर दिया है।