अरविंद त्रिपाठी ने पुलिस के कंधे पर बंदूक रखकर पत्रकारों को निशाना बनाया है

कानपुर के वरिष्‍ठ पत्रकार अरविंद त्रिपाठी ने कुछ दिनों पूर्व दक्षिणी कानपुर के प‍त्रकारिता के बारे में एक खबर लिखी थी. खबर में बताया गया था कि किस तरह से कुछ पत्रकार खबर बनाने के लिए खेल करते रहते हैं. उनकी यह खबर अम्‍बरीश त्रिपाठी को ठीक नहीं लगी. उन्‍होंने इस खबर को आधी अधूरी बताते हुए इसे व्‍यक्तिगत खुन्‍नस निकालने के लिए लिखा गया लेख बताया. उन्‍होंने तफ्सील से पूरे घटनाक्रम को लिखा है, जिसे हूबहू प्रकाशित किया जा रहा है.- एडिटर