भोपाल त्रासदी, पत्र, फंड और टाटा

शशि शेखररतन टाटा टेप मामले में सुप्रीम कोर्ट चले गए हैं. नीरा राडिया फोन-टैप लीक मामले में. अब तक देश की जनता इन्हें ईमानदार मानती रही है. लेकिन इनकी एक कहानी और भी है जिससे इनकी ईमानदारी, नीयत पर शक होता है. हम भारतीयों की आदत है. पैसे वालों का लाख गुनाह हमें दिखता नहीं. और गुनहगार रतन टाटा जैसा आदमी हो तो बिल्कुल भी नहीं.