”शीला, मुन्‍नी ही बड़ी खबर नहीं होती हैं राणा यशवंत जी”

: इस्‍तीफा देने वाले पुराने कर्मचारियों का पैसा काट रहा है प्रबंधन : पीएफ का भी कोई हिसाब किताब नहीं दिया गया : यशवंतजी, एडिटर भड़ास4मीडिया,  महुआ न्यूज़ से लगातार पुराने मजदूरों ( यानी कर्मचारियों ) का जाना जारी है.  इस बात से बौखलाए महुआ न्यूज़ के ग्रुप एडिटर राणा यशवंत अपना गुस्‍सा पुराने कर्मचारियों की सैलरी पर उतार रहे हैं… नोटिस के बाद अगर आपकी तबीयत खराब हो जाए, अन्यथा आपके किसी निकट संबंधी का इंतकाल हो जाए… चाहे आपकी बीस दिन की छुट्टियां क्यों न बची हो…