अतीक जैसों को उम्मीदवार बनाकर सपा भाजपा का रास्ता आसान कर रही है

Anand Pradhan : समाजवादी पार्टी में अतीक अहमद की वापसी और लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया जाना बताता है कि सपा उत्तर प्रदेश की जनता के जनादेश का अनादर करने पर तुल गयी है। वह देश के बदले हुए मूड को समझने में भी नाकाम हो गयी है। कहाँ है, अखिलेश यादव जिन्होंने विधानसभा चुनावों से पहले डीपी यादव को पार्टी में आने से रोक दिया था? दूसरे, अतीक अहमद जैसों को उम्मीदवार बनाकर सपा भाजपा का रास्ता आसान कर रही है क्योंकि अतीक जैसे उम्मीदवारों को सामने करके भाजपा साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए इस्तेमाल करेगी।
 
आनंद प्रधान के फेसबुक वाल से

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia 

Leave a Reply

Your email address will not be published.