अमेरिका में भारतीय राजनयिक देवयानी फर्जीवाड़े में गिरफ्तार

अमेरिका में भारतीय वाणिज्य दूतावास में तैनात भारत की उप महावाणिज्य दूत देवयानी खोबराडगे को फर्जी दस्तवेज पर एक भारतीय नागरिक को काम पर रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. देवयानी पर अमेरिका की संघीय जांच एजेंसी ने आरोप लगाया है कि देवयानी ने अपने घर में एक घरेलू नौकर के वीजा आवेदन के लिए अमेरिकी विदेश विभाग के सम्मुख नकली दस्तावेज तैयार कर प्रस्तुत किए थे.
 
अमेरिका में इस तरह की घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ीं हैं. बड़ी संख्या में विदेशी नागरिकों को नकली वीजा पर रखा जाता है. इन तरह काम करने वाले लोगों को बहुत कम वेतन दिया जाता है तथा इनका शोषण किया जाता है. अवैध रूप से रहने के कारण ये लोग डरे होते हैं और मालिकों के शोषण के खिलाफ आवाज नहीं उठा पाते हैं.
 
मैनहट्टन के संघीय वकील प्रीत बरार ने बताया कि अमेरिका में घरेलू नौकर के रूप में काम कर रहे विदेशी नागरिकों को भी शोषण के विरुद्ध वही अधिकार प्राप्त हैं जो अमेरिकी नागरिकों को प्राप्त हैं. उन्होंने बताया कि वीजा पाने के लिए झूठ बोला गया, गलत दस्तावेज प्रस्तुत करके सुरक्षा को धता बताया गया ताकि घरेलू नौकर को वीजा मिल सके और उसका मनमाना शोषण किया जा सके. अमेरिका सरकार इस तरह के फर्जीवाड़े और व्यक्तियों के शोषण को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *