अमेरिकी छात्रा भारत में आई और स्ट्रेस डिसार्डर का शिकार हो गई

एक अमेरिकी छात्रा की भारत में स्‍टडी ट्रिप के दौरान यौन शोषण की भयावह कहानी इंटरनेट पर खूब वायरल हो रही है. अपनी आपबीती में उन्‍होंने बताया है कि किस तरह भारत यात्रा के दौरान लोग उन्‍हें घूरते थे, उनका पीछा करते थे और यहां तक कि उनका रेप करने की भी कोशिश की गई. शिकागो यूनिवर्सिटी की छात्रा मिशेला क्रॉस साल 2012 में एक स्‍टडी ट्रिप के लिए भारत आईं थीं. इस दौरान वह भारत की कई बातों से प्रभावित हुईं, लेकिन उनका कहना है कि भारत महिलाओं के लिए सुरक्षित जगह नहीं है. उन्होंने भारत को मुसाफिरों के लिए स्वर्ग और महिलाओं के लिए नरक बताया.

अमेरिका लौटने के बाद उन्होंने इन सारी बातों को एक वेबसाइट पर लिखा, जिसे उन्‍हें शीर्षक दिया- 'इंडिया: द स्टोरी यू नेवर वॉन्टेड टु हियर'. उनके पोस्‍ट को इंटरनेट पर लाखों बार पढ़ा जा चुका है. यही नहीं यह पोस्‍ट फेसबुक और ट्विटर पर अब तक 85,000 से ज्‍यादा बार शेयर किया जा चुका है. मिशेला लिखती हैं, 'जब लोग मुझसे भारत के मेरे अनुभव के बारे में पूछते हैं तो मैं असमंजस में पड़ जाती हूं. कोई कैसे वहां की उन परिस्थितियों के बारे में बता सकता है जिसने पिछले कुछ महीनों के दौरान मेरी जिंदगी को तबाह कर दिया है, और वह भी महज एक वाक्य में.'

'क्या मुझे लोगों को यह बताना चाहिए कि किस तरह हमने पुणे में गणेश उत्सव में डांस किया. या यह भी कि जब अमेरिकी महिलाओं ने डांस करना शुरू किया तो कैसे गणेश उत्सव रुक गया और हमारे चारों तरफ लोगों का घेरा बन गया जो हमारे हर मूव की रिकॉर्डिंग कर रहे थे.'

'क्या मुझे यह भी बताना चाहिए कि जब हम एक बाजार में खूबसूरत साड़ियों को खरीदने के लिए मोलभाव कर रहे थे तो कैसे कुछ लोग हमारे ब्रेस्ट को घूर रहे थे और आहें भर रहे थे.'

'जब लोग मेरी भारतीय सैंडल्स की तारीफ करते हैं तो क्या मुझे यह बताना चाहिए कि किस तरह जिस शख्स से मैंने सैंडल्स खरीदी वह अगले 45 मिनट तक मेरा पीछा करता रहा.'

'तीन महीने तक मैं ऐसी ही परिस्थितियों में रही. एक वैसे देश में जो मुसाफिरों के लिए स्वर्ग और महिलाओं के लिए नरक है. जहां मेरा पीछा किया गया, मुझे घूरा गया, मुझे देखकर आहें भरी गईं. '

मिशेला 16 दिसंबर को राजधानी दिल्‍ली में 23 वर्षीय मेडिकल की छात्रा से चलती बस में हुए गैंगरेप से कुछ दिन पहले ही भारत छोड़कर अमेरिका चली गईं थीं. उन्‍होंने वेबसाइट पर अपने गुस्‍सा को इसलिए जाहिर किया ताकि लोगों को यह बता सकें कि उन्‍होंने और उनकी साथियों ने भारत में क्‍या कुछ सहा. मिशेला का भारत का अनुभव इतना खराब था कि उन्‍हें स्‍ट्रेस डिस्‍ऑर्डर हो गया और फिलहाल वह छुट्टियों पर हैं और कॉलेज नहीं जा रही हैं. (आजतक)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *