अश्लील कॉल के खिलाफ आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने एफआईआर दर्ज कराई

Amitabh Thakur : आज आजमगढ़ कोतवाली में फर्जी मिस्ड कॉल रैकेट द्वारा पैसे लूटने से जुड़े मामले में एफआईआर दर्ज कराया है. एफआईआर के अनुसार कल (20 अक्टूबर) को मुझे और पत्नी नूतन को हमारे मोबाइल फोन पर अज्ञात नंबर +93780872199 से मिस्ड कॉल आये. नूतन ने आदत के मुताबिक इस नंबर पर कॉल किया तो दूसरी ओर से एक पुरुष और महिला के बीच अश्लील गन्दी बातचीत सुनाई दे रही थी. जब तक वे फोन काटतीं, उनके 30 रुपये कट चुके थे.

आज मेरे द्वारा इसका परीक्षण किये जाने पर वही बात फिर से हुई और मेरे 15 रुपये कटे. इन तथ्यों के आधार पर मैंने अज्ञात कॉल करने वाली कंपनी और बीएसएनएल तथा अन्य फोन कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ जनता को इस प्रक्रिया के जरिये लूटने और अश्लीलता फ़ैलाने से सम्बन्ध में शिकायत दी. इसके आधार पर कोतवाली थाने में अपराध संख्या 375/2013 धारा 419, 420, 292 आईपीसी दर्ज किया गया है जिसकी विवेचना वीरेंद्र बहादुर सिंह, उपनिरीक्षक द्वारा की जा रही है.

अमिताभ ठाकुर के फेसबुक वॉल से.


ये है एफआईआर का कंटेंट…

सेवा में,
प्रभारी निरीक्षक,
थाना कोतवाली,
जनपद आजमगढ़   

विषय- बीएसएनएल मोबाइल पर मिस्ड कॉल में माध्यम से आपराधिक कृत्य करने के सम्बन्ध में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करने हेतु
महोदय,

कृपया अनुरोध है कि मैं अमिताभ ठाकुर स्थायी पता 5/426, विराम खंड, गोमतीनगर, लखनऊ एक आईपीएस अधिकारी हूँ और वर्तमान में 20वीं वाहिनी पीएसी, आजमगढ़ में सेनानायक के पद पर तैनात हूँ. मैं बीएसएनएल का उपभोक्ता हूँ और बीएसएनएल  का प्री-पेड मोबाइल नंबर 94155-34526 प्रयोग करता हूँ. इसी प्रकार मेरी पत्नी डॉ नूतन ठाकुर बीएसएनएल  का प्री-पेड मोबाइल नंबर 094155-34525 प्रयोग करती हैं.

कल दिनांक 20/10/2013 को समय 09.50 पर पीएसी, आजमगढ़ कैम्पस में स्थित सेनानायक आवास पर मेरी पत्नी के मोबाइल नंबर 094155-34525 पर एक फोन नंबर +93780872199 से फोन आया जो दो-तीन बार बज के कट गया. स्वभाव के मुताबिक़ मेरी पत्नी ने उस नंबर पर समय 12.00 बजे वापस कॉल किया. दूसरी तरफ से एक पुरुष और एक महिला के बीच बातचीत की आवाज़ आ रही थी. ये दोनों कुछ गन्दी बातचीत कर रहे थे जिसमे शारीरिक संपर्क करने के तरीकों जैसे अश्लील विषय पर बेहद बेहूदे और भद्दे शब्दों में आपस में बात हो रही थी. मेरी पत्नी यह सब समझ नहीं पायीं और उन्हें लगा कि शायद कुछ क्रोस-कनेक्शन लग गया है. जब तक वे समझतीं तब तक 1.03 मिनट में उनके कुल तीस रुपये कट गए.

इसी प्रकार कल दिनांक 20/10/2013 को समय 12.04 बजे मेरे मोबाइल नंबर 94155-34526 पर भी ऐसा ही मिस्ड कॉल आया था. जब मेरी पत्नी नूतन ने इस सम्बन्ध में मुझे बताया तो मैंने इस बात को पूरी तरह तस्दीक करने के लिए आज दिनांक 21/10/2013 को समय 11.25 बजे उस नंबर पर फोन मिलाया. मैंने भी यही सुना कि दूसरी तरफ से एक पुरुष और एक महिला आपस में बात कर रहे हैं, जो पूरी तरह अश्लील और भद्दा है. करीब 0.49 मिनट की इस बातचीत में मेरे 15.00 रुपये कटे.

मैंने यह बात कई बार सुनी थी कि कुछ आपराधिक लोग इस प्रकार मिस्ड कॉल दे कर लोगों को फोन करने को प्रोत्साहित/बाध्य कर देते हैं और वापस फोन करने पर अलग-अलग तरह से उन्हें ठगते हैं जिस प्रक्रिया में वापस कॉल करने वाले का काफी पैसा कट जाता है जिसका सीधा लाभ मिस्ड कॉल करने वाले को होता है. उन्ही में से एक तरीका इस प्रकार मिस्ड कॉल करके दूसरी तरफ से गन्दी बातचीत सुनाना भी लगता है जिस पर अलग-अलग व्यक्ति अलग-अलग ढंग से प्रतिक्रिया करें और मिस्ड कॉल करने वाले को अनुचित और आपराधिक लाभ मिले तथा फोन करने वाले की आपराधिक हानि हो. यह कहा जाता है कि इस तरह के कामों में बीएसएनएल तथा अन्य तमाम कंपनियों के भी कुछ अधिकारियों की मिलीभगत रहती है जो पैसे के लालच में इस तरह के कार्यों की सरपरस्ती करते हैं.

इससे स्पष्ट दीखता है कि यह किसी बड़े कॉमर्शियल गैंग का कार्य है जो बीएसएनएल तथा अन्य तमाम कंपनियों के भी कुछ अधिकारियों को मिला कर इस तरह लाखों उपभोक्ताओं को खुलेआम ठग रहे हैं और इस प्रक्रिया में अश्लीलता और अश्लील शब्द और विचार प्रसारित करने का अलग से कर रहे हैं. अतः यह नितांत आवश्यक प्रतीत होता है कि उपरोक्त आपराधिक कृत्यों के सम्बन्ध में तत्काल प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत कर इसकी विवेचना की जाए ताकि मेरे, मेरी पत्नी नूतन एवं अन्य तमाम लोगों के विरुद्ध इन आपराधिक कृत्य में सम्मिलित लोगों के विरुद्ध नियमानुसार दंडात्मक कार्यवाही हो सके और भविष्य में लोगों को इस छल और आपराधिक कृत्य से बचाया जा सके. तदनुसार आपसे उचित धाराओं में एफआइआर दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही किये जाने हेतु अनुरोध है.

भवदीय,
अमिताभ ठाकुर
पत्र संख्या- AT/BSNL/AZM/01
दिनांक- 21/10/2013
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *