आईटी कंपनियों द्वारा सोशल साइट्स के दुरुपयोग पर एफआईआर

उत्तर प्रदेश कैडर के आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने आईटी कंपनियों द्वारा सोशल मीडिया के आपराधिक दुरुपयोग के सम्बन्ध में कोबरापोस्ट के स्टिंग से प्राप्त तथ्यों के आधार पर थाना गोमतीनगर, लखनऊ में एक एफआईआर दर्ज कराया है.
 
एफआईआर के अनुसार कई आईटी कम्पनियां फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफोर्म का इस प्रकार भारी, अनुचित और आपराधिक दुरुपयोग कर रहे हैं कि इससे आम नागरिकों और विशेषकर मतदाताओं को गलत तथ्य प्रस्तुत कर उन्हें भरमाया जा रहा है, उनके साथ धोखा किया जा रहा है. ये कम्पनियां कुछ हज़ार से कुछ लाख रुपये ले कर नेताओं और कोरपोरेट घरानों के लिए फर्जी एकाउंट बनाने, फर्जी लाइक करने, दूसरों के लिए फर्जी नकारात्मक टिप्पणियाँ करने, धार्मिक भावनाएं भड़काने जैसे तमाम आपराधिक कृत्य कर रहे हैं.
 
कम्पनियां इसके लिए ऑफशोर आईपी, इन्टरनेट आधारित मेसिजिंग सिस्टम का उपयोग आदि करते हैं. इन आईटी कंपनियों के ये कृत्य भारतीय दंड संहिता, आईटी एक्ट 2000 तथा जनप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 में आपराधिक कृत्य हैं. अतः इनके सम्बन्ध में थाने पर धारा 419, 420 तथा 465 आईपीसी, धारा 66ए आईटी और धारा 125, जन प्रतिनिधित्व अधिनियम में एफआईआर दर्ज किया गया है जिसकी विवेचना उपनिरीक्षक संतोष कुमार सिंह द्वारा की जायेगी.
 

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia 

Leave a Reply

Your email address will not be published.