”आगरा में इन्हें इनकी पत्नी ने ही रंगे हाथ “आनंद” करते पकड़ा था”

Shivam Bhardwaj : पिछले दिनों हुये पुष्पांजलि के डायरेक्टर से सम्बंधित प्रकरण को बढ़ा चढ़ाकर छापे जाने के बाद अब "पुष्प सवेरा" ने फ्रंट खोल दिया है. इसी क्रम में आज के अखबार में आधा पन्ना भरकर एक खबर प्रकाशित की गयी है जिसका मुख्य शीर्षक है "मीडिया माफिया ने तिल का ताड़ बनाया". इसी खबर के साथ "दैनिक जागरण" की प्रतियाँ जलाते हुये महिला जन जागृति समिति की तस्वीर भी प्रकाशित की गयी है. कुछ जनप्रतिनिधियों के वक्तव्य भी अखबार में प्रकाशित किये गये हैं जिनका कहना है कि मीडिया में कुछ लोग सीमा का उल्लंघन कर इसका प्रयोग निज स्वार्थ, रंजिश निकालने व ब्लैकमेलिंग के लिए कर रहे हैं.

सबसे रोचक खबर है शहर के एक प्रतिष्ठित अखबार में कार्यरत एक बड़े पत्रकार (जिनका कद आज शायद पत्रकार से ऊंचा है) से सम्बंधित. इस खबर में बताया है कि कुछ वर्ष पूर्व स्वयं ये पत्रकार रंगरलियाँ मनाते हुये पकड़े गये थे और इन्हें इनकी पत्नी ने ही रंगे हाथ "आनंद" करते पकड़ा था. अब पत्रकार अथवा संस्थान का नाम तो खबर में नहीं दिया है लेकिन समझ जाइये! अब प्रतियां तो जली हैं भाई………. वैसे अपुन ने अपने मन से कुछ भी नहीं कहा है, जो भी है पुष्प सवेरा अखबार में छपा है. यकीन न हो तो अखबार खरीद लीजिए या दी गयी तस्वीर में देखिये…

(उपरोक्त न्यूज कटिंग को बड़े साइज का करने के लिए कटिंग पर ही क्लिक कर दें)


(उपरोक्त न्यूज कटिंग को बड़े साइज का करने के लिए कटिंग पर ही क्लिक कर दें)


शिवम भारद्वाज के फेसबुक वॉल से साभार.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *