आजतक न्यूज चैनल के स्टिंग पर उठने लगे कई सवाल

Mohammad Anas : ख़ुफ़िया कैमरे लगा कर आप अपनी बात दूसरों के मुंह में डाल दें फिर कहें की सबसे बड़ा खुलासा कर दिया। सवाल करें कि दंगों में आज़म खान शामिल थे? पुलिस वाला तो कहेगा ही कि… जी साब, वे शामिल थे, उनका प्रेशर था…। पर स्टिंग और खुलासा इसे नहीं कहते। खुलासा तब होता जब आप आज़म खान के काल रिकार्ड, उनकी आवाज़ या उनसे बातचीत के नमूने पेश करते। किसे बेवकूफ बना रहे हो और दंगों का रुख किधर मोड़ रहे हो। तुम्हारी ख़ुफ़िया टीम में शामिल पत्रकारों का झुकाव एवं दलाली का पुराना इतिहास नरेंद्र मोदी और भाजपा से जुड़ा है।

दीपक शर्मा नरेंद्र मोदी के पक्ष में माहौल बनाते रहे हैं, वही दीपक शर्मा मुजफ्फरनगर दंगों में अखिलेश यादव और मनमोहन-सोनिया के दौरे को चुनावी स्टंट बताते है लेकिन वही दीपक शर्मा जिनके पास पूरे 50 मिनट थे, एक बार भी भाजपा के उन चार विधायकों के वीडियो फुटेज का कहीं जिक्र नहीं करते जिसकी वजह से पचास हजार की भीड़ जमा होती है और मुजफ्फरनगर जल उठता है।

दीपक शर्मा एण्ड कम्पनी ने कवाल गाँव में घटी घटना का सच नहीं बताया। मुजफ्फरनगर दंगे की असली वजह वह वीडियो क्लिप थी जिसे भाजपाई विधायक ने पूरे शहर में बंटवाया और एक मामूली सी हत्या की घटना को दो समुदायों के बीच दंगे का रूप दे दिया। पुलिस वालों से आफ द रिकार्ड हुई बातचीत को आन द रिकार्ड दिखा कर दीपक शर्मा और उनकी पूरी आज तक की टीम ने न सिर्फ पत्रकारों के प्रति पुलिस प्रशासन में गहरा अविश्वास पैदा किया है बल्कि उन बड़बोले पुलिस वालों की नौकरियां भी खतरे में डाली है।

और संघियों को लगता है की इस तथाकथित खुलासे में आज़म खान बुरी तरह फंस रहे हैं। वे सब एक बार फिर से देखें, साफ़ तौर पर दिखाई और सुनाई दे रहा है कि आज तक के रिपोर्टर के यह पूछने पर की ‘क्या आज़म खान…' तो पुलिस वाला कहता है- 'हाँ जी…'। ऐसे तो अगर वही रिपोर्टर यह पूछता- ‘क्या नरेंद्र मोदी और राजनाथ सिंह’ …तो पुलिस वाला कहता- 'हाँ जी'।

आखिर क्यों नहीं दीपक शर्मा एवं आज तक ने भाजपा के उन विधायकों, किसान यूनियन के लोगों के बारे में एक भी सवाल नहीं पूछा? क्यों सब कुछ घुमा फिरा कर समाजवादी पार्टी और केंद्र को निशाने पर रखा? उसका जवाब बहुत साफ़ है। आज तक ने पूरी ताकत लगा दी है नरेंद्र मोदी को स्थापित करने के लिए। दंगों से पीड़ित एवं मानवीय संवेदना वाला हर इंसान इस तरह की मनगढ़ंत खबर देख कर राज्य और केंद्र में शासन कर रही दोनों पार्टियों से घृणा करेगा और इसका लाभ भाजपा के खाते में जाएगा। ये माना जा सकता है कि सियासी दबाव रहा है दंगा भड़काने और न रोक पाने में, लेकिन भड़काया भाजपा के दंगाई विधायकों ने ही था। दंगाईयों को व़क्त रहते न रोक पाने की वजह से हम समाजवादी सरकार की जितनी चाहे आलोचना कर सकते हैं।

माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय, भोपाल के पूर्व छात्र और एक्टिविस्ट मोहम्मद अनस के फेसबुक वॉल से. उपरोक्त पोस्ट पर हो रहे तर्क-वितर्क के कुछ अंश यूं है…

Satyendra Tripathi han Anas bhai Azam khan sahab dudh ke dhule hain ! wo kaha karege, bharat me jo kuch hota hai wo ya to sanghi karte hain ya bhajpai, even 84 ke dange, mau riots, bhagalpur sab sanghio ne karaye hain ! kewal NDTV, IBN yahi truth dikhate hain aur sabhi duniya bhar ke channel galat hain !
 
Pankaj Chaturvedi आजतक असल में उत्तर प्रदेश में मतों के ध्रुवीकरण के भा ज पायी खेल का हिस्सा हे, कई करोड की डील हे
 
Mohammad Anas नरेंद्र मोदी बाथरूम में भी जाते हैं तो अंजना ओम कश्यप और पूण्य प्रसून बाजपाई उसे ब्रेकिंग चलाने में नहीं हिचकते ।
 
Liyaqat-babar Khan bhai electronic media ka khel koi nahi samjhta hain ..aaj desh main 500 news channel hain aur wo kyu khole jate hain kamane key liye ……congress paisa degi to unkey pairo main bjp degi to unkey pairo main
 
Pankaj Chaturvedi वो एक बार नविन जिंदल स्टिंग करके जी वालों को नंगा कर चुका हे यदि कोई चाहे तो आज आजतक वालों कास टिंग कर सकता हे,
 
Amjad Shaikh bilkul sahi farmaya anas bhai aapne
 
Bharat Shah सही है जब आसाराम पर आपरेशन चलाया गया तब जनाब आप ही खूब प्रचार कर रहे थे कि देखो देखो…अब जब सपा सरकार के खिलाफ चलाया गया तो आप कुप्रचार कर रहे है सब कुछ आप ही तय करेगे क्या
 
Mohammad Anas जनाब आसाराम खुद कैमरे पर बोल रहे थे ,यहाँ आज़म खान और न उनका भूत ,,कुछ भी नहीं था ..आँख और दिमाग नहीं है क्या ?
 
Sanjeev Bodhi Aur ye bikaoo media kabhi such bta bhi nahi sakta …..are bhai aaka naraz ho jayenge
 
Mohammad Anas अगर आज़म खान या उनकी आवाज़ का सबूत कोई दे सके तो मैं यह पोस्ट हटा दूंगा ,गहरी साजिश है आज तक द्वारा ,वह पूरे मामले को घुमा देना चाह्ती है . साफ़ तौर पर भाजपा और संघ का किया धरा है मुजफ्फरनगर दंगा लेकिन वह इसे डीएम एस पी के तबादले तक सीमित करना चाहती है . समझिए इस बात को .
 
The-Utkarsh Vaishnav थोड़ा सा निष्पक्ष होकर देखा जाये तो इनकी भूमिका से इनकार नहीं किया जा सकता है
 
Liyaqat-babar Khan 2014 aane de khel abhi shuru hua hain
 
Mohammad Anas हाँ उत्कर्ष ,मैंने लिखा है की दंगा वक्त रहते नहीं रोक पाने पर इनकी आलोचना होनी चाहिए और मैं लगतार कर रहा हूँ लेकिन आज तक की ख़ुफ़िया टीम ने पूरे मामले को मोड़ने की कोशिस की है ,उसे भी समझिए .
 
The-Utkarsh Vaishnav बिलकुल सर….बेशक आज तक वाले संघी हुए जा रहे हैं पर आज़म खान और इनकी पार्टी ने मुस्लिमों के रहनुमा होते हुए दगा किया और आग में डब्बे भर-भर के घी डाला है…सब कुछ इन्होंने ही बड़े आराम से होने दिया क्योकि सरकार इनकी है तो नैतिक/मौलिक/आधिकारिक ज़िम्मेदारी इनकी ही बनती है…ऐसे सेकुलर लोग संघी/तालिबानियों से एक कदम आगे बढ़कर है…रही बात प्रशासन को दोष देने की तो ये सब जानते� हैं यूपी में प्रशासन को मल-मूत्र त्यागने के लिए भी सरकार का ऑर्डर लगता है…
 
Liyaqat-babar Khan main to yeh jaanta hu govt.aur police chahe to kuch bhi kar sakti hain aag laga bhi sakti hain aur lagne se pahle bhuja sakti hain
 
The-Utkarsh Vaishnav भाजपा-सपा की मिलीभगत नहीं होती तो दोषी भाजपा विधायकों पर अब तक कार्यवाही हो चुकी होती…चोर-चोर मौसेरे भाई से आगे बढ़कर ये चोर-चोर सौतेले भाई बन चुके है
 
Syed Quasim golmaal hai bhai sab golmaal hai
 
Awdhesh Mishra आसाराम के मामले में तो आपको दीपक शर्मा का स्टिंग बड़ा पसंद आया था…..तब तो आपने बाकायदा अपील की थी आज तक पर स्टिंग देखने की। ये तो वही बात हुई….मीठा मीठा गप्प, कड़वा कड़वा थू
 
Alok Rai आजम के लिए ये "सदभावना" क्यों??
 
Vinay Soni सही कहा Awdhesh Mishra ji
 
Mohammad Anas दंगों को भीड़ अंजाम देती है ,और प्रशासन कई बार मूक बना रहता है . वजह होता है सियासी प्रेशर ,आज़म या अखिलेश वर्तमान में सत्ता संभाले हुए हैं ऐसे में उनकी आलोचना का हक़ हमें बनता है लेकिन जिस तरह से आज तक ने मामले को आज़म से सीधे तौर पर जोड़ने की कोशिश की है उससे यही सन्देश जा रहा है की खुद आज़म खान दंगे में उतर कर घर जला रहे थे . जबकि दंगों में शामिल वहां के स्थानीय नेता जो भाजपा से भी सम्बन्ध रखते हैं और बसपा से भी एवं सपा से भी . फिलहाल दंगा जिसकी वजह से हुआ मेन वह प्रथम दृष्टया दोषी होता है ,उसके बाद जो लोग उसे रोक नहीं पाते वो मुजरिम . लेकिन आज तक ने कहीं से भी भाजपा के दागी विधायकों का नाम तक नहीं लिया ,सद्भावना नहीं दिखा रहा हूँ ,सच लिख रहा हूँ .
 
Liyaqat-babar Khan aaj tak ne 3 saal baad aasaram ka video dikhya ….3 saal se kya kar rahe the aaj tak wale …uss waqat to unhone maal bana liya tha
 
Alok Rai सच ये है की 40 इंसान मारे गए। और सीधी ज़िम्मेदारी नेतओं की है। किसी एक व्यक्ति विशेष को इस तरह से "डिफेंड" करना आपको शोभा नहीं देता अनस जी।
 
Mohammad Anas मान लिया जाए की सपा-भाजपा में मिली भगत है और मैं इसे मानता भी हूँ लेकिन कल के फर्जी स्टिंग को देखने के बाद भाजपा के लोग कहीं से नहीं फंस रहे हैं ,साफ़ तौर पर लगता है उन्हें क्लीन चिट दे दी गयी हो ,मैं विरोध आज भी करता हूँ की सपा ने वक्त रहते दंगों पर लगाम नहीं लगाईं लेकिन जो सच बात है उसे भी लिखना ज़रूरी है .
 
Vinay Soni आजम खान ने फ़ोन पर खुद पुलिस से कहा था की जो हो रहा है होने दो…. PunjabKesari:
http://www.punjabkesari.in/…
'दंगो पर आजम ने फोन कर कहा था कि जो हो रहा है होने दो'
www.punjabkesari.in
मुजफ्फरनगर में हुए सांप्रदायिक हिंसा को लेकर एक निजी चैनल के ऑपरेशन दंगा से अखिल…See more
 
Mohammad Anas मैं डिफेंड नहीं कर रहा हूँ ,आप लोग ऐसा कुछ न समझे ,मैं सिर्फ ये कह रहा हूँ की आज तक ने उन पांच भाजपाई विधयाकों के बारे में क्यों नहीं एक शब्द बोला ?
 
Mohammad Anas आजम खान की आवाज़ सुनाई नहीं दे रही है इसमें .. मैं कहूँ की नरेंद्र मोदी ने कहा था और उसे अखबार में छपवा दूँ तो क्या आप विशवास कर लेंगे ? सबूत प्रत्यक्ष रूप के प्रमाण को कहते हैं .,अपने से कुछ बना लिया जाए उसे नहीं …
 
The-Utkarsh Vaishnav शत् प्रतिशत सहमत….मोदी का प्रभाव वाकई में फ़ैल रहा है….सभी इंस्पायर हो रहे हैं…
 
Mohammad Anas आसाराम के स्टिंग आपरेशन में आसाराम की वीडियो फुटेज और उसकी आवाज़ के नमूने सारे देश ने सुने थे . यहाँ आज़म खान और उनका भूत भी नहीं है . हाँ आलोक ,उसी का प्रभाव है …See  
 
Deepak Kulshrestha Anas poori tarah ab biased ho chuke hain aur nirpeksh nahi hain, unke har lekh ka bhaav ek samudaay hee hota hai. wo kabhi bhi muslim kuritiyon or kattarta ke khilaaf nahi bolte, shayad unko dar lagta hai muslim samaaj ke gusse ka
 
Mohammad Anas बाकी मैं आजम खान और सपा सरकार की आलोचना करता हूँ की दंगों को फैलने से रोक नहीं सके ,और हमेशा ये बात कहता रहूंगा .
 
The-Utkarsh Vaishnav आसाराम वाला फर्स्ट पार्टी था ये थर्ड पार्टी….थोड़ा डिफ़रेंस तो आएगा ही…
 
Liyaqat-babar Khan jinkey againts FIR thi unhae arrest kare aur azam khan ne kaha hain ya nahi usse check kare …..kami to qanoon mainbhai sabki dhota hain aam janta ko chhodkar
 
Vinay Soni वाह भैया ..लगता है आपको आज़म बड़ा पसंद है।
 
Mohammad Anas ह़ा ह़ा ह़ा ,मुझे आज़म नहीं पसंद ,मैं चाहता हूँ की आज तक जिसने मामले को एक तरफ़ा कर दिया पूरे देश के सामने उसका सच आप जैसे कुछ सच्चे इंसानों के बीच में ला सकूँ .
 
Reetu Khan डिफेँड आप लोग कर रहे हैँ उन दोषी विधायकोँ का। नाम अनस का लगा रहे हैँ। अधूरा सच ज्यादा खतरनाक होता है।
 
Deepak Kulshrestha aap nahi laa sakte aap apni baato ko doosron ke upar thopne kee koshish karte hain
 
Asim Khan Shaabbash Mohammad Anas Kal raat se mujhe ek senior neta ka 2 baar sms aa chuka hai… ke Aajtak ka Muzaffarnagar sting operation dekhun… yeh sting bhi drama hai.. aur jitne bhi hn sab actor hn.. bolenge hum pe zulm hua aur khufiya camera aaj kal lagbhag sach hi maana jaane laga hai… magar mujhe khushi hai ke tum ne aur kaafi doosre saathi hn… muamley ko bhaanp lia.. yeh sad feesad yahi hai jo tum ne likha hai..
 
Vinay Soni आपकी सोच बड़ी अच्छी है उसकी हम सब सम्मान करते है लेकिन आपका 100% आज़म का साथ देना कुछ ठीक नही लगता !
 
Nadeem Shaukat Bik gaya h aaj tak.
 
Mohammad Anas भाई कितनी बार लिखूं की मैं समाजवादी सरकार या आज़म खान को डिफेंड नहीं कर रहा हूँ ,मैं बस ये कह रहा हूँ की आज तक की टीम जो बिक चुकी है उस पर विशवास करने से पहले आज तक जो भी खबरे आयीं है मुजफ्फरनगर से उस पर विश्वास करें … उसमे सरकार भी दोषी है और सबसे ज्यादा संघी लठैत जिन्होंने एक अमन पसंद शहर की फिजा में जहर घोल दिया .
क्या आप सभी ने वीडियो के टोन को जांचा परखा नहीं ? शुरुआत में स्क्रिप्ट चलती है ,कांग्रेस और सपा को बुरा कहा जाता है फिर उसके बाद फुटेज चलती है कादिर राणा की ,लेकिन क्या दीपक शर्मा को उन भाजपाइयों का फुटेज नहीं मिला जिन्होंने मुजफ्फरनगर को जलाया और पचास हजार के करीब लोगों को पलायन करने पर मजबूर कर दिया ?
 
Abul Fazal दंगा आज़म खाँन ने करवाया है., तो क्या तथाकथित देशभक्त विधायक अपनी अम्मा के शादी कि सीडी बना कर बाँट रहे थे।
 
Vinod Kumar Singh Aaj taq ne such sirf gujrat dangon ka dikhaya tha……aur usase modi ko bahut labh hua tha…. Aazam sab yadi khud bhi kah den ki han hamne karwaya tha tab bhi ye nahi mana ja sakta kyonki vo gusse me kuch bhi bol jate hain
 
Vinay Soni भाई फिर तो लोग ये भी सच ही कहते होंगे की ABP news भी बिक गयी है जो हमेशा मोदी के खिलाफ बोलती है।।।
 
Syed Qutub Uddin Ye mediya yani aaj tak apne patrakarita ka sauda kar chuki hai sawal ye paida hota hai ki Feku nd co. Ne kitni dalali di hogi sarm karo dalalon tum is democrasy ke chauthe astambh ho itna to khayal karo !
 
Vinay Soni लो शाहब अब तो खुश
PunjabKesari:
http://www.punjabkesari.in/…
 
Mohammad Anas बिलकुल खुश नहीं हूँ ,क्योंकि इस तरह की गिरफ़्तारी की खबर दस दिन से आ रही है ,जब पकडे जाए तो ख़ुशी मिलेगी ,सिर्फ मुझे ही क्यों ,आपको भी खुश होना चाहिए @विनय बाबू
 
Vinay Soni hahahaha
 
Faris Ansari Bagi Ye Sting Opration tha…Ya #Sangh Dwara Prayojit Karykaram….???..
Vinay Babu….lagta hai Aapne Post ko #RSS ka chashma Laga kar Read kiya hai….??….
 
Rajender Kumar Sharma Anas: I respect your intelligence and analysis. I won't even say you are biased. But just one suggestion: hatya kabhi maamuli Nahin hoti
 
Vinay Soni @Faris babu… अभी तक तो कोई चश्मा नही पहना है लेकिन शायद आपने ये कमेंट करके साबित कर दिया की बड़ी बात करने के लिए बड़ी मानसिकता की ही ज़रूरत होती है।।
शुक्रिया
 
Faris Ansari Bagi Vinay Babu…Aapka Pichhla comm. Aapke Chashme ki Gawahi de Raha hai…Anas bhai ne POST me Azam khan ki kahan Tareef ki hai….????
 
Deepak Kulshrestha Anas ka asli chehra sabke saamne aa gaya hai
 
Mohammad Anas मैंने कंवाल गाँव में हुई तीन ह्त्या को मामूली नहीं कहा है ,हम इसे भी आम तौर पर देश में हो रही रोजाना की हत्याओं की तरह देखने बात क्यों नहीं करते अगर उस घटना को मामूली समझ कर असली मुजरिमों को जेल भेजा गया होता तो यह दंगा होता ही नहीं लेकिन सियासी जमातो की वजह से अफ़सोस ऐसा नहीं हो पाया और घटना को सम्मान से जोड़ कर भड़का दिया गया , भाजपा के नेताओ ने नकार कर फर्जी वीडियों बनाई एवं पूरे शहर में प्रसारित करवाया जिसके बाद पचास से अधिक लोगों की जान चली गयी एवं हजारों बेघर हो गए Rajender Kumar Sharma
 
Imran Idris aakhir deepak sharma ji sab sach bolege
 
Rajender Kumar Sharma Anas sambhavat aap isse kissi bhee doosari hatya kee tarah "ek aur hatya" kehana chahate hen. Jo puri tarah durusta hey
 
Mohammad Anas Deepak Kulshrestha आप अपनी संघी मानसिकता की विषाणु यहाँ न फैलाए ,सबको मालूम है की अनस कौन हैं ,वह कभी किसी मुजरिम का पक्ष नहीं ले सकता ,मैंने बस आज तक पर ऊँगली उठाई है बाकी अगर आप किसे के पक्षधर नहीं होंगे तो मेरी पोस्ट को पढ़ कर मुझ पर कभी इस तरह का इल्जाम नहीं लगायेंगे . मैं आपके संघ वाला तो हूँ नहीं जिसे आप पसंद करेंगे .
 
Imran Idris आज तक के दीपक शर्मा कब से सत्यवादी हरिश्चंद्र हो गए …?? बस इतना बताये … कैसे ?? क्या वो सर्वोच्च न्यायलय के जज है या फ़रिश्ते है ..क्या है वो .??
 
Deepak Kulshrestha agar aapki kisi baat se koi sahmat na ho aur aapke vichaaron par ungli uthaa de wo sanghi ho jayega, ye soch hee ajeeb hai, I can just laugh
 
Mohammad Anas आप सिर्फ हंस सकते हैं,आपके हिस्से में मैंने वहीँ काम दिया है @दीपक जी … समाजवादी पार्टी को क्लीन चिट नहीं दे रहा हूँ न किसी और को ,सबकी भूमिका की जांच होनी चाहिए लेकिन इस संघी आज तक और भाजपाई दीपक शर्मा की भी ..
 
Dinesh Jindal anas bhi koi defend karna aap se seekhe….. lgta hai 7 aaropio ko pakadne aur unhe rihai ka aadesh wala vedio tape aap ne nahi dekha….
 
Umarah Aziz Uma Kant Misra's status. https://www.facebook.com/…/posts/1415376352018350
 
मुजफ्फनगर से प्राप्त ताजा जानकारी के अनुसार नगला गाँव में चल रही महा खाप पंचायत में जाट ही नही अपितु पूरा हिन्दू समाज '' सशस्त्र '' उमड़ गया हैं !!! कवाल में हुयी दो जाट युवको की शाहदत ने आज क्या राजस्थान , क्या हरियाणा , क्या यू.पी ,सभी को एक मंच पर ला खड़ा किया हैं !!! सूत्रानुसार आज मुजफ्फरनगर में एक भी मुल्ला दिखायी नही दे रहा हैं !!! हिन्दुओ की कुम्भ सरीखी भीड़ की आगे प्रशासन के हाथ पाँव फूले हुए हैं !!! लाठी , बल्लम , बन्दूको से लैस होकर हिन्दू ट्रैक्टरो में भर भर कर पहुंच रहे हैं !!! कठ मुल्लो के घर में सिर्फ महिलाये और बच्चे ही मौजूद हैं और उनके खाबिन्द अपनी मर्दानगी , अपनी कट्टरता अपने पिछवाड़े में दबाकर ना जाने कहाँ गायब हो गये हैं !!! आज काजम खान , बुखारी इत्यादि कहाँ मर गये सब के सब ??? आज का दिन तो इतिहास में फैसले का दिन साबित होना था ??? जब तक हैदराबाद से ओवेशी बन्धु ,, रामपुर से जम जम खान और मुजफ्फरनगर से मुखबिर राना का खात्मा नही होगा तब तक ये मुल्ले सुधरने वाले नही !!!
 
Mohammad Anas दिनेश जिंदल भाई ,सात आरोपी छोड़े गए ,यह बहुत ही बुरा हुआ . वे पकडे जाते यदि प्रेशर सिर्फ पकड़ने के लिए लगाया जाता पर किसान यूनियन और भाजपा के लोगों ने सारा प्रेशर दंगा भड़काने के लिए लगा दिया था . ऐसे में अगर आप 'छोड़े' जाने को इसका आधार बना रहे हैं तो मुझे आपसे सहानुभूति है .
 
Dinesh Jindal aur ab hum aapas me kyu tark aur kutark kare… is se apni katuta kyu badai…. balki haakimo ka gireba'n pakad kar unka farz yaad dilaaye'n… ye behtar hoga…..
 
Mohammad Anas आपस में तर्क इसलिए कर रहे हैं ताकि आज तक ने जो स्टिंग दिखया है उसका असली चेहरा और उसके पीछे के मकसद को आम जनता तक लाया जा सके . आज़म खान की आलोचना भी होनी चाहिए की सरकार उनकी है और वे भाजपा पर लगाम नहीं लगा पा रहे हैं लेकिन उससे पहले हमे भाजपा /संघ के लोगों को गिरफ्तार करके तोड़ाई करनी होगी . तभी कुछ सही हो पाएगा वरना नहीं .
 
Dinesh Jindal desh me mansik roop se souhard mitane wala samooh hai ye sangh.. anas bhai… ise kewal musalmaan bhai hi nahi balki 60% hindu bhi jante hain.
 
Ganesh Mishra Aazam khan 'nayak' ke amrish puri ki bhoomika mein tha…'kuch log marte hain to marne do…ghar jalte hain to jalne do…
 
Dinesh Jindal satya kaha aap ne ganesh jii…. magar sonchane wali baat ye bhi hai…. k isse unhe kya fayda hoga…. jiss sarkar k 1.5 saal k karyakal me 104 dange ho chuke hain… wo aur dange kyu chahega…. ye in netao k nagreeya chamcho ki chamchagiri ka nateeja hai…. ya in mantriyo'n ki kumbhkarneeya neend ka
 
Abbhay Pratap Singh आप इसी के तरह के पोस्ट डाल कर दंगे को किसी और दिशा में ले जाते है सवाल यहाँ प्रशासन पर दबाव का है भाजपा पर जब उत्तर प्रदेश सरकार कड़ा रुख नहीं अपना रही तो आज तक के स्टिंग को क्यों जिम्मेदारी दे रहे हां ये सवाल नहीं पुछा भाजपा से जुड़ा ये एक गलती है या क्या ये स्टिंग टीम ही बता सकती है पर सवाल ये है भाजपा के कहने पर तो दंगे नहीं होने दिया गया जरुर इसमें आजम नहीं तो कोई और सत्ताधारी बड़ा नेता शामिल है और रही बात आलोचना की तो काहे भाई सरकार को इतने में जाने दिया जाए हालाकि इसकी जांच आई बी कर ही रही विश्वास है तो सब सामने आ ही जायेगा अदालत में तो किसी का फ़ोन नहीं आता भाजपा विधायक हो या किसी भी पार्टी के कार्यवाई सबपर होने चह्हिये रही हुकुम सिंह की बात तो सोमपाल शास्त्री भी इसका खंडन करते है की उन्होंने भड़काया ( वो कह रहे हम नहीं ) अगर सी डी सोशल मीडिया पर कोई उपलब्ध करा दे तो हम भी राय दे सकते है …. हालाकि आज तक से मेरा कोई सरोकार नहीं है ,न ही मोदी से न भाजपा से वो एक सांप्रदायिक पार्टी है ) पर इस स्टिंग ने हमारे सामने दंगे की बहस को थोडा सही दिशा में ले जाने का प्रयास किया है बाकी आप पत्रकार है हमने अपनी समझ से बात कही (विशेष ध्यान अनस भाई – उम्मीद है इसे भी आप व्यग्तिगत लेंगे पहले की तरह )
 
Mohammad Anas ऊपर के सारे कम्नेट पढ़ ले ,आपको जवाब उसी में मिल जाएगा @अभय बाबू .
 
Ganesh Mishra Dinesh ji, siyasi fayada hoga…pahle dange bhadkayenge, phir kisi vishesh samuday par marham lagakar apna vote bank badhayenge…
 
Satyendra Tripathi yah acchi bat hai ki Ansa bhai aap Sanghio aur bhajpaio par barste hain magar yeh to samjhaiye ye log jo SP, BSP me samil hai ye kya chairty kar rahe the https://www.facebook.com/photo.php…
 
Dinesh Jindal ghudchaal aur bhedchaal ki politics
 
Mohammad Anas सत्येन्द्र जी ,मैं लगातार शुरुआत से इन विधयाकों की गिरफ्तारी की मांग कर रहा हूँ ,क्लीन चिट आज तक ने दिया है ,मैंने नहीं . जिन पर शुरू से ऊँगली उठ रही हो ,प्रत्यक्ष सबूत हों जिनके खिलाफ ,जिन्होंने सीडी बना कर बांटी वही असली मुजरिम हैं .
 
Abbhay Pratap Singh मुझे पता है यहाँ अपने आज तक की भूमिका पर लिखा है पर इसपर दीपक शर्मा से पहले बात करनी चाहिए थी उम्मीद है वो जवाब नहीं देते पर मेरा यहाँ इतना कहना है पुलिस बेवजह तो अपने नेताओ का नाम नहीं लेंगे क्या वो भी नमो नमो करते है सही सवाल उठाये है आप इसपर आज तक को जवाब देना चाहिए भी जवाबदारी बनती है चैनल पर न सही अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ही
 
Ashutosh Pandey सर,,जो भी हो आप की सकारात्मक सोच… से सपा को सीख लेनी चाहिए और फिर से कोई दंगा न हो प्रदेश में इसके लिए सजग रहना चाहिए
 
Satyendra Tripathi Anas bhaimain ye nahi kah raha ki aap unko na pakde jo isme involve hain magar unhe bhi jarur pakde jo satta ki and me baith ke khel khel rahe hain. dono pahlu pe sochne ki jarurat hai !
 
Mohammad Anas मैंने लगातार आलोचना की है आज़म खान की इस पूरे मामले में ,मेरे पिछले पोस्ट देख लें ,किसी तरह के सर्टिफिकेट की ज़रूरत नहीं है लेकिन आज तक ने जो माहौल बनाया है वह हर किसी के लिए अपच है यदि वह संघी न हुआ तभी वरना वह कल के स्टिंग का सिर्फ समर्थन कर सकता है और कुछ नहीं .
 
Bhagwant Ojha One question,why 7 prime suspects release from police station after getting a call from Lucknow. If I kill anybody than I am culprit but if i also killed by someone than my culprits also died with me and culprit is the person who kill me. Police officer not release these suspects without political pressure. These suspects are involved in double murder. Please understand this situation and revert.
 
Mohammad Anas @भगवत ओझा ,आज तक ने यह बताया था क्या आपको व्यक्तिगत की उन सातों को छोड़ने के लिए काल लखनउ से आती है ? बेतुके और झूठे कुतर्क न लिखे ,दूसरी बात उन्हें छोड़ने का विरोध मैं शुरू से कर रहा हूँ .
 
Imran Mohammad Syed Ali कवाल मे हुई छेड़खानी को दंगो की शुरुआत बताने वाले अब क्या करेंगे
लड़की ने खुद और उसके चाचा ने किया छेड़खानी से मना, कहा शहनवाज़ और गौरव की आपसी रंजिश को लड़की की छेड़खानी का नाम दिया गया, फेसबुकिये अब क्या कहेंगे जो किसी बात की वास्तविकता जाँचे बिना सिर्फ़ अफवाह फेलाना ही अपना काम समझते हैं.
सारांश – टाइम्स ऑफ इंडिया – 17-09-2013,,पेज-3,4.
 
Qamar Intakhab shabash anas …..accha likha..mai wahi tha ghar per muzaffarnagar mai kon zimmedar hai ye hindu or muslim dono jante hain .aajtak ne aajtak koie sachayi batayi hai.saale sab paid news pe tike hue hain.jo police wale dikh rahe hain unme se aise hi poli…See More
 
Mohammad Anas  दीपक शर्मा और आज तक ने कल के अपने स्टिंग से यह स्थापित करना चाहा की यदि कंवाल गाँव की घटना में जहाँ दो हिन्दू और एक मुसलमान युवक की जान जाती है में पकड़े गए सात लोगों को सियासी दबाव की वजह से नहीं छोड़ा गया होता तो दंगा न भड़कता ,मैं इस बात से सहमत हूँ । लेकिन क्या उन्ही दीपक शर्मा ने यह बताया या दिखाया की भाजपा के विधायकों एवं भाकियू के नेताओं ने अपना सारा प्रेशर फर्जी वीडियो को बनाने ,जाटों को एकत्रित करने में लगा दिया । यदि संघियों ने असली मुजरिमों को पकड़ने के लिए दबाव बनाया होता तो आज यह दिन नहीं देखने पड़ते लेकिन संघियों ने जिनका काम ही दंगा फसाद करना है ने ह्त्या की एक घटना को समुदाय विशेष पर हमले से जोड़ कर अपना चुनावी गणित ठीक करना चाहा और उसी कड़ी में कल रात को आज तक ने स्टिंग आपरेशन दिखा कर उनके पक्ष में माहौल भी तैयार करवा दिया । जियो दीपक शर्मा एंड कंपनी ,बहुत सही । उत्तर प्रदेश की जनता आपके इस जघन्य कारनामे के लिए आपको कोटि कोटि धन्यवाद ज्ञापित करती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *