आशुतोष को अपने साढ़े तीन सौ साथियों के निकाले जाने का जरा सा भी गम नहीं है

Samar Anarya : आप आशुतोष गुप्ता को जानते हैं? यह आईबीएन 7 वाले आशुतोष का पूरा नाम है. कल भाईसाहब अपनी पत्नी के साथ ऐम्बियांस मॉल गए थे. मद्रास कैफे का प्राइवेट प्रिव्यू देखने. मुफ्त में. देखी भी. फिर ट्विटर भर दिया अपनी ट्वीट्स से. खबर है कि शानदार दावत भी उड़ाई. बाकी उनकी किसी करतूत से लग जाय कि उनको अपने 350 साथियों के निकाल दिए जाने का जरा सा भी गम है तो मुझे भी बताइयेगा. शर्म उनको मगर न आती है. (फिर तैयार हूँ अब 12/24/48 घंटों के लिए ब्लाक होने को. पर तब तक आप इन सरोकारी साहब के सरोकार को दुनिया के सामने धर दीजियेगा. मेरे पास माँ है वाले अंदाज में).

xxx

Dilip Khan : ऐसा क्यों होता है कि बड़े मीडिया घराने के ख़िलाफ़ कुछ लिखते ही फ़ेसबुक खाता ब्लॉक हो जाता है। कल सुबह 10-11 बजे से मैं एक्सेस नहीं कर पा रहा था। पहली बार ब्लॉक हुआ था। आज Vineet Kumar का SMS आया कि उनका खाता ब्लॉक है। दैनिक भास्कर के मामले में पहले ही दो-चार लोग ऐसा भुगत चुके हैं। लेकिन इससे ख़ास फ़र्क़ नहीं पड़ता। अगले दिन हम अपना काम करेंगे और आप फिर अपना (ब्लॉक वाला)। हां, सतर्कता ये हो सकती है कि अब हर कोई डबल खाता बनाकर रखे। यानी अंबानियों के पिछलग्गू हमारा भी डबल रोल चाहते हैं।

समर और दिलीप के फेसबुक वॉल से.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *