इंफाल में पुलिस फायरिंग के दौरान पत्रकार की मौत की जांच हो : जेएफए

गुवाहाटी : इंफाल में मणिपुरी हीरोइन से छेड़छाड़ मामले पर हड़ताल के दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस की फायरिंग से पत्रकार की मौत पर जर्नलिस्ट फोरम असम ने गहरी संवेदना व्यक्त की। जर्नलिस्ट फोरम असम ने ओ इबोबी सिंह सरकार से अनुरोध किया है कि वह पुलिस फायरिंग में पत्रकार की मौत की घटना की जांच करें। जेएफए ने यहां एक बयान जारी कर मणिपुर सरकार से पत्रकार थांगजाम ननाओ सिंह के परिवार को मुआवजा देने की मांग की।

उल्लेखनीय है कि मणिपुरी हिरोइन से साथ छेड़छाड़ के विरोध में इंफाल बंद कर लोगों ने उग्र प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान नाराज लोगों ने एक पेट्रोल पंप में आग लगा दी और कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की। गौरतलब है कि 3 दिसंबर को एक म्यूजिकल प्रोग्राम के दौरान नागा उग्रवादी संगठन का लेफ्टिनेंट लिविंग स्टोन ग्रीन रूम में घुस आया और कपड़ा बदल रही मणिपुरी हेरोइन के साथ छेड़छाड़ की। इस उग्रवादी ने हिरोइन द्वारा विरोध करने पर उसकी पिटाई भी की। इस दौरान उसके बचाव में कुछ कलाकार भी पहुंच गए जिन्हें डराने के लिए उग्रवादी ने गोलियां चलाईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *