इशरत जहां फर्जी एनकाउंटर में आईपीएस सिंघल अरेस्‍ट

अहमदाबाद। सीबीआई ने गुजरात में इशरत जहां फर्जी एनकाउंटर केस में पहली गिरफ्तारी की है। उसने आईपीएस अधिकारी जीएल सिंघल को गिरफ्तार किया है। सिंघल इस समय क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो में एसपी के पद पर तैनात हैं। इस मामले में सीबीआई ने धारा 302 तथा 201 के तहत गुजरात पुलिस के 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। इसमें कॉन्स्टेबल से लेकर गुजरात पुलिस के तत्कालीन कमिश्नर तक शामिल हैं। ये मामला सीबीआई की मुंबई स्पेशल क्राइम यूनिट ने दर्ज किया है।

उल्‍लेखनीय है कि गुजरात में साल 2004 में इशरत जहां फर्जी मुठभेड़ मामले की जांच कर रही एसआईटी ने अपनी शिकायत सीबीआई को दी थी, जिससे ताजा प्राथमिकी दर्ज करने और मामले की जांच शुरू होने का रास्ता खुल गया था। गुजरात हाईकोर्ट ने एक दिसंबर को सीबीआई को निर्देश दिया था कि इस मामले में वह आगे की जांच करे। हालांकि गुजरात सरकार ने दावा किया था कि इशरत जहां के खिलाफ आईबी की ओर से खुफिया इनपुट मिला था। इसमें इशरत को संदिग्ध आतंकी बताया गया था। इशरत और अन्य लोग संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त थे। इशरत अलग-अलग होटलों में ऐसे लोगों के साथ रुकती थी जो बिल्कुल संदिग्ध थे। लश्कर ए तैयबा की वेबसाइट ने इशरत को शहीद का दर्जा दिया था हालांकि बाद में वेबसाइट से वो पेज हटा दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *