ईटीवी पर ऐसी ऐसी ब्रेकिंग चलाते हैं कि हंसी आने लगती है…

Harsh Vardhan Pande : मूर्धन्य पत्रकार जगदीश चन्द्रा की जन सरोकारी पत्रकारिता पर मैं फिदा हूँ। ब्रेकिंग चलाने का अगर उनको उस्ताद कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं …. ईटीवी पर ऐसी ऐसी ब्रेकिंग चलाते हैं कि हंसी आने लगती है… पिछले दिनों उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी की उजबेकिस्तान यात्रा के दौरान जगदीश चंद्रा ने पूछा सवाल- आपकी उजबेक यात्रा का मकसद क्या है? तो मुस्कुराने लगे हामिद अंसारी …

यही नहीं हमारे प्रधानमंत्री मनमोहन जब ईरान से वापस लौट आते हैं तो जगदीश चन्द्रा अपने चैनल में एक हफ्ते बाद खबर चलाते हैं- ''ईरान में मनमोहन ……जगदीश चंद्रा के साथ विमान में''.

ओबामा को अगर शांति का नोबल मिल सकता है तो भला हमारे मूर्धन्य पत्रकार जगदीश चंद्रा को विशेष विमान से ब्रेकिंग कराने के लिए नोबल पुरुस्कार क्यों नहीं? मुझे लगता है पूरी पत्रकार बिरादरी ने विशेष विमान से ब्रेकिंग करने के लिए जगदीश चंद्रा को नोबल पुरस्कार देने के लिए एक जनांदोलन करना चाहिए…
 
Abhishek Shukla : aap jis channel ki bat kar rahe hi us channel ki ek breaking sarkar hila deti hai
 
Harsh Vardhan Pande : ABHISHEK SHUKLA –जगदीश चंद्रा आजकल ईटीवी में खबरों के नाम पर किस तरह की चाटुकारिता कर रहे है शायद आप इससे वाकिफ नहीं हैं … विज्ञापनों के लिए वह हर सरकार के सामने नतमस्तक हैं …. सरकार के खिलाफ नहीं जा सकते हैं … मीडिया मैनेजमेंट के उस्ताद हैं … स्ट्रिंगरो से ब्लैकमेलिंग करवाने से भी पीछे नहीं हैं …. ई टी वी का स्तर दिनों दिन गिर रहा है … टी आर पी लुढक रही है फिर भी अपने को नम्बर १ बता रहे हैं …..
 
Abhishek Shukla : apki kuch bato se sahmat hua ja sakta hi. apki soch etv ke hit me hi. lakin apne jo jan andolan chalane ki bat kahi. mujhe lagta hi ye andolan pure media jagat ke liye chalana chahiye.

Abhishek Shukla etv to fir bhi kuch mamlo me thik hi
 
Maneesh Tiwari यार हर्ष बाबू दरअसल जगदीश चन्द्रा का ईटीवी को इतना योगदान है कि उन्होने रामूजी के घाटे में चल रहे उपक्रमों को फायदे में पहुँचाया …अब दुधारू गाय की लात सहने वाली कहावत तो तुमने सुनी ही होगी ….
 
Neha Pant ETV m ab pahli jaisi baat nahi rahi…….

पत्रकार हर्ष वर्द्धन पांडे के फेसबुक वॉल से.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *