एनडीए को बहुमत देने वाले एनडीटीवी की असलियत जान लें

Sanjay Tiwari : एनडीए को बहुमत देने के एनडीटीवी के ऐलान से मैं भी कम हैरान न था. सबसे 'बड़ा सत्य' सबसे बड़े आलोचक को कैसे दिख गया? अब समझ आया. मोदी की पीआर एजंसी एपको वर्ल्डवाइड हंसा रिसर्च के साथ मिलकर अपना काम बिल्कुल सही तरीके से अंजाम दे रही है. अब कहीं शक की कोई गुंजाइश ही नहीं बची. मोदी की सरकार बन रही है बे! सर्वे दिखाई नहीं देता है क्या? (वेब जर्नलिस्ट संजय तिवारी के फेसबुक वॉल से)

Samar Anarya : एनडीटीवी राजग गठबंधन को 275 सीट दे रही है. उसके लिए यह सर्वे हंसा पब्लिक रिलेशंस ने किया है. हंसा के पूर्व सीईओ तुषार पांचाल अभी मोदी की पीआर एजेंसी एप्को वर्ल्डवाइड के डायरेक्टर हैं. उनका लिंक्डइन प्रोफाइल देख सकते हैं… और कुछ कहें? (अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारवादी अविनाश पांडेय समर के फेसबुक वॉल से)

चैतन्य चन्दन : भाजपा विजयश्री का वरण करने के लिए इतनी प्रतिबद्ध है कि उसके लिए साम, दाम, दंड, भेद सभी हथकंडे अपना रही है. एनडीटीवी का ताज़ा सर्वे इसी का एक उदहारण है. ऐसे वक़्त में जब देश चुनावी प्रक्रियाओं से गुज़र रहा हो, मतदाताओं को भ्रमित करके किसी दल विशेष को फायदा दिलाने के मकसद से इस तरह के सर्वे करवाना बिलकुल ही उपरोक्त चैनल की नीयत पर सवाल खड़े करता है. मेरा इन न्यूज़ चैनल वालों से अनुरोध है कि कृपया मतदाताओं को उनके विवेक से वोट डालने दीजिये, अपनी राय उनपर थोपिये मत. (सीनियर डिजायनर चैतन्य चंदन के फेसबुक वॉल से.)
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *