एनडीटीवी के मालिकान झूठ बोल रहे हैं या बाल की खाल निकालने वाले!

: कानाफूसी : बात छोटी सी है लेकिन अलग नजरिए से देखा जाए तो काफी बड़ी बात भी है ये. मुद्दा है एनडीटीवी व अन्य कई चैनलों को संचालित करने वाली कंपनी न्यू देलही टेलीविजन लिमिटेड की एजीएम का. 27 सितंबर को इस कंपनी की एजीएम दिल्ली स्थित सीरी फोर्ट आडिटोरियम में हुई. इस एजीएम में कंपनी के मालिकान और शेयर होल्डर्स शरीक हुए. कंपनी ने अपनी तरफ से एक रिपोर्ट बनाकर नेशनल स्टाक एक्सचेंज को भेजा है, जहां यह कंपनी लिस्टेड है.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि एजीएम में कुल ग्यारह हजार नौ सौ उन्तीस (11929) लोग शरीक हुए. बस इसी संख्या-आंकड़े को लेकर कानाफूसी शुरू हो गई है. कई लोगों का कहना है कि सीरी फोर्ट आडिटोरियम की क्षमता ढाई हजार से ज्यादा लोगों की नहीं है तो कहां से ग्यारह हजार लोग यहां आ गए. इस मुद्दे को लेकर ट्विटर व फेसबुक पर अपने अपने तरीके से कनबतिया शुरू है.

लोगों का कहना है कि दूसरों को नैतिक व ईमानदार होने का उपदेश देने वालों को खुद के भी दामन पर लग रहे छींटे को साफ करने का प्रयास करते रहना चाहिए. फिलहाल सवाल यही है कि क्या एनडीटीवी के मालिक झूठ बोल रहे हैं या फिर बाल की खाल निकालने वाले उनके विरोधी? उम्मीद करते हैं कि एनडीटीवी से जुड़ा कोई व्यक्ति सच्चाई सामने लाएगा ताकि कानाफूसी खत्म हो सके.

एनडीटीवी की तरफ से नेशनल स्टाक एक्सचेंज को जो भेजा गया है, उसे देखने के लिए यहां क्लिक करें-

NDTV AGM1

NDTV AGM2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *