कमलवाणी रेडियो स्टेशन का आज शुभारम्भ करेंगे ओला

झुंझुनू : शेखावाटी क्षेत्र के प्रथम सामुदायिक रेडियो स्टेशन कमलवाणी 90.4 एफएम का शुभारम्भ आज 27 जुलाई को प्रात: 11:00 बजे कमल निष्ठा संस्थान कोलसिया में केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री शीशराम ओला द्वारा किया जाएगा। संस्थान के सचिव डॉ. डीपी सिंह ने बताया कि समारोह के विशिष्ठ अतिथि राजस्थान वक्फ बोर्ड के चैयरमेन लियाकत अली खान, पुद्दुचेरी के पुलिस महानीरिक्षक रणवीर सिंह कृष्णिया, पूर्व विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह, श्रीगंगानगर के पूर्व सांसद बीरबलराम, श्री सुखराज सिंह सलवारा, कोषाध्यक्ष-ग्रामोत्थान विद्यापीठ, संगरिया, प्रो.बी.एस.राठौड़, डीन, राजस्थान विष्वविद्यालय शामिल होंगे। समारोह की अध्यक्षता अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध संचालक पी.एस. जाट करेंगे। इस अवसर पर मुम्बई से आये राजस्थानी फिल्मों के प्रमुख कलाकार सतरंगी कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे।

कमलवाणी का संचालन झुन्झुनू जिले के कोलसिया गाँव में जिले की प्रमुख स्वयंसेवी संस्था कमलनिष्ठा द्वारा संचालित किया जा रहा है। कमलवाणी (90.4 एफएम रेडियो)े  जिले के 30 किलोमीटर तक के इलाकेमें प्रसारित होता है। इस रेडियो द्वारा प्रसारित कायक्रम को  झुंझुनू नवलगढ़, गुढ़ा, उदयपुरवाटी, मंडावा, सीकर व खाटूश्यामजी तक सुना जा सकता है। कमलवाणी महिला, पर्यावरण, शिक्षा, प्रौढ़-शिक्षा, जल संसाधन, वन्य प्राणि संरक्षण संबधी, भ्रूण हत्या व बाल विवाह से जुड़े मुद्दो पर कायक्रम प्रसारित करेगा। अभी कमलवाणी  भू्रण हत्या के खिलाफ एक कार्यक्रम प्रसारित कर रही है।

कमलनिष्ठा के प्रमुख डॉ. डी.पी. सिंह ने बताया कि 90.4 एफएम कमलवाणी शेखावाटी क्षेत्र का पहला सामुदायिक रेडियो स्टेशन है। इसके माध्यम से  क्षेत्र के गांवों में जागरूकता संबंधी कार्यक्रम चलाए जाएंगे। गौरतलब है कि कमलनिष्ठा संस्थान ने विभिन्न विषयों  के विशेषज्ञों  का एक पैनल तैयार किया है। इन्हें समय-समय पर कमलवाणी पर  बुलाकर विशेष वार्ताए प्रसारित की जाएंगी। इस संबंध में भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के साथ एक समझौता ज्ञापन तैयार कर लिया गया है तथा यूनीसेफ के साथ इसी प्रकार का एक समझौता ज्ञापन प्रस्तावित है। डा0 सिंह ने बताया कि आगामी 23 अगस्त को कमलनिष्ठा संस्थान को दिल्ली की एमेटी विश्वविद्यालय द्वारा समाज में जागरूकता फैलाने संबंधी योगदान के लिए सम्मानित किया जाएगा।

रमेश सर्राफ की रिपोर्ट.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *