क्‍या विवादों के बीच ही रहना चाहते हैं जस्टिस काटजू?

नई दिल्ली। भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष जस्टिस मार्कंडेय काटजू हमेशा ही अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। नरेन्द्र मोदी पर उनकी टिप्पणी से शुरू हुआ विवाद अभी थमा नहीं है, इसी बीच वे एक टीवी चैनल पर इंटरव्यू बीच में छोड़कर चले गए।

इंडिया न्यूज टीवी चैनल पर बातचीत के दौरान सोमवार को काटजू भड़क गए। चैनल के मुताबिक जजों के पोस्ट रिटायरमेंट जांच के सवाल पर काटजू नाराज हो गए और साक्षात्कार बीच में ही छोड़कर चले गए। उन्होंने सवालों के जवाब भी नहीं दिए।

काटजू का विवादों से नाता : उल्लेखनीय है काटजू कि पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं। काटजू ने पहले भी एक लेख में कहा था कि भारत में 90 फीसदी लोग मूर्ख हैं। उस समय उनके बयान का काफी विरोध हुआ था।

इतना ही नहीं उन्होंने मीडिया पर भी निशाना साधते हुए कहा था- न्यूज चैनल अपना ज्यादा समय इस बात पर लगाते हैं कि कौनसी अभिनेत्री गर्भवती है और किसने बच्चे को जन्म दिया। उन्होंने कहा था- राहुल द्रविड़ के संन्यास और राजेश खन्ना की मौत पर कुछ चैनलों ने 'हाइपर कवरेज' किया। उन्होंने यहां तक कह दिया कि इससे क्या फर्क पड़ता है कि राजेश खन्ना जिंदा हैं या नहीं।

सचिन तेंडुलकर को भारत रत्न से नवाजे जाने की बहस के बीच काटजू ने कहा था- खिलाड़ियों और फिल्मी हस्तियों को भारत रत्न देना इस सम्मान का मजाक उड़ाना होगा और इससे इस पुरस्कार की गरिमा कम होगी क्योंकि इन लोगों का कोई सामाजिक सरोकार नहीं होता। (वेबदुनिया)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *