गोंडा में गूगल के सीईओ के खिलाफ धोखाधड़ी व जालसाजी का मुकदमा

गोंडा : सोशल साइट गूगल के सीईओ के खिलाफ यहां के नगर कोतवाली में धोखाधड़ी व जालसाजी के लिए प्रेरित करने का मुकदमा दर्ज कराया गया है। यह मुकदमा राघवेन्द्र प्रताप पाण्डेय पुत्र स्व. श्री गोपाल चंद्र पाण्डेय की ओर से नगर कोतवाली में दी गयी तहरीर के आधार पर दर्ज किया गया है। प्राथमिकी में राघवेन्द्र प्रताप ने कहा है कि गूगल पर फोन फेरिक साफ्टवेयर लोड है साथ ही इसका प्रयोग कोई भी व्यक्ति मोबाइल में डाउनलोड कर मनचाहे कालर नम्बर से किसी को भी फोन कर सकता है। इससे उसका नम्बर फोन करने वाले के मोबाइल में नहीं जायेगा बल्कि जिस कालर का नम्बर वह प्रयोग करना चाहता है उसका नम्बर जायेगा।

इस प्रकार किसी दूसरे के नम्बर का प्रयोग करके किसी को भी फोन किया जा सकता है। श्री पाण्डेय ने प्राथमिकी में कहा है कि इस साफ्टवेयर की कार्यपण्राली से देश की सुरक्षा को खतरा होने की आशंका है। साथ ही इसका जालसाजी व गलत कार्य में प्रयोग किया जा सकता है। श्री पाण्डेय की प्राथमिकी के आधार पर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 816/12 पर धारा 420 आईपीसी व 66 (सी), 66 (डी), 66 (एफ) आईटी एक्ट के तहत दर्ज कर लिया है। इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक कृपा शंकर सिंह का कहना है कि उन्हें मामले की पूरी जानकारी है। इसमें फोन फेरिक नामक साफ्टवेयर मोबाइल पर डाउनलोड करने पर मोबाइल नम्बर का परिचय छिपा लेता है। मुकदमें की जांच के लिए सब इंस्पेक्टर को आईपीसी व सीआरपीसी में अधिकार है। यदि जरूरत हुई तो ऊपर से भी सहयोग लिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *