चंचल डी रॉय की फिल्म “डेड लाइफ इन ए मेट्रो” को बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड

कल शाम दिल्ली के पीएसके ऑडिटोरियम में शॉर्ट फिल्म्स ऑफ इंडिया की तरफ से अवॉर्ड फेस्टिवल का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में 23 शॉर्ट फिल्मों को अलग अलग कैटेगरी में सम्मानित किया गया. इस फिल्म फेस्टिवल में देश भर की 150 फिल्में शामिल हुईं जिनमें से चुनी गई सर्वश्रेष्ठ 13 फिल्मों को अवॉर्ड सेरेमनी में बड़े पर्दे पर दिखाया गया. चंचल डी रॉय की फिल्म "डेड लाइफ इन ए मेट्रो" को बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला. सुपर्णा सरकार और सलीम खान को शॉर्ट फिल्म "दिल्ली 16 दिसंबर 2012" के लिए बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड दिया गया. 

फर्स्ट रनर अप का अवॉर्ड फिल्म "यूं ही हर रोज़" के लिए रूहीन रविंद्रन नायर को मिला वहीं सेकंड रनर अप के लिए रमनदीप सिंह ने अपनी फिल्म ब्रोकन ड्रीम्स के जरिए अवॉर्ड जीता. अवॉर्ड सेरेमनी और फिल्मों की स्क्रीनिंग के कार्यक्रम में न्यूज़ २४ के मैनेजिंग एडिटर अजीत अंजुम, इंडिया टीवी के मैनेजिंग एडिटर विनोद कापड़ी, सब टीवी के राशेष पुरोहित, मशहूर थियेटर एक्टर डायरेक्टर भारती शर्मा और फिल्म निर्देशक नितिन भारद्वाज शरीक हुए.  शॉर्ट फिल्म्स ऑफ इंडिया साल में दो बार शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल का आयोजन करती है जिसमें नई प्रतिभाओं और स्वतंत्र फिल्म निर्माताओं को अपना हुनर दिखाने का मौका मिलता है. जुलाई में समर फेस्टीवल के बाद अब दिसंबर में विंटर शॉर्ट फिल्म फेस्टीवल का आयोजन किया जाएगा.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *