चली गईं अंशुमाला झा… श्रद्धांजलि… (देखें एक पुराना इंटरव्यू)

युवा और चर्चित लोक गायिका अंशु माला झा का निधन हो गया. उनके इस दुनिया में न रहने के बारे में सूचनाएं सोशल मीडिया पर शेयर हुईं और फिर देखते ही देखते उनके प्रशंसकों, जानने वालों में श्रद्धांजलि देने की होड़ लग गई. अंशु ने बेहद मुश्किल जीवन गुजारा और लोक गायिकी को अपना ईमान बनाए रखते हुए पिछले कुछ वर्षों से लगातार खराब स्वास्थ्य से दो-चार होती रहीं. पर अंततः मौत ने उनके हिस्से की बड़ी जिंदगी छीन ली और असमय ही उन्हें हम लोगों के बीच से उठा लिया. अंशुमाला के बारे में फेसबुक पर प्रकाशित कुछ श्रद्धांजलि यूं है….

Vijay Srivastava : हम समझ गये जी, आप जाने कब यूं चुपके-चुपके ईश्वर से प्रीत लगा बैठीं. बाहें फैलाईं आपने, और ईश्वर ने आपको अपने पास बुला लिया. ईश्वर का ये धोखा हम कैसे भूलेंगे. जब हम आयेंगे तो आपसे और ईश्वर से दोनो से पूछेंगे. अशेष श्रद्धांजलि.

Rakesh Ranjan : एक बहुत ही दुखद समाचार फेस बुक पर ही अविनाश दास जी के द्वारा प्राप्त हुआ की अब अंशुमाला झा नहीं रही.जब दिल्ली के अस्पताल में कई दिनों तक भर्ती थी तब लगातार तबियत की जानकारी लेता रहा..लेकिन आज अचानक जानकर बहुत दुःख हुआ.ये भी अपने पति से प्रताड़ित रही है.जब दिल्ली के अस्पताल में जिन्दगी और मौत से जूझ रही थी तभी भी पति कही नहीं आया. अंशुमाला जी आज भी फेस बुक पर अपने हँसते खिलखिलाते चेहरे के साथ मौजूद है लेकिन अब जबाब कभी नहीं दे पायेगी! ईश्वर इनकी आत्मा को शांति प्रदान करे.

Mayank Saxena : उन से पहली बार मुलाक़ात जेएनयू में हुई थी…याद नहीं पड़ता शायद वहीं…फिर मंडी हाउस पर भी मिला एक दो बार…फिर उनके बारे में सुनता पढ़ता रहा…एक बार सोचा कि फेसबुक पर जोड़ लूं तो पता चला कि बीमार हो गई हैं…उधर Yashwant Singh और बाकियों ने उनके बारे में कैम्पेन के बारे में बताया…भड़ास के कार्यक्रम में उनके गाने का कार्यक्रम भी रद्द करना पड़ा… ज़िंदगी…हम लोगों की ज़िंदगी चलती रही और अंशुमाला Anshu Mala Jha की ज़िंदगी संघर्ष करती रही मौत से…हम लोग न जाने क्या क्या करने में मशगूल रहे और हमारे बीच की संभवतः सबसे अद्भुत गायिकाओं में से एक अंशुमाला झा का देहांत हो गया…आवाज़ें शायद कभी मरती नहीं हैं…लेकिन विचारों के मरने का सिलसिला हम सबके भीतर एक साथ लगातार जारी है… अंशुमाला…एक शर्मिंदा मनुष्यों की हमारी क़ौम की ओर से एक बेशर्म अंतिम सलाम कुबूल करें…

Santosh Singh : आज फेसबुक के फ्रेंड लिस्ट में शामिल दोस्तों में से एक का असमय मौत की खबर सुनकर अजीब लग रहा है…फेसबुक के माध्यम से ही सही, अंशुमाला झा से पिछले कुछ दिनों से जुडा था और उनकी प्रतिभा और जीवन में संघर्ष करने के उनके जज्बे का कायल था ..उनका ऐसे एकाएक चले जाना हमलोगों के लिए तो क्षति है ही, कला-जगत खासकर मैथिलि कला-जगत के लिए अविस्मरणीय क्षति है. मेरी भावभिनी श्रधांजलि…Rest in Peace, NOBLE SOUL

Aseem Trivedi : Anshu Mala Jha हमारे बीच से चली गयीं. आख़िरी बार, कुछ दिन पहले उनसे अस्पताल मे मुलाक़ात हुई थी. वो ठीक हो रही थीं और बिहार में अपने घर जाकर कुछ दिन आराम करना चाहती थीं. बहुत गंभीर हालत में रहने के बाद रिकवर कर रही थीं. बहुत सी बातें हुईं, काफी सारा हंसी मजाक भी. और आज अचानक पता लगा कि वो चली गयीं, हमेशा के लिए. उनसे पहली मुलाक़ात जंतर मंतर पर दामिनी आंदोलन के दौरान हुई थी. उन्हें गुस्से मे नारे लगाते देखकर कोई अंदाज़ भी नहीं लगा सकता था कि वो एक गायिका थीं. उनकी आखों से गुस्सा और दुःख टपकता दिखता था. लगातार कई दिन तक अपने साथियों के साथ जंतर मंतर पर डटी रहीं और उसी दौरान पता लगा कि वो मैथिली की लोकगायिका हैं. बाद मे पता लगा कि उन दिनों ही वो धीरे धीरे बीमार पड़ रही थीं. एक कठिन जीवन यात्रा के बाद भी उनका हंसमुख अंदाज़ आपको एक पल में ही चिंताओं से बाहर ले आने वाला था. गिनती की मुलाकातें और मुट्ठी भर बातें, बस इतना ही मेरे हिस्से आया, हमेशा के लिए यादों में महफूज़ रहने के लिए. पिछले कई दिनों से उनसे बात करने के करने को सोच रहा था. एकाध बार न. भी ट्राई किया. पर पूरा प्रयास नहीं कर पाया. और बस, इसी बीच आज उनकी यात्रा समाप्त हो गयी. आश्चर्य है कि कोई भी कभी भी जा सकता है, कहीं दूर. कभी न लौटने के लिए. इसी साल पटना से अर्चना जी के जाने की खबर आयी. फिर हाल ही मे संतोष जी और अब अंशुमाला जी. कोई भी कभी भी चल देगा और हम अपनी व्यस्त ज़िंदगी मे यूं ही फसे रह जायेंगे. निजी योजनाओं और काम के बोझ में दबे हुए. सलाम ज़िंदगी, अलविदा अंशुमाला जी.

अंशुमाला की गायिकी और उनके व्यक्तित्व के बारे में आप इन तीन वीडियो को देखकर जान समझ सकते हैं…

http://bhadas4media.com/video/viewvideo/748/interview-personality/anshumala-jha-1.html

http://bhadas4media.com/video/viewvideo/747/interview-personality/anshumala-jha-2.html

http://bhadas4media.com/video/viewvideo/749/interview-personality/anshumala-jha-3.html


अंशुमाला के बारे में भड़ास पर प्रकाशित कुछ पोस्ट यूं हैं..

अंशुमाला झा की दवाइयों पर रोजाना सात हजार रुपये का खर्च आ रहा
 
 अंशुमाला झा के इलाज का खर्च माफ कराने की कवायद
 
 मेरी खराब सेहत की वजह मेरा पति है, उससे तलाक दिलवाओ : सिंगर अशुमाला झा
 
 लोक गायिका अंशुमाला झा फिर से गंभीर रूप से बीमार, आर्थिक मदद तुरंत चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *