जमीन के लिए मुसहरों ने निकाली पदयात्रा, कमिश्नर दफ्तर पर महापंचायत

गोरखपुर। हल्की लू के थपेड़ों और चिलचिलाती धूप में महराजगंज जिले से मंगलवार को गोरखपुर पहुंचे मुसहर समुदाय के लोगों ने अपने हक के लिए पदयात्रा निकाली और महापंचायत की। शहर के डा. भीमराव अम्बेडकर पार्क में सुबह 5 बजे से ही मुसहर इकट्ठा होना शुरू हो गए थे। स्वयंसेवी संस्था एडब्लूओ इंटरनेशनल, मानव सेवा संस्थान ‘सेवा’ और सेवा मुसहर विकास समिति के संयुक्त तत्वावधान में यह आयोजन अपराह्न एक बजे से शुरू हुआ।

कौशल्या मुसहर की अगुआई में समुदाय के सैकड़ों लोगों ने अम्बेडकर पार्क से पदयात्रा शुरू की। लू के मारे चलना मुश्किल हो रहा था लेकिन मुद्दा पेट से जुड़ा था, लिहाजा धूप की परवाह किसे थी? मुसहरों की मांग है कि चूंकि वे भूमिहीन है लिहाजा गांवों में मौजूद सीलिंग और नजूल की जमीन पर उन्हें कब्जा दिया जाना चाहिए। यह समुदाय खुद के लिए विशेष समुदाय का दर्जा चाहता है।

इन दोनों मुद्दों पर निकली पदयात्रा पैडलेगंज चौराहा, छात्रसंघ चौराहा और रोडवेज होते हुए 4 किलोमीटर का सफर तय करके अपराह्न दो बजे के करीब कमिश्नर कार्यालय पहुंची। कमिश्नर कार्यालय पार्क में मुसहरों ने महापंचायत की और अपनी मांगों को पूरा करने के लिए प्रशासन से गुहार लगाई।

कमिश्नर जेपी गुप्ता चूंकि अवकाश पर थे, इसलिए गोरखपुर के सिटी मजिस्ट्रेट गिरिजेश कुमार त्यागी को मुसहरों के बीच भेजा गया। महापंचायत ने श्री त्यागी को वह पत्रक सौंपा जो कमिश्नर के नाम सम्बोधित था। सिटी मजिस्ट्रेट ने आश्वस्त किया कि मुसहरों की मांगें पूरी कराने के लिए वे अपने स्तर से भी प्रयास करेंगे। इस अवसर पर मानव सेवा संस्थान के एडवोकेसी एंड लाइजनिंग ऑफिसर वेद प्रकाश पाठक, परियोजना समन्वयक शत्रुजीत सिंह, जीपी त्रिपाठी, सहायक परियोजना समन्वयक चंद्रशेखर सिंह, अश्वनी मिश्रा, दुर्गेश कश्यप, कार्यकर्ता सुधीर दूबे, रमेश त्रिपाठी, राजीव तिवारी और योगेन्द्र सिंह चौहान प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *